गोली मारने के बाद फोन करके बताया हत्या हो गयी है

Updated Date: Sun, 30 Jun 2019 06:00 AM (IST)

डिग्री कॉलेज कैंपस में 'स्टॉफ' की गोली मारकर हत्या

स्टाफ रूम में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने अंजाम दी घटना, आरोपित गिरफ्तार

PRAYAGRAJ: रामलखन महाविद्यालय हाजीगंज सोरांव के स्टॉफ रूम में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी योगेश यादव की शनिवार सुबह गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना को साथी कर्मचारी रामबाबू उर्फ मंझारी ने ही अंजाम दिया। योगेश के मुंह में घुसाकर पिस्टल से मारी गई गोली पार हो गई। प्रबंधक को फोन कर हमलावर ने ही योगेश के कत्ल की जानकारी दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सहसो से आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में अधिकारियों को आरोपित ने बताया कि पिस्टल सटाकर धमकाते समय गोली चल गई थी।

छोटा बघाड़ा का है कॉलेज प्रबंधक

कर्नलगंज के छोटा बघाड़ा निवासी राजेश सिंह यादव का सोरांव हाजीगंज चौराहे के पास रामलखन महाविद्यालय है। आसपास के कई युवक महाविद्यालय में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के रूप में काम करते हैं। फिलहाल विद्यालय बंद चल रहा है। बताते हैं कि तीन दिन बाद विद्यालय खुलना है। इस लिए सफाई जैसे कार्यो के लिए कर्मचारी बुलाए गए थे। शनिवार सुबह योगेश यादव (36) पुत्र परमानन्द यादव निवासी इस्माइलगंज थाना थरवई सफाई करने विद्यालय पहुंचा था। उसके साथ काम करने वाला चपरासी तेज प्रताप सिंह, अभिषेक और रामबाबू उर्फ मंझारी भी कॉलेज पहुंचे थे। कॉलेज में चाय आदि की व्यवस्था लिए दो गाय पाली गई हैं।

खुद ही प्रबंधक को दी जानकारी

सुबह करीब नौ बजे चौराहे के पास का निवासी एक युवक दूध लेने परिसर में आया। रामबाबू ने उसे गाय का दूध दिया। बताते हैं कि कुछ देर बाद स्टाफ रूम में रामबाबू और योगेश के बीच कहासुनी होने लगी। अचानक तैश में आकर रामबाबू ने योगेश की दाढ़ी के पास होठ के नीचे पिस्टल सटाकर उसे गोली मार दी। गोली लगते ही योगेश गिर पड़ा। यह देख हमलावर भाग निकला। कॉलेज प्रबंधक राजेश सिंह यादव के मुताबिक रामबाबू ने ही उन्हें फोन कर बताया कि गलती से योगेश को गोली लग गई है। इसके बाद उसने फोन काट दिया। प्रबंधक ने दूसरे कर्मचारियों को फोन किया तो वह स्टाफ रूम में जा पहुंचे। कर्मचारियों ने देखा तो योगेश का शव फर्श पर पड़ा था।

स्पॉट पर मिला खोखा

पुलिस को शव के पास ही पिस्टल का खोखा भी मिला है। हत्या सूचना मिलते ही पहुंचे मृतक के परिजन व आसपास के लोग हंगामा शुरू कर दिए। मौके पर पहुंचे एसपी गंगापार एनके सिंह, एसडीएम सोरांव प्रेमचन्द मौर्य, सीओ सोरांव अमित श्रीवास्तव व थाना प्रभारी अरुण चतुर्वेदी ने लोगों को समझाकर शांत कराया। सोरांव पुलिस ने आरोपित रामबाबू निवासी मोरहूं सोरांव को देर रात गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में वह पुलिस को बताया कि पिस्टल से अचानक गोली चल गई। वह उसे डराने के लिए पिस्टल सटा कर धमकी दे रहा था। हालांकि देर रात तक विवाद की वजह कंफर्म नहीं हो सकी। पुलिस इस बात को टटोलने में जुटी रही। बताया जा रहा है कि योगेश गांव में सपा का बूथ प्रभारी भी था।

आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने गोली मारी क्यों? इसकी पड़ताल की जा रही है। बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

एनके सिंह

एसपी गंगापार

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.