-डीजे आई नेक्स्ट के ट्विटर पोल सर्वे पर भारी संख्या में लोगों ने किया पार्टिसिपेट

- पोल का टॉपिक था ट्रैफिक और वेस्ट कलेक्शन में कौन सी समस्या ज्यादा बड़ी

LUCKNOW

लखनवाइट्स वेस्ट कलेक्शन से ज्यादा ट्रैफिक की समस्या को ज्यादा विकराल मानते हैं। उनका मानना है कि ट्रैफिक की समस्या को दूर करने के लिए प्रॉपर प्लानिंग करने की जरूरत है। वहीं करीब 30 फीसदी लोगों ने वेस्ट कलेक्शन व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए ग्राउंड स्तर पर मॉनीटरिंग की व्यवस्था किए जाने संबंधी सुझाव दिया है।

डीजे आई नेक्स्ट का ट्विटर पोल सर्वे

दैनिक जागरण आई नेक्स्ट की ओर से दो दिन पहले ट्विटर पोल सर्वे चलाया गया था। जिसका टॉपिक था, स्मार्ट शहर लखनऊ में ट्रैफिक और वेस्ट कलेक्शन में कौन सी समस्या ज्यादा बड़ी है। पोल में अपना वोट देने के साथ ही एक वाट्सएप नंबर भी दिया गया था। लोगों से अपील की गई थी कि पोल में पार्टिसिपेट करने के साथ ही उक्त वाट्सएप नंबर पर अपना सुझाव भी दें कि किस तरह से समस्याओं को दूर किया जा सकता है। इस सर्वे में बड़ी संख्या में लोगोंने हिस्सा लिया।

ट्रैफिक को माना बड़ी समस्या

पोल सर्वे के समाप्त होने के बाद जो तस्वीर सामने आई, उससे साफ हो गया कि 65 फीसद से अधिक लोग वेस्ट कलेक्शन के मुकाबले ट्रैफिक को बड़ी समस्या मानते हैं। करीब 33 फीसद लोगों ने वेस्ट कलेक्शन को ट्रैफिक के मुकाबले बड़ी समस्या माना।

ट्रैफिक के लिए सुझाव

1-प्रमुख चौराहों पर स्मार्ट सिग्नल लगाए जाएं

2-स्मार्ट सिग्नल के साथ कैमरे भी लगाए जाएं

3-ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों ऑन स्पॉट जुर्माना हो

4-जहां ट्रैफिक लाइट्स नहीं हैं, वहां ट्रैफिक पुलिस मुस्तैद रहे

5-पब्लिक को भी ट्रैफिक नियम फॉलो करने चाहिए

6-ट्रैफिक रुल्स की जानकारी देने को चलाया जाए जागरुकता अभियान

वेस्ट कलेक्शन के लिए सुझाव

1-100 प्रतिशत घरों से वेस्ट कलेक्ट किया जाए

2-ग्राउंड मॉनीटरिंग की व्यवस्था हो

3-वेस्ट कलेक्शन व्यवस्था के आंकड़ों की क्रॉस चेकिंग हो

4-भवन स्वामियों से समय-समय पर फीडबैक लिया जाए

5-वेस्ट कलेक्शन गाडि़यों में जीपीएस की व्यवस्था

6-सुविधा की लगातार समीक्षा की जाए

लोगों का मिले साथ

दोनों समस्याओं के लिए आए एक कॉमन सुझाव की बात की जाए तो 80 फीसद लोगों का मानना है कि ट्रैफिक व्यवस्था हो या वेस्ट कलेक्शन सुविधा, पब्लिक के सहयोग के बिना बेहतर नहीं हो सकती है। लोगों का कहना है कि हम सभी को खुद भी ट्रैफिक रुल्स फॉलो करने के लिए जागरुक होना होगा साथ ही वेस्ट कलेक्शन गाडि़यों को ही वेस्ट देने की आदत डालनी होगी। अभी देखने में आता है कि रेड सिग्नल होने के बावजूद लोग तेजी से अपनी गाडि़यां निकाल ले जाते हैं, जिससे ट्रैफिक रुल तो टूटता ही है साथ में हादसा होने का भी खतरा बना रहता है। वहीं कई इलाके ऐसे हैं, जहां वेस्ट कलेक्शन की सुविधा होने के बावजूद लोग खाली प्लॉट या इधर-उधर वेस्ट फेंक देते हैं।

Posted By: Inextlive