दो दिन में बैंकों में पहुंचेंगे 125 करोड़

Updated Date: Wed, 16 Nov 2016 07:40 AM (IST)

बैंक अधिकारियों के साथ मीटिंग के दौरान डीएम ने दिए निर्देश

किसान, लोन अदायगी और स्टांप वेंडर्स को मिली राहत

ALLAHABAD: जिले में कैश की प्रॉब्लम दो दिन में हल हो जाएगी। ऐसा डीएम संजय कुमार का कहना है। उन्होंने मंगलवार रात बैंक अधिकारियों के साथ हुई मीटिंग में कहा कि आरबीआई अधिकारियों से हुई बातचीत में दो दिन के भीतर जिले के बैंकों को 125 करोड़ रुपए पहुंचाने का वादा किया गया है। इस पैसे की मांग बैंकों ने भी की थी। इसमें एसबीआई ने सर्वाधिक 25 करोड़ और बैंक ऑफ बड़ौदा ने 15 करोड़ रुपए कैश की मांग की थी।

जल्द पांच एटीएम भी होंगे चालू

डीएम कैंप कार्यालय में हुई मीटिंग के दौरान एसबीआई, यूनियन बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, केनरा, ग्रामीण बैंक, आईडीबीआई, एचडीएफसी समेत तमाम बैंकों के अधिकारी मौजूद रहे। इस दौरान डीएम ने कहा कि इलाहाबाद यूपी का जनसंख्या में सबसे बड़ा जिला है। इसलिए यहां कैश की अधिक मांग है। लोगों को कैश की दिक्कत न हो इसके लिए आरबीआई के डीजीएम से बातचीत की गई है। उन्होंने दो दिन में डिमांड के अनुरूप 125 करोड़ रुपए पहुंचाने का वादा किया है।

लोन एकाउंट में जमा होंगे पुराने नोट

बैठक में कहा गया कि लोन एकाउंट में पुराने नोट जमा कराने की छूट दी जा रही है। किसान क्रेडिट कार्ड में भी किसान अपना लोन हजार और पांच सौ के पुराने नोट के जरिए चुका सकेंगे। बैंकों ने बताया कि चालान चेक के माध्यम से जमा किया जा रहा है। डीएम ने कहा कि स्टांप वेंडर चेक के जरिए अपना चालान जमा करा सकते हैं। उन्होंने कोर्ट फीस के लिए अलग से काउंटर बनाने के निर्देश दिए हैं। एसबीआई अधिकारियों ने बताया कि उनके एटीएम से दो हजार के नोट मिलने लगे हैं तो डीएम ने कहा कि हाईकोर्ट ई लाबी, मेडिकल कॉलेज चौराहा और मुट्ठीगंज क्रासिंग पर लगे एटीएम में दो हजार आौर सौ के नोट डाले जाएं। एसबीआई ने कहा कि बुधवार को पांच और एटीएम चालू कर दिए जाएंगे। डीएम ने जनरल स्टोर्स पर बैंकों को जल्द से जल्द पर्याप्त संख्या में स्वैपिंग के लिए प्वाइंटर ऑफ सेल मशीन लगाने के आदेश दिए हैं, जिससे आम जनता को रोजमर्रा की जरूरत की चीजों के लिए परेशान न होना पडे़। वह कार्ड के माध्यम से भुगतना कर सकें। उन्होंने कहा कि जो नोट खराब हो चुके हैं एटीएम स्वीकार नही करता, स्थिति को देखते हुए ऐसे नोट काउंटर से वितरित कराए जा सकते हैं।

एसओ को करिए फोन

इस मौके पर बैंक अधिकारियों ने मौजूदा परिस्थितियों में प्रशासन और पुलिस के सहयोग पर धन्यवाद दिया। एसपी सिटी ने कहा कि बैंक अधिकारी किसी असामान्य परिस्थिति में पुलिस के उच्च अधिकारियों को फोन करते हैं, जबकि पहले एसओ को फोन करना चाहिए। बैंक अधिकारियों को एसओ को सही लोकेशन बताना चाहिए, जिससे जल्द से जल्द पुलिस पहुंच सके। डीएम ने कहा कि बैंक जरूरत पड़ने पर जनता से सख्ती से पेश आएं। लोगों की परेशानी को देखते हुए नरमी से पेश आना चाहिए। बुजुर्ग और महिलाओं के लिए अलग से काउंटर खोले जाएं। उन्होंने पब्लिक से इस परिस्थिति में धैर्य बनाए रखने की अपील की है।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.