फिजिक्स फिर अंग्रेजी, अब सोशल साइंस आउट

Updated Date: Fri, 28 Feb 2020 05:30 AM (IST)

- यूपी बोर्ड एग्जाम की तैयारियों में लग रही सेंध

- एक के बाद एक लगातार तीन पेपर हो चुके आउट

- पुलिस, कैमरा और सख्ती के बाद भी सामने आ रहे मामले

GORAKHPUR: एक तरफ 2020 का यूपी बोर्ड एग्जाम हाइटेक मशीनों की निगरानी में हो रहा है। दूसरी तरफ एग्जाम में सेंध लगाने वाले भी हाइटेक आइडिया अपना रहे हैं। जिसका नतीजा है कि फिजिक्स और अंग्रेजी के बाद गुरुवार को बस्ती में सोशल साइंस का पेपर व्हाट्सएप पर आउट हो गया। इतनी कड़ाई बरतने के बाद भी एक-एक करके पेपर आउट हो रहे हैं जिसके चलते अधिकारियों के होश उड़ गए हैं। अभी तक मऊ, बलिया, कुशीनगर, कौशांबी में पेपर आउट हो चुके हैं। वहीं बस्ती में दो दिन लगातार पेपर आउट हुए।

मैच हुआ पेपर, जांच के आदेश

बस्ती में गुरुवार सुबह हाईस्कूल सोशल साइंस का क्वेश्चन पेपर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इससे ये प्रूव हो गया कि जो पेपर 11.15 बजे सेंटर के बाहर आना चाहिए था वो सुबह एग्जाम शुरू होने के दौरान ही बाहर आ गया। वायरल पेपर का मिलान कर लिया गया है जिसमें पेपर मैच हो गया है। बस्ती के डीएम आशुतोश निरंजन का कहना है कि इस मामले की जांच की जा रही है। सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट, स्टैटिक मजिस्ट्रेट, सचल दल, डीआईओएस, बीएसए को जांच का निर्देश दिया है।

बस्ती में लिखी कॉपी हुई थी वायरल

इंटर के अंग्रेजी विषय की लिखी हुई बोर्ड की कॉपी बुधवार दोपहर 12 बजे ही वायरल होने लगी। डीएम आशुतोष निरंजन तक मामला पहुंचा तो उन्होंने आनन-फानन में एडीएम को जांच के निर्देश दिए। व्हाट्सएप पर अंगे्रजी विषय के आंसर लिखी कॉपी के 10 पेज वायरल हुए थे। जांच में ये बात सामने आई कि क्वेश्चन पेपर की जानकारी एग्जाम के पहले ही हो गई थी।

कौशांबी में पांच घंटे पहले पेपर आउट

बुधवार को इंटर अंग्रेजी का पेपर कौशांबी में भी एग्जाम के पांच घंटे पहले आउट हो गया था। सोशल मीडिया पर पेपर आउट होने की सूचना पर अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। इसके बाद पेपर मिलान की कवायद शुरू हुई। पेपर हुबहू वही निकला।

कई जिलों में फिजिक्स पेपर हुआ था आउट

सबसे पहले 20 फरवरी को इंटर का फिजिक्स का पेपर कुशीनगर, मऊ और बलिया में आउट हुआ। मऊ में 69 सेंटर्स पर एग्जाम भी रद कर दिए गए। कई लोगों पर इसके बाद कार्रवाई भी की गई। व्हाट्सएप पर पेपर आउट होने की घटना को लेकर अन्य जिलों में जहां पर पेपर नहीं आउट हुए थे वहां चौकसी बढ़ा दी गई ताकि उनके यहां ऐसा कोई मामला सामने ना आए।

गोरखपुर में बढ़ी चौकसी

सीएम का जिला होने की वजह से गोरखपुर में चौकसी बढ़ा दी गई है। अधिकारी इस समय एक-एक सेंटर की निगरानी में लग गए हैं। वहीं अतिसंवेदनशील और संवेदनशील सेंटर्स पर चौकीदारों के साथ ही पुलिस की भी ड्यूटी लगाई गई है।

सोशल साइंस में 6767 ने छोड़े एग्जाम

गुरुवार को गोरखपुर में हाई स्कूल के सोशल साइंस एग्जाम में 6767 कैंडिडेट्स ने एग्जाम छोड़ा। वहीं फ‌र्स्ट शिफ्ट में ही इंटर के व्यवसायिक विषय के एग्जाम में 34 बच्चे अब्सेंट रहे।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.