अटल व टंडन के नाम पर होंगे दोनों नये फ्लाईओवर्स

Updated Date: Wed, 21 Oct 2020 01:08 PM (IST)

- लालकुआं-राजेंद्र नगर और हैदरगंज-मीना बेकरी फ्लाईओवर्स का रक्षामंत्री राजनाथ सिंह व सीएम योगी ने किया वर्चुअली लोकार्पण

- कहा, पूर्वाचल एक्सप्रेस-वे और आगरा एक्सप्रेस वे को जोड़ेंगे

LUCKNOW : लंबे इंतजार के बाद आखिरकार पुराने शहर को जाम से निजात दिलाने के लिये राजधानीवासियों को दो नये फ्लाईओवर्स की सौगात मिल गयी। लखनऊ के सांसद व रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को लालकुआं-राजेंद्र नगर और हैदरगंज-मीना बेकरी फ्लाईओवर्स का वर्चुअली लोकार्पण किया। इस मौके पर रक्षामंत्री ने कहा कि एक फ्लाईओवर का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी व दूसरे फ्लाईओवर का नाम राजधानी के पूर्व सांसद लालजी टंडन के नाम पर होगा।

इलाके में बढे़गा व्यवसाय

वर्चुअली लोकार्पण के बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बांसमंडी और लाटूश रोड में जाम रहता है। इन फ्लाईओवर्स के शुरू होने से जाम खत्म होगा। इससे इस इलाके में व्यापारिक गतिविधियां तेज होंगी और व्यापारियों को लाभ होगा। कहा, हैदरगंज से मीना बेकरी तक फ्लाईओवर भी बेहद अहम है। इससे चौक, नक्खास, आलमनगर, आलमबाग तक रास्ता सुलभ रहेगा। रक्षामंत्री ने कहा कि फ्लाईओवर्स के नीचे सड़क तुरंत दुरुस्त करवायी जाएं। नीचे अतिक्रमण न हो, इसके लिये ग्रीन एरिया बनाया जाए और उसे रेलिंग से कवर्ड किया जाये। उन्होंने सेतु निगम के अफसरों को बधाई दी कहा, स्मार्ट सिटी तभी बनती है जब इंफ्रास्ट्रक्चर स्मार्ट होता है। उन्होंने घोषणा की कि एक फ्लाईओवर का नाम अटल बिहारी वाजपेयी और एक लालजी टंडन के नाम पर होगा।

सीएम को दिया धन्यवाद

कोरोना संकट के बावजूद दोनों फ्लाईओवर्स रिकॉर्ड समय में तैयार होने पर रक्षामंत्री ने कहा कि 'मैं सीएम योगी को धन्यवाद देता हूं, आपके सहयोग की जितनी भी प्रशंसा करूं कम है। इन परियोजनाओं का लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। राजधानी में ट्रैफिक का दबाव बहुत बढ़ रहा है। कोरोना काल में भी रिकॉर्ड समय में पुल बनकर तैयार हो गए। आठ लेन की आउटर रिंग रोड भी बड़ा प्रोजेक्ट है। दिसंबर 2021 तक इसका काम भी पूरा हो जाएगा। लखनऊ-कानपुर एक्सप्रेसवे भी स्वीकृत है। हरदोई रोड नेशनल हाइवे हो गया है और चार लेन का बन रहा है।

'लखनऊ को मेट्रोपोलिटन सिटी बनाने का प्रयास'

इस मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भविष्य में आउटर रिंग रोड को पूर्वाचल एक्सप्रेसवे और आगरा एक्सप्रेसवे से जोड़ा जाएगा। जिससे लखनऊ का अधिक विकास होगा। उन्होंने कहा कि राजनाथ सिंह के रक्षामंत्री बनने के बाद लोगों को बहुत आसानी हुई है। एनजीटी और रक्षा मंत्रालय का सहयोग भी बढ़ा है। आपकी परियोजनाओं से लाभ होगा, समय-सीमा के भीतर काम पूरा किया जाएगा और लखनऊ को मेट्रोपोलिटन सिटी बनाने का प्रयास किया जाएगा।

बॉक्स

अटल जी का सपना होगा पूरा

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि आज का दिन बेहद महत्वपूर्ण है। इन दोनों फ्लाईओवर्स के शुरू होने से पूरे इलाके के लोगों को खासी राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि राजधानी के लिये कैंसर इंस्टीट्यूट बहुत बड़ी बात है। वर्तमान में राजधानी में 15 फ्लाईओवर्स बन रहे हैं। जिसके लिये रक्षामंत्री का प्रयास बेहद महत्वपूर्ण है। रक्षामंत्री देश के अलावा अपने संसदीय क्षेत्र का भी ख्याल रख रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब अटल जी का सपना पूरा होगा।

बॉ

'लोगों की दुश्वारियां होंगी कम'

विधि एवं न्यायमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि इस इलाके में बहुत जाम लगता था। राजनाथ सिंह का आभार है, उन्होंने यह दो फ्लाईओवर्स शुरू किये। इससे इस इलाके का विकास होगा, लोगों की दुश् वारियां कम होंगी। टाटा मेमोरियल मुंबई के साथ कैंसर हॉस्पिटल का एमओयू हो गया है। ऑपरेशन थियेटर और 54 बेड एक्टिव और 30 डॉक्टर हैं। इसके लिये 850 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गयी है।

बॉक्स

लखनऊ आएंगी विदेशी कंपनियां

सांसद प्रतिनिधि दिवाकर त्रिपाठी ने कहा कि राजधानी में बेहद महत्वपूर्ण काम हो रहा है। कोरियाई कंपनी भी राजधानी में फैक्ट्री लगाएगी। उन्होंने कहा कि इसका बेसिक थीम यह है कि लखनऊ में इतना रोजगार सृजित हो कि युवाओं को लखनऊ में ही रोजगार मिले और उन्हें बाहर न जाना पड़े। कहा, कई विदेशी कंपनियों को लखनऊ लाने की तैयारी की जा रही है।

बॉ

आठ लाख लोगों को मिली बड़ी राहत

- राजधानी में करीब दो सौ करोड़ रुपये की लागत से बनाए गए दोनों फ्लाईओवर्स से जाम से जूझ रहे करीब आठ लाख लोगों का सफर आसान होगा।

- गुरु गोविंद सिंह मार्ग लालकुआं से राजेंद्र नगर तक फ्लाईओवर 1527.88 मीटर लंबा है। जिस पर करीब 133 करोड़ की लागत आई है।

- इसके जरिये गुरु गोविंद सिंह मार्ग, हुसैनगंज, बांसमंडी, नाका, डीएवी कॉलेज से ऐशबाग जाने वाले लोगों को बहुत मिलेगी। यह तीन लेन का फ्लाईओवर है।

- हैदरगंज-मीना बेकरी फ्लाईओवर की लागत करीब 65 करोड़ रुपये है। इस फ्लाईओवर की लंबाई 908.05 मीटर है।

- इसके बनने से बुलाकी अड्डा, राजाजीपुरम, नक्खास, हैदरगंज, आलमबाग, आलमनगर, तालकटोरा, ऐशबाग के लोगों को राहत मिल गई है।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.