रामगढ़ताल में चलेगा सी-प्लेन

Updated Date: Thu, 14 Jan 2021 08:40 AM (IST)

समापन समारोह में खास

100 दिव्यांगों को मोटराइज्ड साइकिल देकर दिखाई हरी झंडी

10 महानुभावों को दिया गया 'गोरखपुर रत्न सम्मान'

246 फीट ऊंचाई का राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया

-गोरखपुर महोत्सव के समापन पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने की घोषणा, कुशीनगर से जल्द उड़ान का ऐलान

GORAKHPUR: गोरखुपर में रोड से लेकर एयर कनेक्टिविटी बेहतर हो रही है। इन सबके बीच गोरखपुराइट्स को सी-प्लेन की भी सौगात बहुत जल्द मिलेगी। इस बात का ऐलान सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को खुद किया। वह गोरखपुर महोत्सव के समापन समारोह में बतौर चीफ गेस्ट बोल रहे थे। सीएम ने कहा कि जल्द ही सी-प्लेन के संबंध में प्रॉसेस शुरू कर दिया जाएगा। इस प्लेन की खासियत यह होगी कि यह एयरपोर्ट के साथ ही पानी में भी उतर सकेगा। इसी दौरान उन्होंने जल्द ही कुशीनगर के लिए इंटरनेशनल फ्लाइट की भी घोषणा की।

सी-प्लेन को जानिए

-सी-प्लेन में पानी में उतरकर टेकऑफ करने की क्षमता होती है।

-यहां तक कि ये विमान न सिर्फ पानी बल्कि बजरी और घास में भी उतर सकते हैं।

-यह सेवा ऐसे स्थान पर आसानी से पहुंच सकती है जहां लैंडिंग के लिए रनवे नहीं है।

-इससे दूरदराज के इलाकों जहां रनवे या हवाई अड्डे बनाना मुश्किल है, वहां भी पहुंच सकते हैं।

गोरखपुर को क्या फायदा

गोरखपुर बौद्ध परिपथ के अंतर्गत आता है। इसलिए बौद्ध धर्म से जुड़े लोग और टूरिस्ट यहां बड़ी संख्या में आते हैं। रामगढ़ताल में सी-प्लेन शुरू होने के बाद इसकी इंपॉर्टेस और बढ़ जाएगी। इस तरह यह टूरिस्ट हब के रूप में डेवलप होने की तरफ एक कदम और बढ़ जाएगा।

सीएम के बोल

-मकर संक्रांति के मौके पर 10 रुपए का डाक टिकट जारी होगा, जो गोरखपुर की पहचान होगा।

-कोरोना वैक्सीन के लिए धैर्य के साथ करें अपनी बारी का इंतजार।

-वोकल फॉर लोकल का आधार है ओडीओपी

-गोरखपुर में रेडीमेड गारमेंट का हब बनने की क्षमता

-सबसे खूबसूरत चिडि़याघर बनेगा गोरखुपर का चिडि़याघर

-तारामंडल क्षेत्र में इसी साल बनेगा एक विशाल ऑडिटोरियम

-चौरीचौरा की घटना पर वर्ष भर होंगे कार्यक्रम

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.