- निजी अस्पताल में मरीज का चल रहा इलाज

- एसएन में दो मरीज भर्ती, संदिग्ध मरीजों की बढ़ रही संख्या

आगरा। ब्लैक फंगस का एक और मरीज सामने आया है। मरीज का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं, एसएन में दो मरीज भर्ती हैं। ब्लैक फंगस के इलाज के लिए एसएन को एंफोटेरेसिन बी इंजेक्शन की 50 वाइल मिल गई हैं। यहां ब्लैक फंगस के मरीजों का फ्री इलाज किया जाएगा।

बढ़ने लगी समस्या

कोरोना से ठीक होने के बाद ब्लैक फंगस की समस्या बढ़ने लगी है। एसएन में दो मरीज भर्ती हैं। एक मरीज का दिल्ली गेट स्थित निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। सीएमओ डॉ। आरसी पांडे ने बताया कि ब्लैक फंगस के इलाज के लिए एसएन मेडिकल कॉलेज को एंफोटेरेसिन बी इंजेक्शन की 50 वाइल मिल गई हैं। एक दिन में दो इंजेक्शन लगाए जाते हैं। ब्लैक फंगस से पीडि़त मरीज एसएन में इलाज करा सकते हैं।

संदिग्ध मरीजों की बढ़ रही संख्या

कोरोना से ठीक होने के बाद रोशनी कम होने और आंखों में सूजन आने पर एसएन में मरीज जांच कराने पहुंच रहे हैं। इन मरीजों के नाक से सैंपल लेकर ब्लैक फंगस की जांच कराई जा रही है। इसके साथ ही नाक का सीटी स्कैन कराया जा रहा है, जिससे ब्लैक फंगस की पुष्टि हो सके।

Posted By: Inextlive