पेनाल्टी बढ़ी तो कानपुराइट्स में आया ट्रैफिक सेंस

Updated Date: Tue, 04 Feb 2020 05:45 AM (IST)

- ट्रैफिक रूल्स वॉयलेशन पर जुर्माना बढ़ने और ई चालान शुरू होने से एक्सीडेंट्स में आई कमी, मरने वालों की संख्या भी घटी

- ट्रैफिक डिपार्टमेंट ने बीते छह महीने में दिखाई जबरदस्त सख्ती, 62 हजार से ज्यादा चालान कर वसूला 83 लाख रुपए जुर्माना

KANPUR। सख्त सजा और तगड़े जुर्माने के बिना लोगों में शायद कानून का भय नहीं रहता है। ट्रैफिक रूल्स को लेकर तो यह बात 100 फीसदी सही साबित हो रही है। क्योंकि ट्रैफिक रूल्स वॉयलेशन पर पेनाल्टी बढ़ाने और ई-चालान शुरू होने से शहर में एक्सीडेंट की संख्या और उनमें होने वाली मौतें भी कम हुई है। साथ ही ड्राइविंग के दौरान हेलमेट और सीट बेल्ट यूज करने वालों की संख्या में खासी वृद्धि हुई है। लोगों में ट्रैफिक सेंस भी आ रहा है और वो रूल्स को फॉलो कर रहे हैं।

तीन गुना बढ़े चालान

एसपी ट्रैफिक सुशील कुमार ने बताया कि जून 2019 से दिसंबर के बीच शासन के आदेशानुसार ई-चालान पर विशेष ध्यान दिया गया। यही वजह है कि बीते छह महीने में ट्रैफिक विभाग ने 62 हजार चालान कर लगभग 83 लाख रुपए जुर्माना ट्रैफिक रूल्स फॉलो न करने वालों से वसूल किया है। उन्होंने बताया कि जनवरी से जून 2019 तक की बात करें तो कुल 21 हजार चालान ही किए गए थे।

(बॉक्स बनाएं)

अब 100 प्रतिशत ई-चालान

एसपी ट्रैफिक के मुताबिक सिटी के ट्रैफिक सिस्टम को दुरुस्त करने के लिए लगातार शासन प्रयासरत है। कानपुर सहित प्रदेश के 10 सिटीज को शासन ने लाखों का फंड देकर ई-चालान सिस्टम को 100 परसेंट लागू करने का आदेश दिया है। उन्होंने बताया कि इसी सप्ताह कानपुर सिटी में भी 100 प्रतिशत ई-चालान करना शुरू हो जाएंगे। चालान करने के लिए ट्रैफिक स्टाफ को इंटरनेट से लैस मोबाइल फोन मुहैया कराया जा रहा है।

10 चौराहों पर ऑटोमैटिक कंट्रोल

ट्रैफिक आफिसर्स के मुताबिक बीते छह माह में कानपुराइट्स में ट्रैफिक रूल्स को फॉलो करने के प्रति काफी सुधार आया है। सिटी के टाटमिल समेत ऐसे 10 चौराहे है। जहां पूरी तरह से ऑटोमैटिक सिग्नल सिस्टम से ट्रैफिक कंट्रोल हो रहा है। कानपुराइट्स भी इसमें पूरा सहयोग कर रहे हैं। एसपी ट्रैफिक के मुताबिक एमवी एक्ट में बदलाव कर जुर्माना बढ़ाने से छह माह के अंदर ही ट्रैफिक सिस्टम में बदलाव दिखाई देने लगा है। जिसका सबसे बड़ा सबूत दुर्घटनाएं व मृतकों की संख्या कम होना हैं।

आंकड़े

सड़क दुर्घटनाओं की संख्या

2018 1559

2019 1507

दुर्घटनाओं में मृतकों की संख्या

2018 698

2019 692

दुर्घटनाओं में घायलों की संख्या

2018 1211

2019 1049

मैनुअल व ऑनलाइन चालान

1 जनवरी से 30 जून 2019 तक

चालान 21408

जुर्माना 5042000

ई-चालान व ऑनलाइन चालान

1 जुलाई से 31 दिसंबर 2019 तक

चालान 62053

जुर्माना 8421600

'' एमवी एक्ट के बाद ट्रैफिक रूल्स फॉलो करने के प्रति की गई सख्ती के बाद कानपुराइट्स में काफी बदलाव आया है। इससे दुर्घटनाएं व दुर्घटना में होने वाली मौते भी कम हुई हैं.''

सुशील कुमार, एसपी ट्रैफिक

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.