अचानक से सिंचाई भवन पहुंचे सिंचाई मंत्री ने गेट कराया लॉक द‍िया 69 कर्मचारियों का वेतन काटने का आदेश

2018-05-16T13:10:17Z

उत्‍तर प्रदेश में सिंचाई भवन में अध‍िकार‍ियों व कर्मचार‍ियों को हीलाहवाली करना महंगा पड़ गया है। यहां औचक दौरे में गंदगी की भरमार देख स‍िंचाई मंत्री का नाराज हुए। इसके अलावा 69 गैरहाजि‍र कर्मचारि‍यों व अधिकारि‍यों का वेतन काटने का आदेश दे द‍िया। यहां पढ़ें पूरा मामला

सिंचाई भवन के मुख्य गेट पर ताला डलवा दिया
lucknow@inext.co.in  
लखनऊ।
उत्तर प्रदेश में सिंचाई भवन का औचक निरीक्षण करने पहुंचे सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह को 69 कर्मचारी व अधिकारी गैरहाजिर मिले जिसके बाद उनका एक दिन का वेतन काटने का आदेश जारी कर दिया गया। मुख्यालय में गंदगी व अव्यवस्था देखकर भड़के सिंचाई मंत्री ने सभी से जवाब तलब भी किया है। मंगलवार को सुबह करीब सवा दस बजे मंत्री धर्मपाल सिंह अचानक सिंचाई भवन पहुंच गए और मुख्य गेट पर ताला डलवा दिया।
तमाम सीटों पर कर्मचारी मौजूद नहीं मिले
एचओडी भूपेंद्र शर्मा को साथ लेकर मंत्री ने निरीक्षण शुरू किया तो तमाम सीटों पर कर्मचारी मौजूद नहीं मिले। संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर मंत्री ने उपस्थिति पंजिका कब्जे में ले ली। निरीक्षण में फाइलें बिखरी देख कर्मचारियों से कार्यशैली सुधारने की हिदायत दी। जगह-जगह पान की पीक व गंदगी की भरमार देख उन्होंने नाराजगी जताते हुए कहा कि स्वच्छता अभियान चलने के बाद भी कार्यालयों में सफाई नहीं होना दुर्भाग्यपूर्ण है।

30 साल बाद बीजेपी ने 2014 में पूर्ण बहुमत से रचा था इतिहास, सरकार के 4 साल पूरे

कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर सहस्रबुद्धे को भरोसा, बोले राज्यपाल देंगे बीजेपी को मौका


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.