डिफेंस कॉरीडोर से ढाई लाख बेरोजगारों को मिलेगा रोजगार राजनाथ

2019-08-25T11:41:45Z

रक्षामंत्री का कहना है कि यूपी डिफेंस कॉरीडोर का काम शुरू हो चुका है सरकार ने 900 एकड़ जमीन एक्वायर कर ली है अब लखनऊ में होने वाले 'डिफेंस एक्सपो' से प्रोजेक्ट रफ्तार पकड़ेगा

- रक्षामंत्री ने कहा, फरवरी में राजधानी में होगा डिफेंस एक्सपो

- छोटी-बड़ी मिलाकर राज्य में पांच सौ औद्योगिक इकाइयां लगेंगी

लखनऊ (ब्यूरो)। 'यूपी में प्रस्तावित डिफेंस कॉरीडोर से ढाई लाख बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा.' यह कहना है देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का. वे शनिवार को लखनऊ पूर्वी विधानसभा क्षेत्र के 'जनसमागम' में कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि यूपी डिफेंस कॉरीडोर का काम शुरू हो चुका है, सरकार ने 900 एकड़ जमीन एक्वायर कर ली है. अब लखनऊ में होने वाले 'डिफेंस एक्सपो' से प्रोजेक्ट रफ्तार पकड़ेगा.

फरवरी में होगा डिफेंस एक्स्पो
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि डिफेंस कॉरीडोर में लखनऊ के अलावा कानपुर, झांसी, चित्रकूट, अलीगढ़, आगरा और लखनऊ भी है. डिफेंस कॉरीडोर में कई बड़ी हथियार उत्पादक विदेशी कंपनियों ने निवेश में इच्छा जताई है. इसमें डिफेंस क्षेत्र की अमेरिकन कंपनी लॉकहीड मॉर्टिन भी शामिल है. यह कंपनी एडवांस फाइटर जेट बनाती है. रक्षामंत्री ने बताया कि फरवरी में लखनऊ में होने वाले पांच दिवसीय डिफेंस एक्सपो का आयोजन होगा. जिसमें बड़े डिफेंस उद्योगपतियों का जमावड़ा होगा. आउटर ¨रग रोड के आसपास भी उद्योग लगेंगे.

2024 तक हर घर में जलापूर्ति
रक्षामंत्री ने कहा कि लखनऊ के विकास के लिए 1100 करोड़ रुपये की मंजूरी हुई है. इसमें 298 करोड़ रुपये से एसटीपी बनेंगे. यह गोमती में गंदा पानी जाने से रोकेंगे. वहीं 2024 तक राजधानी के हर घर में स्वच्छ जलापूर्ति होगी. 104 किमी की आउटर ¨रग रोड और पांच फ्लाइओवर शहर को जाम की समस्या से निजात दिलाएंगे. उन्होंने कहा कि जनता ने कांग्रेस की सत्ता बदलकर जिम्मेदार सरकार बनाई है. अब हम व्यवस्था बदलेंगे. नई सरकार बनते ही दूसरे दिन से बड़े फैसले लेना शुरू किए गए. कश्मीर में धारा 370, 35ए हटाई गई. तीन तलाक पर कानून बनाकर मुस्लिम बहनों को अधिकार दिलाया गया. उन्होंने तीन तलाक के मसले पर पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की सरकार में शाहबानो केस का हवाला दिया. साथ ही कश्मीर मसले पर 1964 में संसद से 370 व 35 ए पर पास किए गए प्रस्ताव की जानकारी दी. कार्यक्रम में शहरी विकास मंत्री आशुतोष टंडन, महापौर संयुक्ता भाटिया समेत अन्य पदाधिकारी रहे.
lucknow@inext.co.in


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.