दुकान में आग से दो करोड़ का नुकसान

Updated Date: Sun, 24 Jan 2021 11:40 AM (IST)

- गोलघर काली मंदिर के पास शुक्रवार की रात हुई घटना

- चौकीदार की सूचना पर पहुंचे पुलिस, दमकल कर्मचारी

GORAKHPUR: गोलघर, काली मंदिर के पास बियरिंग की दुकान में शुक्रवार रात आग लगने से लाखों रुपए का नुकसान हुआ। रात में सवा 11 बजे आग लगने की सूचना पर फायर ब्रिगेड, कैंट, कोतवाली और गोरखनाथ की पुलिस पहुंची। आग बुझाने की कोशिश में चार फायर कर्मचारी और दुकान मालकिन के बेटे झुलस गए। सभी को एबुलेंस से मेडिकल कॉलेज में एडमिट कराया गया। प्राथमिक इलाज के बाद दुकान मालिक के बेटे को छुट्टी मिल गई। दमकल कर्मचारियों का इलाज चल रहा है। दुकान संचालक त्रिलोकी ने करीब दो करोड़ रुपए के नुकसान का अनुमान लगाया है। शार्ट सर्किट को वजह मानकर फायर ब्रिगेड के अधिकारी जांच में जुटे हैं।

रात में सवा 11 बजे लगी आग, चौकीदार ने दी सूचना

शाहपुर, एचएन सिंह चौराहा निवासी शोभा देवी की काली मंदिर के पास धर्मशाला मंदिर रोड पर बियरिंग और मशीनरी की दुकान है। शुक्रवार की रात सवा 11 बजे दुकान से धुंआ उठने पर चौकीदार ने डॉयल 112 को सूचना दी। इसके बाद शोभा देवी के बेटे त्रिलोकी और आशीष को बताया। पुलिस पहुंची तो मालूम हुआ कि आग लगी हुई है। तत्काल जानकारी मिलते ही दमकल कर्मचारी पहुंच गए। उधर दुकानदार के बेटे भी आ गए।

अचानक आग भड़कने से झुलसे दमकल कर्मचारी

फायरमैन ने आग बुझाने की कोशिश शुरू कर दी। अचानक उठी लपटों की चपेट में आने से फायरमैन आशीष नंदन, निर्भय राय, ब्रजेश सिंह, नरेंद्र पाठक और दुकान मालिक के बेटे आशीष झुलस गए। पुलिस ने सभी को जिला अस्पताल भेजा। फ‌र्स्ट एड के बाद आशीष को अस्पताल से छुट्टी मिल गई। चार अग्निशमन कर्मचारियों को मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया। अग्निशमन कर्मचारियों ने बताया कि दुकान में रखे मोबिल से आग अचानक भड़क गई, जिससे वो झुलस गए। संचालक त्रिलोकी ने बताया कि अगलगी में करीब दो करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है। महंगी मशीनरी और बियरिंग के सामान जलकर राख हो गए हैं।

आग बुझाने में बरत रहे लापरवाही

दुकान में लगी आग बुझाने पहुंचे कर्मचारियों ने भी सावधानी नहीं बरती। आग से बचने वाले उपकरणों का इस्तेमाल करने के बजाय सीधे पानी की बौछार मारकर लपटों को काबू करने की कोशिश की जाती है। फायर कर्मचारियों के लिए फायर प्रूफ कपड़ों सहित अन्य चीजें पहले ही मुहैया कराई गई थी, लेकिन आग लगने वाली जगह पर उनका इस्तेमाल नहीं नजर आता है। ऐसे में अचानक आग भड़कने पर दुर्घटना की संभावना बनी रहती है।

दुकान में रखे मोबिल से करीब 12 फीट लंबी लपटे बाहर निकलीं, जिसकी चपेट में आने से फायरमैन झुलस गए। सभी की हालत खतरे से बाहर है। फायरमैन निर्भय राय का चेहरा ज्यादा झुलस गया है। आग लगने की जांच की जा रही है।

डीके सिंह, सीएफओ

रात में आग लगने की सूचना चौकीदार ने दी। उसने पुलिस को बताया फिर हम लोगों को जानकारी दी। आग बुझाने में मेरे भाई आशीष भी झुलस गए हैं। अगलगी में करीब दो करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। कोई सामान नहीं बचा है। दुकान में काफी महंगी मशीनरी थी।

त्रिलोकी, शॉप संचालक

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.