शिकंजे में होंगे अतीक के 'क्राइम पार्टनर'

Updated Date: Tue, 22 Sep 2020 12:48 PM (IST)

-माफिया अतीक अहमद के खिलाफ दर्ज मुकदमों के सह अभियुक्तों की बनाई जा रही कुंडली

-इन सभी की संपत्तियों की भी होगी जांच, फिर जिला प्रशासन करेगा कार्रवाई

PRAYAGRAJ: माफिया अतीक के चमकते सितारों की चकाचौंध में मौज काटने वालों के दिन भी गर्दिश में आने वाले हैं। अतीक के खिलाफ दर्ज मुकदमों में सह अभियुक्तों की कुंडली बनाने में पुलिस जुट गई है। एक-एक नाम छानकर निकालने के बाद इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इन सह अभियुक्तों की इनकम के स्रोत सहित अन्य आपराधिक डिटेल निकाले जाएंगे। इसके बाद इनके द्वारा बनाई गई सम्पत्तियों की भी जांच शुरू होगी। अतीक के आपराधिक संरक्षण में पलने व बढ़ने वाले इन गुर्गो की अवैध सम्पत्तियों को भी ध्वस्त किया जाएगा। मकान के अलावा अगर इन्होंने खेतिहर जमीन भी अवैध ढंग से हथियायी होगी तो उसे भी कब्जे से मुक्त कराया जाएगा।

अतीक के मुकदमों से छांटेंगे नाम

अपराध की सीढि़यों से चढ़कर सियासत के शिखर तक पहुंचे माफिया अतीक के इस सफर में कई लोगों ने उनका साथ दिया। चमकते सितारों की रोशनी में अतीक के साथ कंधे से कंधा मिलाते हुए वे चलते रहे। 2005 में 25 जनवरी को बसपा विधायक राजू पाल की हत्या कर दी गई। इसी के बाद से अतीक की कुंडली में मानो शनि का प्रवेश हो गया। अतीक के गुनाहों में साथ देने वालों की एक लंबी फेहरिश्त है। जिले के विभिन्न थानों में अतीक के खिलाफ अपराध की जो भी स्क्रिप्ट लिखी गई उसमें इनके भी नाम शामिल रहे। इस स्क्रिप्ट में दर्ज सहयोगियों के नाम को अब पुलिस ट्रेस करने में जुट गई है। माफिया अतीक अहमद के खिलाफ दर्ज मुकदमों की फाइल से ऐसे सह अभियुक्तों के डिटेल खंगाले जा रहे हैं। इनके नाम ही नहीं अपराध का ब्यौरा पुलिस अलग से तैयार करेगी। इस पड़ताल को लेकर विभागीय सूत्र कहते हैं कि अतीक के इन साथियों द्वारा बनाई गई मिल्कियत को भी खंगाला जाएगा। माना जा रहा है कि अतीक के साथ रहकर मुकदमों के इन सह अभियुक्तों ने भी गैरकानूनी ढंग से प्रॉपर्टी बनाई होगी। इनके गुनाहों और सम्पत्तियों का बही खाता टटोलने के बाद पुलिस कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू करेगी। कहा जा रहा है कि इस कार्रवाई में इन सहयोगियों के द्वारा बनाई गई अवैध बिल्डिंग को भी ध्वस्त किया जाएगा। यदि इनके जरिए बिल्डिंग के बजाय खेती योग्य जमीनें बनाई गई होंगी तो उसे भी इनके कब्जे से मुक्त करवाया जाएगा। अतीक के विरुद्ध जिले के विभिन्न थानों में कुल 130 मुकदमें दर्ज हैं। बताते हैं कि इनमें कई मुकदमें जरिए कोर्ट या विवेचना समाप्त हो चुके हैं।

गुंडे व माफियाओं के खिलाफ चल रही कार्रवाई जारी रहेगी। अतीक अहमद के खिलाफ दर्ज मुकदमों के सह अभियुक्तों की भी जांच की जाएगी। इनके जरिए बनाई गई अवैध सम्पत्तियों को भी कब्जा मुक्त करवाने के लिए डीएम सहित अन्य शीर्ष अफसरों को लिखा जाएगा।

-कवीन्द्र प्रताप सिंह, आईजी रेंज प्रयागराज

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.