यूपी में नंबर वन बनने में जुटा नगर निगम

Updated Date: Thu, 21 Jan 2021 12:40 PM (IST)

- हर सप्ताह नगर आयुक्त करेंगे वार्ड में सफाई का औचक निरीक्षण

- जोनस्तर पर दी गई जिम्मेदारी, अब मशीनों से लगेगी रोड पर झाड़ू

आगरा। स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में नंबर वन आने के लिए नगर निगम ने प्रयास तेज कर दिए हैं। प्रदेश स्तर पर पहला स्थान प्राप्त करने के लिए जोन स्तर पर जिम्मेदारी तय कर दी गई है। सफाई पर विशेष जोर दिया जा रहा है। मशीनों से एमजी रोड और सिकंदरा-बोदला रोड पर झाड़ू लगाने का काम शुरू किया जाएगा। सफाई का वीकली रिपोर्ट कार्ड तैयार किया जाएगा। इसको जेएडएसओ व सेनेटरी इंस्पेक्टर तैयार करेंगे। साथ ही हर सप्ताह नगर आयुक्त निखिल टीकाराम फुंडे वार्ड का औचक निरीक्षण करेंगे।

हाल ही में डेढ़ करोड़ से खरीदी मशीनें

नगर निगम के पास पर्याप्त संसाधन हैं, इसमें चाहे डस्टबिन की बात हो या फिर मशीनों की। हाल ही में नगर निगम ने डेढ़ करोड़ में दो बड़ी मशीनें खरीदीं हैं। तीन बड़ी मशीन पहले से मौजूद हैं। इस दौरान 20 छोटी मशीनों का भी प्रयोग किया जाएगा। रोड सफाई की शुरूआत गुरुवार को दोपहर 12 बजे सेंट जोंस चौराहे से होगी। इसकी शुरूआत नगर आयुक्त निखिल टीकाराम फुंडे और मेयर नवीन जैन करेंगे। पहली मशीन भगवान टॉकीज से प्रतापपुरा चौराहा तक और दूसरी मशीन सिकंदरा-बोदला रोड से मारुति एस्टेट, कोठी मीना बाजार मैदान से होते हुए सुभाष पार्क तक सफाई करेगी।

नबंर वन आने को नगर निगम ये कर रहा प्रयास

- कूड़ा कलेक्शन के लिए तीन रंग के डस्टबिन बांटे गए

- खुले में कचरा फेंकने को प्रतिबंधित, जुर्माने का भी प्रावधान

- गीले-सूखे कूड़े को अलग-अलग किया जा रहा है

- वार्ड में काम के हिसाब से कर्मचारी तैनात किए गए है

- रात की सफाई पर फोकस किया जा रहा है

- गार्बेज फ्री बनाने के कूड़ा लैंडफिल साइट कुबेरपुर भेजा जा रहा है

- आरएफआईडी (रेडियो फ्रीक्वेंसी आईडेंटिफिकेशन डिवाइस) से टैग की स्कैनिंग की व्यवस्था

- प्लांट पर आर्गेनिक खाद बनाई जा रही है

इनको सौंपी गई जिम्मेदारी

- जेएडएसओ

- सेनेटरी सुपरवाइजर

- सेनेटरी इंस्पेक्टर

- जोनल सेनेटरी ऑफिसर

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में इन बिन्दुओं पर होगी पड़ताल

- घर से गीला-सूखा कूड़ा उठाया गया कि नहीं, पब्लिक का कितना सहयोग रहा।

- 2021 की स्वच्छता सर्वेक्षण की रेटिंग में शहर में प्लास्टिक के उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध की पड़ताल।

- गंदगी की कंप्लेन का समाधान, उसका फीडबैक।

- डोर-टू-डोर कूड़ा कलैेक्शन में 80 फीसदी नंबर जनता के फीडबैक के आधार पर ही मिलेंगे।

- 20 प्रतिशत नंबर सर्वे करने वाली टीम देगी।

- इसका थर्ड पार्टी वेरीफिकेशन भी किया जाएगा।

- पार्को पर लोगों से फीडबैक लिया जाएगा।

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020

नेशनल रैंक

16

स्टेट लेवल पर रैंक

2

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.