बिन द्रोणाचार्य कैसे बनेंगे अर्जुन

Updated Date: Wed, 28 Oct 2020 05:08 PM (IST)

- अनलॉक के बावजूद स्पोट्‌र्र्स स्टेडियम में 95 प्रतिशत तक कम पहुंच रहे खिलाड़ी

- नवंबर से शुरू होनी हैं यूनिवíसटी व अन्य संस्थानों की प्रतियोगिताएं

बरेली: लॉकडाउन खत्म होने के बावजूद शहर के खिलाडि़यों की तैयारियों पर कोरोना का असर अभी बना हुआ है। क्योंकि स्पोट्‌र्र्स स्टेडियम में कई खेलों के अभी तक कोच ही नहीं है। जिस वजह से यहां खिलाडि़यों की उपस्थिति 95 परसेंट तक कम हो गई है। ऐसे में कुछ ही दिनों में शुरू होने वाली तमाम प्रतियोगिताओं में भी शहर के खिलाडियों का प्रदर्शन चिंताजनक बना हुआ है। वहीं स्टेडियम के अधिकारी नवंबर तक नए कोच आने की बात कर रहे हैं।

अधिकारी समेत 3 कोच

कोरोना संक्रमण काल के चलते मार्च से लगा लॉकडाउन अब खोल दिया गया है। व्यापार भी धीरे-धीरे पटरी पर लौटने लगा है, लेकिन शहर के खिलाडि़यों की प्रैक्टिस पर लगा लॉकडाउन अभी भी लागू है। स्पोट्‌र्र्स स्टेडियम में कई खेलों के कोच न होने के कारण खिलाडि़यों के सामने असमंजस की स्थिति बनी हुई है। वर्तमान परिस्थितियों में स्टेडियम में खेल अधिकारी को मिलाकर सिर्फ तीन ही कोच हैं। जिससे खिलाडि़यों ने स्टेडियम से मंह मोड़ लिया है।

आ रहे 3-4 खिलाड़ी

वर्तमान में एथलेटिक्स, क्रिकेट व फुटबॉल के ही तीन-चार खिलाड़ी स्टेडियम पहुंच रहे हैं। वहीं टीटी, बास्केटबॉल व अन्य खेलों के लिए रखे जाने वाले एडहॉक कोच लॉकडाउन के पहले से नहीं हैं। इन करीब पांच एडहॉक कोचों को आठ से नौ महीने के समय के लिए ही रखा जाता है।

कैसे मिलेंगे मेडल

अब लॉकडाउन खुलने के बाद नवंबर से ही रुहेलखंड यूनिवíसटी, एएफआई व अन्य संस्थानों की एथलेटिक्स व अन्य खेल प्रतियोगिताएं शुरू होने वाली हैं। ऐसे में बिना कोच के इन खिलाडि़यों का प्रतियोगिताओं में प्रदर्शन देखने वाला होगा। वहीं मेडल

कुछ घर बैठे तो कुछ कटवा रहे जेबें

आने वाले दिनों में शुरू होने वाली प्रतियोगिताओं के लिए तैयारी कराने को कोच न होने के कारण कुछ खिलाड़ी घर पर ही बैठ गए हैं। वहीं कुछ शहर व देहात के कई इलाकों में खुली अनरजिस्टर्ड एकेडमी में जा रहे हैं। जहां तैयारी के नाम पर उनकी जेब काटी जा रही हैं। स्पोट्र्र्स स्टेडियम में कोच न होने का फायदा उठाकर एकेडमी वाले भी मोटी कमाई कर रहे हैं।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.