24 घंटे में दो मर्डर

Updated Date: Sat, 27 Jun 2020 10:36 AM (IST)

-शाहपुर और गीडा एरिया में मिली दो डेड बॉडी, पुलिस कर रही छानबीन

-आसपास के जिलों को भेजी गई तस्वीर, नहीं हो सकी पहचान

GORAKHPUR: शहर में लॉकडाउन में छूट मिलते ही एक बार फिर से लावारिस डेड बॉडी मिलने का सिलसिला शुरू हो गया है। 24 घंटे के भीतर दो जगहों पर दो लोगों की डेड बॉडी मिली। दोनों को पुलिस ने मोर्चरी में रखवा दिया। पुलिस का कहना है कि आसपास के लोगों की मदद से उनके पहचान का प्रयास किया गया। लेकिन कोई जानकारी नहीं मिल सकी। आसपास के जिलों को सूचना भेजकर मदद मांगी गई है। 72 घंटे के बाद डेड बॉडी का पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

सुबह देखा, गढ्डे में पड़ा किशोर

शाहपुर एरिया में शिवशक्ति नगर कॉलोनी, पादरी बाजार में पानी भरे गढ्डे में लोगों ने एक डेड बॉडी देखी। शुक्रवार सुबह कुछ लोगों ने शोर मचाया तो जानकारी हुई। पुलिस के पहुंचने पर शाहपुर और पिपराइच के बीच मामला अटक गया। लेकिन मौके पर मौजूद लेखपाल ने जगह को शाहपुर एरिया का बताया। इसके बाद पुलिस कार्रवाई में जुटी। करीब 15 साल के किशोर के बदन पर सिर्फ लोवर था। उसकी हालत देखकर तरह-तरह की बातें की जा रही हैं।

नाले में पड़ी थी युवक की डेड बॉडी

गीडा एरिया में एक कॉलेज के पास नाला बना है। उसी नाले में गुरुवार शाम लोगों ने नाले में एक डेड बॉडी देखकर पुलिस को सूचना दी। पैंट और शर्ट पहने युवक की पहचान नहीं हो सकी। पुलिस ने डेड बॉडी को बाहर निकालकर मोर्चरी में रखवा दिया। पानी में पड़े होने से बदन का अधिकांश हिस्सा कीड़े पड़ गए थे। इसलिए चेहरा भी पहचान में नहीं आ पा रहा था। पैंट की जेब में मिले आधार कार्ड के आधार पर पुलिस ने मोबाइल नंबर कलेक्ट किया। उस नंबर पर सूचना देने पर महराजगंज जिले से कुछ लोग आए। माना जा रहा है कि डेड बॉडी कई दिन पुरानी है।

72 घंटे के बाद होगा पोस्टमार्टम

अननोन की डेड बॉडी मिलने पर 72 घंटे के बाद पोस्टमार्टम कराने का नियम है। इस दौरान पुलिस की टीम आसपास के जिलों में सूचना भेजकर लापता और गुमशुदा लोगों के बारे में जानकारी जुटाती है। यदि कोई फैमिली मेंबर सामने आया तो पहचान होने पर पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूरी कराकर पुलिस डेड बॉडी सौंप देती है। लेकिन परिजन की जानकारी न मिलने पर उसका अंतिम संस्कार कराकर पुलिस कार्रवाई में जुटी रहती है।

रिपोर्ट पर आगे की कार्रवाई

किसी व्यक्ति की संदिग्ध रूप में हुई मौत की जानकारी पोस्टमार्टम से हो पाती है। इसलिए पुलिस हर अननोन डेड बॉडी का पोस्टमार्टम कराती है। यदि मर्डर, जहरखुरानी या अन्य कोई बात सामने आती है तो पुलिस अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लेती है। लेकिन कोई संदिग्ध बात सामने न आने पर सिर्फ पहचान की प्रक्रिया चलती रहती है। अज्ञात डेड बॉडी के बारे में जगह-जगह पोस्टर चस्पा कराया जाता है। कई बार पुलिस मानसिक रोगी और अन्य तरह का हवाला देकर मामले की छानबीन बंद कर देती है।

वर्जन

अज्ञात व्यक्ति की डेड बॉडी मिलने पर उसके शिनाख्त की प्रक्रिया है। उसका पालन कराया जाता है। नियमानुसार पोस्टमार्टम कराकर पुलिस अंतिम क्रिया कर्म कराती है। एक किशोर और युवक की डेड बॉडी मिली है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से मौत की वजह सामने आ पाएगी।

डॉ। सुनील गुप्ता, एसएसपी

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.