ये खंडहर नहीं आफिस है भाई

Updated Date: Sun, 27 Sep 2020 10:48 AM (IST)

देखरेख के अभाव में खंडहर में तब्दील हो चुका क्षेत्रीय खाद्य प्रखंड चार का ऑफिस

PRAYAGRAJ: सिटी के सबसे पॉश इलाके सिविल लाइंस एरिया के तेज बहादुर सप्रू मार्ग पर बनी इमारत पूरी तरह से खंडहर में तब्दील हो गई है, इसको देखने पर ऐसा नहीं लगता कि इस इमारत में पर-डे सैकड़ों लोग आते हो, दरअसल इस खंडहर में

क्षेत्रीय खाद्य प्रखंड चार का ऑफिस रजवाड़े के टाइम का बना हुआ है। इस आफिस की दीवारे कई बार गिर भी चुकी है। गनीमत रही कोई हादसा नहीं हुआ। छत जर्जर हो चुकी है और बारिश होने पर पानी तक टपकता है। मरम्मत न होने के कारण ऑफिस हालत दयनीय हो गई है। किसी दिन भी बड़ा हादसा हो सकता है। अगर समय रहते उच्च अधिकारियों ने नजर नहीं डाली।

21 अगस्त को हुआ हादसा

सिटी के सबसे पॉश इलाके सिविल लाइंस एरिया के तेज बहादुर सप्रू मार्ग स्थित क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी प्रखंड चार ऑफिस अपने बदहाली के आंसू बहा रहा है। देखने मे ये आपको ऑफिस कम और खंडहर ज्यादा नजर आएगा। ऑफिस के अधिकारी बताते है कि जर्जर इमारत को लेकर कई बात सरकार से शिकायत की गई। उसके बावजूद भी कोई मरम्मत की तरफ ध्यान नहीं दिया गया। हालात इतने खराब है कि 21 अगस्त को ऑफिस की पूरी छत अचानक से गिर गई। राहत की बात ये रही कि जिस समय ये हादसा हुआ। उस समय ऑफिस में कोई मौजूद नही था।

कोरोना से कम जर्जर बिल्डिंग से ज्यादा डरे हैं कर्मचारी

तस्वीरों में साफ देख सकते है कि कार्यालय की पूरी जर्जर हालत में है। अक्सर कर्मचारियों को बाहर बरामदे में बैठकर काम करने को मजबूर रहते है। अधिकारियों का कहना है कि हमको कोरोना वायरस से कम और इस जर्जर इमारत से ज्यादा डर लगता है। उधर ऑफिस में काम करवाने वाले लोग भी रामभरोसे ही आते है। विभाग के अफसरों ने सरकार से गुजारिश की है कि वह ऐसे ऑफिस को चिन्हित करके उनका नवीनीकरण कराएं या फिर किसी और जगह शिफ्ट करें।

हाल बयां कर रहे दस्तां

- इस ऑफिस की दीवार आधा दर्जन से अधिक बार भरभरा कर है गिर चुकी

- यहां तक कि फर्नीचर भी हो चुके है क्षतिग्रस्त

- ऑफिस में भी रखी सामग्री कबाड़ में धीरे-धीरे हो रही तब्दील

इस ऑफिस की दीवार कइयों बार गिर चुकी है। किसी दिन भी बड़ा हादसा हो सकता है। पर-डे सौ से अधिक लोग आते है। सरकार व उच्चधिकारियों को थोड़ा ध्यान यहां भी देना चाहिये।

विनोद यादव, क्षेत्रीय खाद्य प्रखंड चार अधिकारी - फोटो

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.