तैयारियां पूरी, दिव्यांगों को लाने पहुंचीं बसें

2020-02-29T05:30:49Z

शहर के 95 और ग्रामीण एरिया के 105 दिव्यांगों से मिलेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

पांडाल में 75 हजार लोगों के बैठने और खानपान की हुई है व्यवस्था

वीवीआईपी, कर्मचारी, मीडिया आदि मिलाकर बनाए गए हैं 9000 पास

26874 दिव्यांगों को बांटे जाने हैं सहायता उपकरण

पीएम के स्वागत में सजा परेड ग्राउंड, बना भव्य पांडाल, ब्लॉक वार लगाई गईं कुर्सियां

PRAYAGRAJ: सबकुछ रेडी है। मंच बनकर तैयार है। पांडाल सज चुका है। सुरक्षाकर्मी और वालंटियर्स भी पहुंच चुके हैं। दिव्यांगों को एक दिन पहले से ही बसों भरकर कार्यक्रम स्थल पर पहुंचाया जाने लगा। बस अब पीएम नरेंद्र मोदी का इंतजार है। उनके आते ही लाइट, साउंड, कैमरा, एक्शन के साथ मेगा शो की शुरुआत हो जाएगी। जिसमें एक साथ तीन व‌र्ल्ड रिकार्ड बनाए जाएंगे और लगभग 27 हजार दिव्यांगों को सहायता उपकरण बांटे जाएंगे। एलिम्को के इस कार्यक्रम को जिला प्रशासन यादगार बनाने की तैयारियों में जुटा हुआ है।

चेकिंग के बाद मिलेगी एंट्री

परेड मैदान पर आने वालों की बकायदा चेकिंग की जाएगी। इसके लिए दर्जनों की संख्या में मेटल डिटेक्टर लगाए गए हैं। मुख्य पांडाल के ठीक सामने एक गैलरी बनाई गई है। इसके दोनों ओर ब्लॉक वार पार्टिशन कर उनमें कुर्सियां लगाई गई हैं। प्रत्येक दिव्यांग अपने ब्लॉक के पार्टिशन में ही मौजूद रहेगा। यहां पर उस तक सहायता उपकरण पहुंचाए जाएंगे। इतना ही नही, अगर उपकरण की फिटिंग या यूज करने में दिक्कत है तो उसे बनाए गए ब्लॉक के फिटिंग सेंटर में दिखाया जा सकता है। बता दें कि सभी ब्लॉक और शहर मिलाकर 26874 दिव्यांगों को उपकरण बांटे जाने हैं।

पीएम अचानक सामने आएं तो चौंक मत जाना

मुख्य पांडाल के ठीक बाई ओर इन क्लोजर बनाया गया है। जिसमें दो सौ सेलेक्टेड दिव्यांगों को बैठाया जाएगा। इनका चयन इंटरव्यू और रिहर्सल के आधार पर किया गया। इनमें से 95 नगर निगम और 105 ग्रामीण एरिया के दिव्यांग हैं। इनको बताया गया कि अगर पीएम नरेंद्र मोदी अचानक सामने आ जाएं तो चौंकने की जरूरत नही है। उनके सामने संयमित तरीके से पेश आना है और सवालों का जवाब देना है। बता दें कि पीएम इस इनक्लोजर में जाकर दिव्यांगों से रूबरू होंगे।

गंदगी फैलाया तो समझ लेना

प्रत्येक ब्लॉक की गैलरी में डस्टबिन रखे गए हैं। ताकि कूड़ा इधर उधर न बिखरा रहे। इतना ही नही, कार्यक्रम स्थल के नजदीक ही एक हजार शौचालय और यूरिनल लगाए जा रहे हैं। 75 हजार लोगों के लिए आवश्यक इंतजाम किए गए हैं। शुक्रवार को ही कार्यक्रम स्थल पर पुलिस और आरएएफ के जवान तैनात कर दिए गए थे। यह सभी मंच के सामने वीआईपी गैलरी में डेरा जमाए हुए थे।

आने जाने वालों पर एसपीजी की नजर

कार्यक्रम का मुख्य पांडाल और मंच शुक्रवार को पूरी तरह से एसपीजी के हवाले थे। यहां पर आम आदमी को फटकने भी नही दिया गया। केवल पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी ही उधर जा पा रहे थे। महिला पुलिस के जवानों को भी पर्याप्त संख्या में लगाया गया है। पुलिस कर्मियों को जरूरत पड़ने पर दिव्यांगों की सहायता करने के भी आदेश दिए गए हैं।

मंच पर तीन घंटे गुजार सकते हैं पीएम

शनिवार को परेड मैदान पर पीएम नरेंद्र मोदी का कार्यक्रम काफी लंबा हो सकता है। वह सुबह 10 बजे बमरौली एयरपोर्ट आएंगे। यहां पर उनका स्वागत सीएम योगी आदित्यनाथ और प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल करेंगी। तीनों को बमरौली एयरपोर्ट से परेड मैदान तक सेना के हेलीकाप्टर से ले जाया जाएगा। यहां पर तकरीबन तीन घंटे लंबे कार्यक्रम में पीएम का भाषण, दिव्यांगो से मुलाकात, उनको उपकरण वितरण, सांस्कृतिक कार्यक्रम सहित तमाम आयोजन होने हैं। यहां से पीएम, सीएम और राज्यपाल बमरौली होकर चित्रकूट के लिए रवाना हो जाएंगे। मंच पर दो केंद्रीय मंत्री सहित पांच उप्र सरकार के मंत्री उपस्थित रहेंगे। इनमें डिप्टी सीएम केशव प्रसार्द मौर्य, अनिल राजभर, सिद्धार्थनाथ सिंह, नंदगोपाल गुप्ता नंदी आदि शामिल रहेंगे।

बसों से लाए जाते रहे दिव्यांग

पीएम भले ही दस बजे के बाद परेड ग्राउंड पर आएं लेकिन दिव्यांगों को सुबह आठ बजे तक कार्यक्रम स्थल पर उपस्थित होना है। इतनी सुबह तमाम ब्लॉकों से बसों के आने में देर हो सकती है इसलिए शुक्रवार को ही कई जगहों से बसों में दिव्यांगों को जाने का क्रम जारी रहा। इनके रुकने और भोजन के लिए जिला प्रशासन की ओर से आवश्यक इंतजाम किए गए थे।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.