ट्रैक पर शान से दौड़ी मेट्रो

Updated Date: Tue, 08 Sep 2020 07:20 AM (IST)

45 पैसेंजर्स ने सफर किया पहली मेट्रो में

02 हजार लोगों ने दोपहर 12 बजे तक किया सफर

07 हजार लोगों ने सोमवार को किया सफर

- 169 दिन बाद सोमवार से दोबारा शुरू हुई है मेट्रो सेवा

- हर स्टेशन पर व्यवस्थाएं रहीं पुख्ता, पैसेंजर्स भी दिखे अलर्ट

LUCKNOW:

169 दिन के लंबे इंतजार के बाद मेट्रो में सफर की खुशी पैसेंजर्स के चेहरे पर साफ देखने को मिल रही थी। मेट्रो में बैठा हर पैसेंजर खासा एक्साइटेड नजर आ रहा था। मेट्रो के रफ्तार पकड़ते ही इसमें बैठे लोग कोरोना महामारी को भूल सा गए और खो गए इस स्वर्णिम सफर को सहेजने में। खास बात यह रही कि एक तरफ जहां सभी स्टेशनों में मेट्रो प्रबंधन की ओर से कोविड से सुरक्षा संबंधी पुख्ता इंतजाम किए गए थे, वहीं दूसरी तरफ पैसेंजर्स खुद भी पूरी तरह सतर्क नजर आ रहे थे।

12 बजे तक दो हजार पैसेंजर्स

मेट्रो अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार, सुबह पहली ट्रेन में करीब 45 पैसेंजर्स ने सफर किया। वहीं दोपहर 12 बजे तक पैसेंजर्स की संख्या करीब 2 हजार के आसपास पहुंच गई। मैट्रो अधिकारियों के अनुसार सोमवार को कुल 7 हजार लोगों ने मेट्रो में सफर किया।

यंगस्टर्स में दिखा क्रेज

वैसे तो मेट्रो में हर एज के लोग नजर आए लेकिन सर्वाधिक भीड़ यंगस्टर्स की रही। ज्यादातर यंगस्टर्स अपने फ्रेंड्स संग मेट्रो स्टेशन पहुंचे थे। स्टेशन गेट पर थर्मल स्कैनिंग आदि होने के बाद जैसे ही ये स्टेशन के अंदर पहुंचे तो इनका उत्साह दोगुना हो गया। प्लेटफॉर्म पर आने के बाद सभी मेट्रो का बेसब्री से इंतजार करता दिखे। जैसे ही मेट्रो के आने का एनाउंसमेंट हुआ, तो मानो हर किसी के दिल की धड़कन बढ़ गई। मेट्रो के सामने आते ही सबके कदम तेजी से मेट्रो के अंदर की तरफ चल दिए। मेट्रो में बैठते ही यंगस्टर्स ने फ्रेंड्स संग खूब सेल्फियां लीं।

प्रमुख स्टेशन जहां ज्यादा दिखे लोग

- हजरतगंज

- हुसैनगंज

- सचिवालय

- चारबाग

- मुंशी पुलिया

- इंदिरा नगर

एमडी ने पैसेंजर्स से की बात

चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट से लेकर मुंशी पुलिया तक संपूर्ण उत्तर-दक्षिण कॉरिडोर पर लखनऊ मेट्रो ने एक बार फिर रफ्तार भरना शुरू कर दिया है। लखनऊ मेट्रो ने मेट्रो ट्रेनों और स्टेशनों की साफ-सफाई और सेनेटाइज़ेशन को नियमित कर दिया है। मेट्रो एमडी कुमार केशव ने पहले दिन मुंशी पुलिया से हजरतगंज मेट्रो स्टेशन तक सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया और यात्रियों से बात कर उनकी प्रतिक्रिया जानी। यात्रियों ने सभी व्यवस्थाओं पर पूरी संतुष्टि जताई।

बिजनेस कॉंटिन्युटी प्लान तैयार

यात्री सेवाओं को ध्यान में रखते हुए यूपी मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने लखनऊ मेट्रो के लिए विस्तृत बिजनेस कॉन्टिन्युटी प्लान तैयार किया है, जिसमें यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने से संबंधित हर मानक दिशा-निर्देशों का विस्तार से वर्णन है। यात्री कंपनी की वेबसाइट और सोशल मीडिया हैंडल्स पर इस प्लान की कॉपी देख सकते हैं और आश्वस्त हो सकते हैं कि मेट्रो शहर में यात्रा करने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट का सबसे सुरक्षित साधन है। मेट्रो एमडी का कहना है कि यात्रियों की सुरक्षा और सहूलियत से जुड़ी हर छोटी से छोटी बात का हम ध्यान रखते हैं। मैं लखनऊ वासियों से सोशल-डिस्टेंसिंग के साथ मेट्रो सेवाओं का उपयोग करने और मेट्रो को एक बार फिर सेवा का मौका देने की अपील करता हूं।

पैसेंजर से बातचीत

सभी मेट्रो स्टेशनों में कोविड से सुरक्षा संबंधी सभी कदम उठाए गए हैं। निश्चित रूप से मेट्रो में सफर करना बेहद सुरक्षित है।

शुभांगी

लंबे समय से मेट्रो के चलने का इंतजार कर रहे थे, अब जाकर इंतजार खत्म हुआ है। मेट्रो में सफर करके खासा अच्छा फील हो रहा है।

कविता

मेट्रो के अंदर सभी पैसेंजर मास्क लगाए हैं और सभी स्टेशनों में थर्मल स्कैनिंग आदि की व्यवस्था है। मतलब मेट्रो में सफर करना सुरक्षित है।

लक्ष्य

टोकन भी सेनेटाइज करके ही दिए जा रहे हैं। स्टेशन परिसर से लेकर मेट्रो के अंदर तक साफ सफाई का पूरी तरह से ध्यान रखा गया है।

मानव

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.