राजधानी में मिले 79 संक्रमित

Updated Date: Tue, 07 Jul 2020 03:36 PM (IST)

- 102 कॉलसेंट के 18 कर्मचारी निकले संक्रमित

- पूर्व डिप्टी मेयर अभय सेठ की कोरोना से मौत

LUCKNOW

कोरोना वायरस अब तेजी से राजधानी में पैर पसारने लगा है। सोमवार को रिकॉर्ड 79 कोरोना संक्रमित मिलने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। संक्रमितों में 28 महिला एवं 51 पुरूष पाये गये है। वहीं पूर्व उपमहापौर अभय सेठ की मौत कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई।

102 के 18 कर्मचारी पॉजिटिव

कोरोना संक्रमण का असर अब 102 एंबुलेंस सेवा पर भी देखने को मिल रहा है। कॉलसेंटर में 18 और कर्मचारियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। सभी पूर्व में संक्रमित कर्मचारियों के संपर्क में आए थे। अब तक कॉल सेंटर के 50 कर्मचारी संक्रमित हो चुके हैं। सभी को कोविड हॉस्पटिल में भर्ती कराया गया है।

यहां भी मिले कोरोना संक्रमित

सीएमओ डॉ। नरेंद्र अग्रवाल के मुताबिक सोमवार को राजधानी में 79 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसमें सर्वोदयनगर के 6, पुलिस लाइन के 6, इंदिरा नगर के 8, एलडीए कॉलोनी के 4, बालागंज के 2, सिग्नेचर बिल्डिंग के 2, स्वास्थ्य भवन के 3, होमगा‌र्ड्स मुख्यालय के 4, चौक के 4, जानकीपुरम के 9, कल्याणपुर के 3, राजाजीपुरम के 2, अमीनाबाद के 2, गौतमपल्ली के 1, कृष्णानगर के 1 और गोमती नगर के 1 रोगी शामिल हैं।

16 क्वारंटीन

केजीएमयू में पित्त की थैली के कैंसर से ग्रसित 55 वर्षीय महिला को सर्जिकल ऑकोलॉजी विभाग में भर्ती किया गया था। कोरोना जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। जिसके बाद महिला को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। उनके संपर्क में आये 8 डॉक्टर्स और 8 अन्य मेडिकल स्टॉफ को क्वारंटीन कराया गया है। वार्ड का सेनेटाइज करा लिया गया है। संपर्क में आये 16 लोगों की जांच पांच दिनों के बाद की जायेगी।

40 मरीजों ने कोरोना को हराया

राजधानी में कोरोना संक्रमण से ठीक हो रहे मरीजों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है। सोमवार को कुल 40 मरीजों ने कोरोना वायरस को मात दिया है। इसमें केजीएमयू से 1, पीजीआई से 2, एलबीआरएन से 11, आरएमएल से 15, आरएसएम से 6 और ईएसआई से 5 मरीज पूरी तरह ठीक होने के बाद डिस्चार्ज कर दिये गये हैं। यह सभी 14 दिनों तक होम क्वारंटीन में रहेंगे।

1 हजार से ज्यादा सैंपल कलेक्ट

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने घर-घर स्क्रीनिंग अभियान शुरू किया है। ऐसे में सोमवार को 1920 टीमों व 384 सुपरवाइजर द्वारा कुल 59867 घर का निरीक्षण करते हुये रिकॉर्ड 2,77,377 लोगों का के स्वास्थ्य ब्यौरा जुटाया। वहीं टीम द्वारा एक दिन में सबसे ज्यादा 924 सैंपल को जांच के लिए केजीएमयू भेजा गया है।

पूर्व उप महापौर समेत दो की कोरोना से मौत

राजधानी में सोमवार को पूर्व उप महापौर समेत दो की कोरोना से मौत हो गई। एक मरीज का इलाज पीजीआई में तो दूसरे का केजीएमयू में चल रहा था। ऐसे में शहर में कोरोना से मौतों का आंकड़ा 22 पर पहुंच गया है। इसमें दूसरा मृतक बाराबंकी निवासी है।

जुकाम-बुखार की थी शिकायत

पूर्व उप महापौर अभय सेठ को जुकाम-बुखार की शिकायत थी। 29 जून को उनमें कोरोना की पुष्टि हुई। इस दौरान परिवार के सात लोगों की जांच की गई। उनकी पत्नी में भी वायरस की पुष्टि हुई। दोनों को इलाज के लिए पीजीआई में भर्ती कराया गया। वहां इलाज के दौरान सोमवार को पूर्व उप महापौर की मौत हो गई। पीजीआई प्रशासन ने शव को विड प्रोटोकॉल के तहत पैककर परिवारजनों को सौंप दिया है।

वहीं दूसरे मरीज की मौत केजीएमयू में हुई। मंडी परिषद में लिपिक पद पर कार्यरत बाराबंकी के सतरिख निवासी राजकिशोर को रविवार रात 10:30 बजे ट्रॉमा सेंटर लाया गया था। मीडिया प्रभारी डॉ। सुधीर सिंह के मुताबिक मरीज को ट्रॉमा के स्क्री¨नग हो¨ल्डग एरिया में भर्ती किया गया था। यहां से रात करीब एक बजे इमरजेंसी मेडिसिन विभाग में शिफ्ट कर दिया गया। जांच में कोरोना की पुष्टि हुई। मरीज अस्थमा व शुगर से ग्रसित था। उसके लोअर रेस्परेटरी ट्रैक्ट में इंफेक्शन बढ़ गया था। मरीज के लंग्स ने काम करना बंद कर दिया था। डॉक्टर्स के काफी प्रयास के बावजूद सोमवार दोपहर 12:48 बजे उसकी मौत हो गई।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.