नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी की छात्रा से कैंपस में घुसकर छेड़छाड़

2020-02-20T05:45:47Z

- नशे में धुत कैटरिंग कारीगर ने कैंपस की दीवार फंद छात्रा को दबोचा

- शोर मचाने पर भागा, शिनाख्त परेड में पकड़ा गया आरोपी शोहदा

- चीफ प्रॉक्टर की तहरीर पर आशियाना थाने में केस दर्ज

LUCKNOW : डॉ। राम मनोहर लोहिया नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी की फ‌र्स्ट ईयर की छात्रा से शोहदे ने कैंपस में घुसकर छेड़छाड़ की। नशे में धुत शोहदा कैंपस की दीवार फांद कर अंदर दाखिल हुआ और छात्रा को दबोच लिया। छात्रा के शोर मचाने पर साथी छात्र व सिक्योरिटी गार्ड मौके पर पहुंच गए। उन्हें देख कर शोहदा दीवार फांद कर वापस भाग गया। सूचना पर पुलिस के पहुंचने से पहले ही सिक्योरिटी गार्ड ने शोहदे को दबोच लिया और उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

दीवार फंदा कर कैंपस में घुसा

डॉ। राम मनोहर लोहिया नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी में फ‌र्स्ट ईयर की छात्रा हॉस्टल में रहती है। वह मंगलवार रात 11.45 बजे कैंपस स्थित बास्केटबॉल ग्राउंड में टहल रही थी। इस दौरान ग्राउंड के पीछे स्थित अंबेडकर सभागार की जाली फांद कर एक युवक अंदर दाखिल हुआ। नशे में धुत युवक छात्रा से छेड़छाड़ करने लगा और उसे दबोचने की कोशिश करने लगा। छात्रा के शोर मचाने पर शोहदा जाली फांद कर भाग निकला। चीख पुकार सुनकर छात्रा की सहेली मौके पर पहुंची गई। उन्होंने चीफ सिक्योरिटी अफसरों को फोन कर घटना की सूचना दी।

कैटरिंग स्टाफ की शिनाख्त परेड

लॉ यूनिवर्सिटी के ठीक पीछे अंबेडकर सभागार है, जहां पिछले तीन दिनों से एकल कुंभ कार्यक्रम चल रहा है। कार्यक्रम में कैटरिंग की जिम्मेदारी एक प्राइवेट कैटर्स को दी गई है। छात्रा से जिस स्थान पर छेड़छाड़ की गई वहां कैटरिंग का स्टाफ काम करता है। इस जगह पर चीफ सिक्योरिटी अफसर समेत यूनिवर्सिटी के गार्ड पहुंचे। उन्होंने देर रात काम कर रहे कैटरिंग स्टाफ को बुलाया। इस दौरान पूरे मामले की सूचना आशियाना पुलिस को भी दी गई। शोहदे की पहचान के लिए कैटरिंग स्टाफ की छात्रा के सामने शिनाख्त परेड कराई गई। इस बीच शोहदा सबकी नजर से बचकर भागने का प्रयास कर रहा था, तभी यूनिवर्सिटी के गार्ड ने उसे दबोच लिया और आशियाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया।

आक्रोशित छात्रों ने किया प्रदर्शन

बुधवार सुबह घटना की जानकारी पर स्टूडेंट्स ने क्लास का बहिष्कार कर प्रशासनिक भवन का घेराव शुरू कर दिया। प्रशासनिक भवन के बाहर धरने पर बैठे आक्रोशित स्टूडेंट्स का आरोप था कि उनकी सुरक्षा में यूनिवर्सिटी प्रशासन लापरवाही बरत रहा है। कैंपस में करीब 40 सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, जिसमें ज्यादातर खराब हैं। वहीं जिस जगह पर छात्रा के साथ घटना हुई वहां सीसीटीवी नहीं लगे हैं। इसके अलावा कैंपस की बाउंड्रीवाल नहीं है, केवल जाली लगी है। ऐसे में कोई भी व्यक्ति आसानी से फांद कर कैंपस के भीतर पहुंच सकता है। वहां से स्टूडेंट्स का हॉस्टल महज दो सौ मीटर की दूरी पर है।

प्रॉक्टर की तहरीर पर केस दर्ज

छात्रा के साथ हुई छेड़छाड़ के मामले में प्रॉक्टर डॉ। मनीष सिंह ने आशियाना थाने में आरोपी के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 294 के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। हालांकि घटना के कई घंटे बाद भी पुलिस ने उसका मेडिकल परीक्षण नहीं कराया, जिससे घटना के समय नशे में होने की पुष्टि नहीं हो सकेगी।

कोट

रेलिंग फांद कर आने वाले आरोपी को रात में ही पकड़कर पुलिस को सौंप दिया था। सुबह उसके खिलाफ मामला दर्ज करने के लिए यूनिवर्सिटी की ओर से आशियाना थाने में केस दर्ज कराया गया है।

- प्रो। मनीष कुमार सिंह, चीफ प्रॉक्टर, लोहिया लॉ यूनिवर्सिटी

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.