एक माह में 27318 को राहत पहुंचा चुका है इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम

Updated Date: Fri, 08 May 2020 05:45 AM (IST)

- 80 फीसद से ज्यादा शिकायतें भोजन और राशन पैकेट की

- दूसरे प्रदेशों के राजधानी में फंसे लोग भी पास के लिये लगा रहे गुहार

- गैस, दवा तक पहुंचाने में मदद कर रहा कंट्रोल रूम

LUCKNOW : कोरोना संकट के मद्देनजर जारी लॉकडाउन में जरूरतमंदों की मदद के लिये बनाए गए इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम को गठित हुए एक माह पूरा हो चुका है। इस मियाद में यह कंट्रोल रूम 27 हजार से ज्यादा लोगों को राहत पहुंचा चुका है। कॉल करने वालों में सर्वाधिक भोजन और राशन के जरूरतमंद हैं। जिन्हें शिकायत मिलने के दो घंटे के भीतर मदद पहुंचाकर फीडबैक लिया जा रहा है। यही नहीं, कंट्रोल रूम जरूरतमंदों को दवा से लेकर गैस सिलिंडर पहुंचाने में भी मदद कर रहा है। दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने शनिवार को इंटीग्रेटेड आपदा राहत कंट्रोल रूम का दौरा कर हालात की जानकारी ली। पेश है पंकज अवस्थी की विशेष रिपोर्ट

80 फीसद से ज्यादा कॉल भोजन व राशन के लिये

इंटीग्रेटेड आपदा रात कंट्रोल रूम की स्टाफ मैनेजर सविता सिंह ने बताया कि 6 अप्रैल से शुरू किये गए इंटीग्रेटेड आपदा राहत कंट्रोल रूम में अब तक 27 हजार 318 शिकायतें प्राप्त हो चुकी हैं। इनमें 26 हजार 676 कंप्लेंट रिसॉल्व की जा चुकी हैं जबकि, 642 शिकायतों पर काम जारी है। कुल प्राप्त शिकायतों में सर्वाधिक करीब 80 फीसद पके भोजन और राशन के पैकेट से संबंधित हैं। इन सभी को महज दो घंटे में निस्तारित कर फीडबैक पॉजिटिव मिलने पर क्लोज कर दिया गया।

अलग-अलग तरह की शिकायतें

कंट्रोल रूम प्रभारी सुरेंद्र कुमार ने बताया कि 24 घंटे तीन शिफ्टों में काम करने वाले कंट्रोल रूम में भोजन व राशन के अलावा कई अन्य समस्याओं को लेकर लोग अपनी शिकायत दर्ज कराकर मदद मांग रहे हैं। कई लोगों ने दवा न मिलने की शिकायत की। उनसे दवा पूछकर ड्रग इंस्पेक्टर के जरिए उनके घरों तक पहुंचवाया जा रहा है। कई लोग गैस सिलिंडर की किल्लत बता चुके हैं, जिन्हें गैस सिलिंडर भी मुहैया कराया गया है।

बॉक्स

ट्रैवेल पास की लगा रहे गुहार

दूसरे राज्यों के राजधानी में फंसे लोग भी कंट्रोल रूम से आस लगाए बैठे हैं। प्रभारी सुरेंद्र कुमार ने बताया कि हर रोज भारी संख्या में ऐसे कॉलर्स कॉल करके ट्रैवेल पास बनाए जाने की मांग कर रहे हैं। उन्हें लॉकडाउन का पालन करने की नसीहत दी जा रही है।

बॉक्स

अब तक कितनी शिकायतें व निस्तारण

कुल शिकायतें 27318

निस्तारित 26676

पेंडिंग 642

बॉक्स

इन शिकायतों का हो रहा निदान

शिकायत का प्रकार शिकायत का उप प्रकार

1. यात्रा संबंधित -एक स्थान से दूसरे स्थान जाने से संबंधित

-ई-पास से संबंधित

-किसी अन्य राज्य से घर आने के संबंध में

2. खाद्य सामग्री संबंधित -खाद्य सामग्री संस्थानों की जानकारी लेना

-भोजन पैकेट न उपलब्ध कराया जाना

-ऑनलाइन खाना ऑर्डर करने से संबंधित

3. कोरोना टेस्ट से संबंधित -टेस्ट कहां कराया जा सकता है, इसकी जानकारी

4. कालाबाजारी से संबंधित -कालाबाजारी से संबंधित

-जमाखोरी से संबंधित

5. निर्धारित मूल्य से अधिक मूल्य होना -मास्क, सेनेटाइजर की ओवर प्राइसिंग

6. स्वच्छता संबंधित -क्षेत्र को सेनेटाइज कराने के संबंध में

-कूड़ा न उठाया जाना

7. दवाई संबंधित -दवाई हेतु मेडिकल स्टोर की जानकारी

-आवश्यक दवाइयों का उपलब्ध न हो पाना

8. आवश्यक सामग्री संबंधित -घरेलू आवश्यक सामग्री का न होना

-खाद्य सामग्री का न होना

-कंट्रोल से राशन न प्राप्त होना

-आवश्यक सामग्री वितरण हेतु पास संबंधित

-गैस सिलिंडर उपलब्ध न होना

बाक्स

आपदा राहत इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम नंबर

0522-2610144

0522-2622627

0522-2629229

0522-2610170

वर्जनफोटो लगाएं

कंट्रोल रूम में आने वाली शिकायतों में सर्वाधिक भोजन या राशन से संबंधित हैं। उन्हें दो घंटे के भीतर भोजन या राशन पहुंचवाया जा रहा है। अन्य शिकायतों पर भी तुरंत एक्शन लेते हुए संबंधित अधिकारियों के जरिए उनका निराकरण किया जा रहा है।

सविता सिंह, मैनेजर

कंट्रोल रूम

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.