चिनहट के मटियारी स्थित एक हॉस्टल के कमरे में मंगलवार सुबह युवक का शव लटकता मिला। युवक के पैर जमीन से छू रहे थे जिसके चलते परिजनों ने अनहोनी की आशंका जताई है। मृतक के बड़े भाई ने रूम पार्टनर एक हॉस्पिटल में काम करने वाली युवती और हॉस्टल मालिक पर हत्या का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है।


लखनऊ (ब्यूरो)। कानपुर के शास्त्री नगर निवासी ऋषभ (23) विभूतीखंड स्थित एक कॅाल सेंटर में नौकरी करता था। ऋ षभ के बड़े भाई विक्की ने बताया कि डेढ़ माह से उसका भाई मटियारी के पास एक हॉस्टल में रह रहा था। कानपुर के ही चमनगंज में रहने वाला उसका साथी सनी न्यूटन भी साथ में रहता था। पुलिस के मुताबिक सुबह हॉस्टल में रहने वाले बच्चों ने फोन पर सूचना दी कि ऋ षभ ने आत्महत्या कर ली है। वहां पहुंचे तो पता चला कि सोमवार देर रात ऋ षभ के पड़ोस में रहने वाले उसके साथी कमरे का दरवाजा खटखटा रहे थे, लेकिन कोई जवाब न मिलने पर वह अपने रूम में चले गए। मंगलवार को सनी काम पर लौटा तो वह दरवाजा खटखटाता रहा। इसके बाद उसने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस दरवाजा तोड़ कर अंदर पहुंची और एंगल के सहारे फंदे पर लटके शव को नीचे उतारा।

भाई ने लगाया हत्या का आरोप
ऋषभ के भाई विक्की ने बताया कि एक हॉस्पिटल में नौकरी करने वाली युवती, रूम पार्टनर सनी और हॉस्टल मालिक पुनीत राय ने मिलकर उसके भाई की हत्या कर दी है। विक्की के मुताबिक युवती मूलरूप से गोरखपुर की रहने वाली है। यहां एक हॉस्पिटल में नौकरी करती है। उधर, पुलिस आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है। इंस्पेक्टर चिनहट घनश्याम मणि त्रिपाठी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी।मां को किया था फोनविक्की ने बताया कि रात करीब 12 बजे ऋ षभ ने घर पर मम्मी को फोन किया था। अच्छे से बात भी कर रहा था। उसके बात करने के तरीके से लग नहीं रहा था कि वह खुश नहीं है।

Posted By: Inextlive