अगस्त के बाद पहली बार सिर्फ तीन में मिला कोरोना

Updated Date: Thu, 21 Jan 2021 12:40 PM (IST)

इस समय कोरोना की स्थिति

83 एक्टिव केस

10448 कुल केस

10194 ठीक हुए पेशेंट्स

171 की हुई मौत

-----------------

जनवरी में कोरोना

267 में मिला कोरोना

193 हुए स्वस्थ

40 हजार की हुई जांच

01 पेशेंट की हुई मौत

आगरा। कोरोनावायरस के केसेज में बड़ी राहत मिली है। बुधवार को संक्रमण के सिर्फ तीन नए मामले ही सामने आए, जो अगस्त के बाद पहली बार हुआ है। इससे पहले 11 अगस्त को संक्रमण का कोई भी मामला सामने नहीं आया था। कोरोना के नए मामलों में भले ही गिरावट आई हो, लेकिन अब भी सतर्क रहने की जरूरत है।

100 में एक की रिपोर्ट पॉजिटिव

कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए हेल्थ डिपार्टमेंट द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसके लिए कोविड की जांच लगातार की जा रही हैं। आगरा में डेली दो हजार से अधिक लोगों की कोरोना जांच की जा रही है। जनवरी में अब तक 40 हजार से ज्यादा सैंपल लिए जा चुके हैं। इसमें से अब तक 267 पेशेंट्स में कोरोनावायरस का संक्रमण मिला है। 37033 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई। वहीं जनवरी में कोरोना पेशेंट्स की मौत पर भी लगाम लगी है। अब तक एक ही पेशेंट की मौत हुई है। अब जिले में 83 एक्टिव पेशेंट हैं, इनमें से 6 पेशेंट्स का इलाज कोविड हॉस्पिटल में चल रहा है और अन्य 77 पेशेंट्स का उपचार होमआइसोलेशन में चल रहा है।

सितंबर में सबसे अधिक केस

कोरोनावायरस का संक्रमण अनलॉक होने के बाद से लगातार बढ़ रहा था। अगस्त में इसकी रफ्तार में तेजी आई। सितंबर में तो अब तक के सबसे ज्यादा 2818 संक्रमित केस मिले। अक्टूबर में 1528 लोगों में कोरोना का संक्रमण मिला। नवंबर में ये संख्या बढ़कर 2004 हो गई। इसके बाद दिसंबर में 801 पेशेंट्स में कोरोनावायरस का संक्रमण मिला।

इस तरह रहा कोरोना का ग्राफ

मार्च 12

अप्रैल 441

मई 439

जून 380

जुलाई 566

अगस्त 1145

सितंबर 2818

अक्टूबर 1528

नवंबर 2004

दिसंबर 801

जनवरी 267

अब भी रहें सतर्क

कोरोनावायरस का संक्रमण काबू में जरूर आ रहा है, लेकिन इससे बचने के लिए अब भी बचाव के उपायों को फॉलो करना जरूरी है। हेल्थ डिपार्टमेंट और प्रशासन भी इसको कंट्रोल करने के लिए लगातार काम कर रहा है। लेकिन, इसके लिए हमें खुद को सतर्क रखने की जरूरत है। एक्सप‌र्ट्स का मानना है कि इस बीच कोरोना का नया स्ट्रेन आ गया है, जो कोरोना के खतरे को बढ़ा सकता है। इसलिए इन दिनों ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। कोरोना से बचाव के उपायों में हमें ढील नहीं बरतनी चाहिए। जब भी घर से बाहर जाएं तो हमेशा मास्क पहन कर ही जाएं। बाहर भी फिजिकल डिस्टेंस का विशेष ख्याल रखें। अपने हाथों को साफ करते रहें। ऑफिस में भी काम करने के दौरान कोई ढील न बरतें। कोविड-19 के बारे में क्रेडिबल सोर्स से ही जानकारी प्राप्त करें।

कोरोना से बचाव के लिए इनका करें पालन

- बिना शारीरिक कॉन्टेक्ट के एक-दूसरे का अभिवादन करें।

- शारीरिक दूरी का पालन करें।

- दोबारा उपयोग कर सकने वाला मास्क पहनें।

- आंख, नाक और मुंह को न छूएं।

- श्वसन संबंधी सफाई का ध्यान रखें।

- हाथों को समय-समय पर अच्छे से साफ करें।

- तंबाकू, खैनी को खाने से बचें और सार्वजनिक स्थान पर न थूकें।

- बार-बार छूने वाली सतहों जैसे दरवाजे के हैंडल, कुंडी इत्यादि को साफ करते रहें।

- संक्रमितों के साथ भेदभाव न करें।

- भीड़भाड़ में जाने से बचें और दूसरों को भी रोकें।

- कोविड-19 के बारे में किसी भी अपुष्ट जानकारी को सोशल मीडिया पर शेयर न करें।

- कोविड-19 के बारे में पुष्ट सूत्रों से ही जानकारी लें।

- कोविड-19 के बारे में अधिक जानकारी के लिये नेशनल हेल्पलाइन 1075 पर कॉल करें।

कोरोनावायरस के मिलने वाले केसों में कमी जरूर आई है, लेकिन कोरोनावायरस का संक्रमण अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। इससे बचने के उपाय हमें लगातार करते रहने की जरूरत है। संक्रमण को रोकने के लिए सबसे जरूरी पब्लिक की अवेयरनेस है। वे वायरस के बचाव के लिये जितना सजग होंगे, वायरस को उतना ही कंट्रोल किया जा सकेगा।

-डॉ। आरसी पांडेय, सीएमओ

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.