14 की सांसे थमी, 2436 संक्रमित

Updated Date: Sun, 18 Apr 2021 01:58 PM (IST)

सबसे ज्यादा आए संक्रमित, 2436 ने दर्ज कराई उपस्थिति

अब भी प्रयागराज के लोग नहीं सुधरे तो कोरोना संक्रमण काबू से बाहर हो सकता है। शनिवार को इसकी झलक एक बार फिर देखने को मिल गई। पिछले चौबीस घंटे में सर्वाधिक 14 मौतें संक्रमण से दर्ज की गई तो अब तक एक दिन में सबसे ज्यादा 2436 नए मरीज भी सामने आए हैं। यह दोनों आंकड़े लोगों की आंख खोलने के लिए काफी है। अब भी नही सुधरे तो परिणाम काफी गंभीर हो सकते हैं।

लगातार बढ़ रही संख्या

इसके पहले 15 अप्रैल को कोरोना से जिले में 12 मौत दर्ज की गई थीं। इसके बाद शनिवार को यह संख्या बढ़कर 14 हो गई है। सभी मौते फेफड़े के संक्रमण के चलते हो रही हैं। लोगों के मास्क नही पहनने और सोशल डिसटेंसिंग का पालन नही किए जाने से स्थिति आउट आफ कंट्रोल हो रही है। एक्सप‌र्ट्स का कहना है कि कोरोना को काबू करने केएिल लोगों को नियमों का पालन करना होगा। घर से बाहर बिना मास्क पहने कतई नही निकलना चाहिए।

होम आइसोलेशन से सर्वाधिक डिस्चार्ज

शनिवार को 11567 लोगों की जांच की गई जिसमें 2436 नए संक्रमित सामने आए हैं। बता दें कि संक्रमितों का आंकड़ा दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रही है। इसी तरह कोरोना से होने वाली मौतें भी रोजाना नए कीर्तिमान बना रही हैं। इसके विपरीत 998 मरीज डिस्चार्ज किए गए हैं। जिनमें महज 64 हॉस्पिटल्स से बाहर आए हैं और 934 मरीज होम आइसोलेशन से डिस्चार्ज किए गए हैं।

भटक रहे मरीज नही मिल रहे बेड

इस समय बेली, रेलवे और एसआरएन को छोड़कर आधा दर्जन से अधिक प्राइवेट हॉस्पिटल्स में मरीजों को भर्ती किया जा रहा है। बावजूद इसके स्थिति काफी खराब है। नए संक्रमितों को भर्ती होने के लिए बेड नही मिल रहा है। हॉस्पिटल के गेट से सीधे उनको वापस किया जा रहा है। सिफारिश भी काम नही आ रही है। सबसे ज्यादा उन मरीजों की दिक्कत है जिनकी रिपोर्ट निगेटिव है और फेफड़े इंफेक्शन से खराब हो चुके हैं। उनको भर्ती करने के लिए हॉस्पिटल पाजिटिव रिपोर्ट मांग रहे हैं। यही कारण है कि कई मरीजों की बिना इलाज रोजाना मौत हा रही है। जिसकी जिम्मेदारी कोई भी लेने को तैयार नही है। इस समय प्राची, विनीता, यश, वात्सल्य, नारायण स्वरूप, आशा, यूनाइटेड मेडिसिटी हॉस्पिटल में कोविड मरीजों को भर्ती किया जा रहा है।

शुरू हो गया 35 घंटे का लॉक डाउन

इस बीच शनिवार को रात आठ बजे से 35 घंटे का वीकेंड लॉक डाउन शुरू हो गया। शासन ने इस लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराने के आदेश दिए हैं। जिसके तहत सभी बाजार बंद रहेंगे और उनका सेनेटाइजेशन किया जाएगा। आवश्यक आपूर्ति पर रोक नही रहेगी। एनडीए परीक्षा का देखते हुए ई रिक्शा और आटो को चलाने की परमिशन दी गई है। पेट्रोल पंप और दवा की दुकानें खुली रहेंगी।

जिले में शनिवार को 2436 नए मरीज सामने आए हैं और 14 लोगों की कोरोना से मौत दर्ज की गई है। लोगों से अपील है कि वह नियमों का पालन करें जिससे कोरोना को बढ़ने से रोका जा सके।

डॉ। ऋषि सहाय

डीएसओ प्रयागराज

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.