सादगी से घरों पर ही मनाएं गुरुनानक देव जयंती, कोरोना दूर करने की करें अरदास

Updated Date: Mon, 30 Nov 2020 12:02 PM (IST)

- गुरुद्वारों में नहीं होगा लंगर और आतिशबाजी, प्रधानों ने संगत से की अपील

- कड़ाह प्रसाद का होगा वितरण, मत्था टेकने में करें शारीरिक दूरी का पालन

आगरा: कोरोना काल में गुरु नानक देव जयंती सादगी से मनाई जाएगी। गुरुद्वारों में इस साल लंगर और आतिशबाजी नहीं होगी.शहर के प्रमुख गुरुद्वारों के प्रधानों ने संगत से घरों में रहकर पाठ करने की अपील की है।

इस साल सभी ने आपसी सहमति से निर्णय लिया था कि सादगी से गुरुनानक देव जयंती मनाई जाएगी.संगत से भी अपील की गई है कि वे अपने घरों में ही रहें और गाइडलाइंस का पालन करें- संत बाबा प्रीतम सिंह, प्रमुख, गुरुद्वारा गुरु का ताल व गुरुद्वारा दमदमा साहिब

गुरुद्वारे में इस साल मत्था टेकने के लिए आने वाली संगत से शारीरिक दूरी का पालन करवाया जाएगा.फेसबुक पर कीर्तन का लाइव किया जाएगा। गुरुद्वारे की फूलों से सजावट की गई है- कंवलदीप सिंह, प्रधान, गुरुद्वारा माईथान

कोरोना काल में गुरुद्वारे में कीर्तन दरबार सुबह ही सजेगा। संगत से अपील की गई है कि वे मत्था टेकते समय भी शारीरिक दूरी का पालन करें- बंटी ग्रोवर, महासचिव, गुरुद्वारा नया बांस, लोहामंडी

इस साल संगत को घर पर ही गुरु नानक देव जयंती मनानी चाहिए। पाठ करें और कोरोना दूर करने की अरदास करें.गुरुद्वारे में अखंड पाठ साहिब का पाठ होगा, कड़ाह प्रसाद का वितरण होगा.- नरेंद्र सिंह लालिया, प्रधान, गुरुद्वारा मधुनगर

इस साल गुरुद्वारों में लंगर नहीं होगा। अमृतवेले कीर्तन होगा। सर्वसम्मिति से यह फैसला लिया गया था.- रमन साहनी, प्रधान,गुरुद्वारा कलगीधर,सदर

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.