उग्र भीड़ ने तीन लोगों को रस्सी से बांधकर पीटा

2019-06-28T06:00:03Z

NOAMUNDI: पश्चिमी सिंहभूम के नोवामुंडी थाना क्षेत्र के कु¨टगता गांव के लोगों ने बकरी चोरी कर ले जाते तीन चोरों को रंगे हाथों पकड़ा और रस्सी से बांधकर पिटाई कर दी। मौके पर पहुंची पुलिस तीनों युवकों को ग्रामीणों के चंगुल से बचाकर थाना ले आई। ग्रामीणों के डर से भाग रहे तीनों युवक गिरने से जख्मी हो गए थे। थाने में गांव के मुंडा मनोज तिरिया के बयान पर रेंगाड़बेड़ा गांव के अनिल बोबोंगा, खैरपाल के बालियापोसी गांव के संदीप ¨सकू व सेलदौरी गांव के शक्ति लागुरी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर जेल भेज दिया है। पुलिस ने हिरासत में लेकर भागने के दौरान जख्मी हुए युवकों को रुतागुटू रेफरल अस्पताल में इलाज करा दी है। पुलिस ने आरोपितों की बाइक जब्त कर ली है। घटना नोवामुंडी थाना क्षेत्र के कु¨टगता गांव में बुधवार की देर रात करीब तीन बजे की है।

खस्सी लेकर भागने लगे

घटना के संबंध में मुंडा मनोज तिरिया ने बताया कि तीनों युवक काले रंग की बाइक पर सवार होकर देर रात करीब तीन बजे कु¨टगता मुंडा टोला पहुंचे और मौका पाकर मुंडा के बरामदे में सो रहे एक खस्सी को लेकर लेकर भागने लगे। भनक लगते ही मुंडा ने शोर मचाकर लोगों को जगाया। इस बीच दो युवक खैरपाल के संदीप ¨सकु व सेलदौरी के शक्ति लागुरी बाइक से भाग गए, लेकिन ग्रामीणों ने रेंगाड़बेड़ा गांव के अनिल बोबोंगा को पकड़ लिया। अनिल को रस्सी से बांधकर ग्रामीण उसके दोनों साथियों को खोजने लगे। पकड़े गए युवक के मोबाइल से संपर्क साधा गया तो पता चला कि दोनों नोवामुंडी में चाय की दुकान पर बैठे हैं। इसके बाद ग्रामीणों ने वहां पहुंच कर दोनों को दबोच लिया। फिर गांव में लाकर उन्हें भी रस्सी से बांध दिया और तीनों की जमकर पिटाई की। इस बीच कुछ लोगों ने पुलिस को सूचना दे दी। इसके बाद पुलिस गांव पहुंची। ग्रामीणों के अनुसार, अनिल बोबोंगा की पांच घंटे और उसके साथियों की दो घंटे पिटाई की गई। यही नहीं उनके कपड़े भी खोल दिए।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.