माघ मेला में मौनी अमावस्या मोबाइल नेटवर्क ने किया परेशान

Updated Date: Sat, 25 Jan 2020 05:45 AM (IST)

-लंबी मशक्कत के बावजूद लोगों का कनेक्ट नहीं हुआ फोन

PRAYAGRAJ: माघ मेला के मौनी अमावस्या के तीसरे स्नान पर भी मोबाइल फोन नेटवर्क की प्रॉब्लम जस की तस बनी रही। न तो श्रद्धालुओं के फोन लगे और न ही वह इनकमिंग कॉल रिसीव कर सके। यह हालात मेले के सभी सेक्टर में बने रहे। यहां तक कि संगम एरिया के आसपास भी नेटवर्क की समस्या बनी रही। यहां लगाए गए टावर किसी शोपीस के जैसे ही नजर आए।

बिना बात हुए कट गया फोन

बता दें कि पौष पूर्णिमा के पहले और मकर संक्रांति के दूसरे स्नान पर मेले में मोबाइल नेटवर्क पूरी तरह ध्वस्त रहा था। इस पर मेला प्रशासन ने तीसरे स्नान से पहले समस्या के निदान का आश्वासन दिया था। लेकिन इसका कोई असर देखने को नहीं मिला। शुक्रवार को जब लोग मेला एरिया में पहुंचे तो उनके मोबाइल बेकार हो चुके थे। बड़ी मुश्किल से कॉल कनेक्ट हो पा रही थी। अधिकतर लोग अपनी बात पूरी नहीं कर पा रहे थे।

दिल में रही सेल्फी भेजने की कसर

नेटवर्क प्रॉब्लम के चलते कई श्रद्धालुओं की अपनों को सेल्फी भेजने की कसर दिल में ही रह गई। उन्होंने घाट पर फोटो क्लिक की फिर उसे भेजने के लिए रीसेंड करते रहे। अंत में उन्हे निराश होना पड़ा। करेली से आए विनोद और तेलियरगंज के सुमेर के दोस्त मेले में बिछड़ गए थे। उनको ट्रेस करने में पसीना छूट गया। फोन तो लग जा रहे थे लेकिन आवाज नहीं आ रही थी। व्हाट्सएप पर फोटो भी भेजना मुश्किल हो रहा था। ऐसा वाकया मेले में कई श्रद्धालुओं के साथ हुआ।

बीएसएनएल ने खड़े किए हाथ

सोर्सेज बताते हैं कि इस बार फाइनेंशियल क्राइसिस से जूझ रहे बीएसएनएल ने मेले में अपनी सेवाएं देने में समस्या जताई थी। इसके चलते पर्याप्त मात्रा में टॉवर नहीं लगाए गए। इस वजह से अन्य मोबाइल कंपनियों को भी आसरा नहीं मिला। क्योंकि उनका सेटअप बीएसएनएल के टावरों पर किराए पर लगते हैं। यही कारण है कि मेले में प्रवेश करते ही लोगों के मोबाइल फोन लगभग डेड हो जा रहे हैं।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.