मेगा डिस्कनेक्शन के बाद एफआईआर की तैयारी

Updated Date: Sat, 03 Oct 2020 04:48 PM (IST)

-बिजली विभाग ने डिस्कनेक्शन वाले उपभोक्ताओं तैयार की लिस्ट

-बिना पेमेंट चोरी-छिपे कनेक्शन जुड़वाने वाले कार्रवाई की तैयार

PRAYAGRAJ: बकाया होने पर लाइट काटे जाने के बाद चोरी-छिपे लाइन जोड़कर बिजली यूज करने वालों पर शामत आने वाली है। बिजली विभाग मेगा डिस्कनेक्शन अभियान के बाद 138 (बी) का अभियान शुरु करने जा रही है। इस अभियान के तहत चोरी-छिपे लाइन जोड़ने वाले उपभोक्ता पर एफआईआर दर्ज की जाएगी। इस अभियान को सफल बनाने के लिए डिवीजन के एसडीओ ने लिस्ट तैयार कर जेई को सौंप दी है। विभाग के अफसरों का कहना है कि सोमवार से अभियान की शुरुआत कर दी जाएगी।

क्या है विभाग की तैयारी

बमरौली एसडीओ प्रदीप गुप्ता ने बताया कि सितंबर पूरा माह मेगा डिस्कनेक्शन अभियान चलाकर हजारों बकाएदार उपभोक्ताओं का कनेक्शन काटा गया। जिसमें से 80 प्रतिशत उपभोक्ताओं उसी वक्त बकाया रकम जमा कर कनेक्शन जुड़वा लिया। लेकिन वहीं बीस प्रतिशत ऐसे भी उपभोक्ता थे। जिन्होंने बकाया रकम भी नहीं जमा किया और चोरी-छिपे कनेक्शन तक जुड़वा लिया। ऐसे उपभोक्ता के खिलाफ 138 (बी) के तहत एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाएगा। वहीं जिन्होंने रकम जमा न करके छुप-चाप बैठे है। उनके खिलाफ पहले आरसी जारी की जाएगा। उसके बाद छह महीने बाद सेक्शन 5 के तहत फाइनल नोटिस विधिक कार्रवाई की जाएगी।

डिवीजन - नॉट पेमेंट

बमरौली - 144

टैगोर टाउन - 159

म्योहॉल - 163

नैनी - 221

करेलाबाग - 258

कल्याणी देवी - 171

रामबाग - 182

बकाया होने पर काटे गए उपभोक्ताओं की लिस्ट बनाई गई है। यह लिस्ट उनकी है, जिन्होंने कनेक्शन काटे जाने के बाद भी पेमेंट नहीं किये है। कनेक्शन काटने के बाद बिजली यूज पाये जाने पर एफआईआर भी होगी। ताकि बिजली चोरी क्या होती है उपभोक्ताओं को समझ आए।

-आलोक सिंह यादव, एसडीओ कानपुर रोड

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.