बैरिकेटिंग के घनचक्कर में उलझ गए राहगीर

Updated Date: Wed, 05 Aug 2020 06:18 AM (IST)

-कैंट, राजघाट और गोरखनाथ एरिया में लगा लॉकडाउन

-रात में लग गए बैरियर, ज्यादातर लोगों ने नहीं रखा ध्यान

शहर में कोरोना का संक्रमण बढ़ने पर मंगलवार को कैंट, राजघाट और गोरखनाथ में लॉकडाउन लागू किया गया। राजघाट और गोरखनाथ एरिया में जहां तीसरी बार लॉकडाउन हुआ है। वहीं, कैंट इलाके में पहली बार इसे लागू किया गया। शहर के सबसे महत्वपूर्ण इलाके में लॉकडाउन का असर पब्लिक पर नजर आया। दुकानें पूरी तरह से बंद रहीं। पुलिस की टीम दिनभर मोबाइल रहकर लॉकडाउन का पालन कराती रही। लेकिन विभिन्न जगहों पर बैरियर लगने से लोग एक ही लेन में चलते रहे। इससे कुछ जगहों पर जाम की स्थिति रही। सुबह काफी भीड़ नजर आई तो दोपहर में सन्नाटा पसर गया। शाम को सरकारी दफ्तर से छूटने वाले लोगों की वजह से कहीं-कहीं जाम की स्थिति रही।

एसपी सिटी ने बताया कि संक्रमण को देखते हुए सभी को अलर्ट रखा गया है। किसी तरह की लापरवाही पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी।

कहीं एक लेन तो कहीं बंद रहा पूरा रास्ता

शहर के कैंट, राजघाट और गोरखनाथ थाना क्षेत्रों में चार अगस्त की सुबह पांच बजे से लेकर 10 अगस्त की सुबह पांच बजे लॉकडाउन का आदेश डीएम ने दिया है। सोमवार को रक्षा बंधन का त्योहार होने से पब्लिक को कोई असुविधा न हो। इसलिए चौराहों पर कड़ी व्यवस्था की गई थी। पुलिस के होमवर्क से सिर्फ आउटर इलाकों में लोगों को प्रॉब्लम हुई। त्योहार सकुशल खत्म होने पर पुलिस ने राहत की सांस ली। लेकिन रात में ही कैंट एरिया में बैरीकेटिंग शुरू करा दी गई। पूर्व से निर्धारित जगहों पर पुलिस ने बैरियर लगा दिया। मंगलवार सुबह जब लोग शहर में पहुंचे तो उनको जगह-जगह बैरीकेटिंग का सामना करना पड़ा। कहीं पर एक लेन बंद मिली तो कहीं पर आगे जाकर दोनों लेन बंद होने से वापस लौटना पड़ा। इस चक्कर में जाम की नौबत आती रही। हालांकि पुलिस की सक्रियता से धीरे- धीरे ट्रैफिक सामान्य हो गया।

काली मंदिर

सुबह 10.00 बजे

ओवरब्रिज से आकर अटकते रहे राहगीर

काली मंदिर से धर्मशाला ओवरब्रिज होते हुए असुरन चौक, मेडिकल कॉलेज, पादरी बाजार और पिपराइच का रास्ता जुड़ता है। कैंट एरिया में लॉकडाउन से काली मंदिर के पास ही एक लेन बंद कर दी गई थी। असुरन से आने वाले लोग अपनी लेन में आ रहे थे। लेकिन गणेश चौराहे से असुरन चौक की तरफ जाने वाले लोग दूसरी लेन में आवाजाही कर रहे थे। इस चक्कर में कभी-कभी जाम लग जा रहा था। ड्यूटी पर मौजूद पुलिस कर्मचारी आवागमन सुलभ कराने में जुटे रहे।

कचहरी चौराहा

सुबह 10.30 बजे

कुर्सी लगाकर बंद किया रास्ता, कारों से लगा जाम

कचहरी चौराहा शहर के महत्वपूर्ण चौराहों में शामिल है। गोलघर होकर कचहरी चौक होकर हरिओम नगर, विजय चौक, जिला महिला अस्पताल और भालोटिया अस्पताल तक आवाजाही होती है। यहां हरिओम नगर से आने वाले रास्ते को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था। सिर्फ तीन तरफ से आवाजाही होने से लोगों को रास्ता बदलना पड़ रहा था। इसी रोड पर आगे जाकर कलेक्ट्रेट के सामने एक लेन बंद थी। इसलिए सबका आवागमन सिर्फ एक तरफ से हो रहा था। इस चक्कर में काफी देर तक कारों की लंबी लाइन लगी रही। कचहरी चौराहे से आगे शास्त्री चौराहे पर अंबेडकर चौक की तरफ जाने वाली सड़क पूरी तरह से बंद रही। यहां बांस-बल्ली के अभाव में पुलिस ने कुर्सी लगाकर रास्ता बंद कर दिया था।

अंबेडकर चौक

सुबह 11.00 बजे

चौराहे पर चली एक लेन, भागते रहे टेंपो वाले

इस चौराहे पर हर तरफ एक-एक लेन को बंद कर दिया गया था। इस चौराहे के आसपास टैक्सी स्टेंड होने से बाहर से आने वाले टेंपों भी थोड़ी देर के लिए रूक रहे थे। चौराहों पर बैरियर लगे होने से लोगों को रास्ता खोजना पड़ रहा था। टेंपो वाले सवारी छोड़कर चले जा रहे थे तो दूसरी जगहों के लिए वाहन पकड़ने के लिए काफी प्रॉब्लम आ रही थी। यहां पर बगल में ही कचहरी बस स्टेशन और कचहरी टैक्सी स्टैंड है।

मोहद्दीपुर

दोपहर 03.30 बजे

भीड़ बढ़ने पर हटा एक ओर का बैरियर

मोहद्दीपुर चौराहे से मेडिकल कालेज, असुरन, पैडलेगंज, कूड़ाघाट और यूनिवसिज्टी चौक का रास्ता जुड़ता है। मंगलवार की सुबह 10 बजे चौराहों पर सभी ओर एक-एक लेन बंद कर दी गई थी। कूड़ाघाट से आने वाली सड़क पर एक लेन बंद होने से लोग एक ही लेन से निकल रहे थे। इस चक्कर में काफी लंबा जाम लगने लगा। जाम लगने पर एक तरफ की सड़क पूरी तरह से खोल दी गई। पैडलेगंज और यूनिवर्सिटी चौक की तरफ जाने वाले रास्ते पर एक-एक लेन बंद रही।

दीवानी कचहरी बंद होने से रही राहत

कैंट एरिया में लॉकडाउन लागू होने से दीवानी कचहरी को नौ अगस्त की शाम तक बंद कर दिया गया है। कचहरी बंद होने से आम पब्लिक की भीड़ नजर नहीं आई। सदर तहसील परिसर को हॉट स्पॉट घोषित किया गया है। कलेक्ट्रेट कैंपस में कर्मचारी पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। इसलिए यहां पर भी सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन रखने का इंतजाम किया गया है।

वर्जन

कैंट एरिया में बैरीकेटिंग लगाए जाने के स्पॉट पहले से चिह्नित किए गए थे। सभी जगहों पर निर्धारित समय पर ही पुलिस कर्मचारी ड्यूटी पर पहुंच गए थे। लॉकडाउन का पालन कराने के लिए दिनभर पुलिस की टीम मोबाइल रही। 10 अगस्त की सुबह पांच बजे तक यह व्यवस्था बनी रहेगी।

डॉ। कौस्तुभ, एसपी सिटी

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.