बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग के गोले गायब, बिना माक्स पहुंच रहे लोग

Updated Date: Wed, 25 Nov 2020 12:02 PM (IST)

- कोविड 19 के नियमों की सरेआम उड़ाई जा रही धज्जियां

- कार्रवाई के नाम पर पुलिस कर रही खानापूर्ति

LUCKNOW : कोरोना महामारी की सेकंड वेब को लेकर एक तरफ सरकारी तंत्र में चिंता की लकीर है वहीं दूसरी तरफ इससे बेखबर लोग सोशल डिस्टेंसिंग तो दूर माक्स लगाने में भी परहेज कर रहे हैं। पीएम मोदी ने मंगलवार को कई राज्यों के सीएम के साथ सेकंड वेब को कंट्रोल करने को लेकर कई राज्य के सीएम से मीटिंग की, जिसमें यूपी के सीएम भी शामिल थे। वहीं मंगलवार को शहर के प्रमुख बाजारों में जो तस्वीर देखने को मिली उससे तो यही लगता है कोरोना को लेकर सरकार को फिक्रमंद है, लेकिन लोग हैं कि मानने को तैयार नहीं हैं। पेश है एक रिपोर्ट।

गायब हो गए सोशल डिस्टेंसिंग के गोले

लॉकडाउन के बाद अनलॉक हुए बाजारों में ग्राहकों के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करने के लिए एक मीटर की दूरी पर गोले बनाए गए थे। यह गोले बड़ी दुकान से लेकर मोहल्ले की जनरल स्टोर के बाहर भी नजर आते थे, लेकिन समय के साथ गोले तो गायब ही हो गये, साथ ही लोग उसका मतलब भी भूल गए।

माक्स गायब, केवल खानापूर्ति

फेस्टिव सीजन के बाद बाजारों में रौनक बढ़ गई, लेकिन उसके साथ ही ग्राहक और दुकानदारों की लापरवाही भी दोगुनी हो गई। ग्राहकों और दुकानदारों के चेहरे से माक्स गायब हो गए। कुछ नियमों को फॉलो भी कर रहे हैं, लेकिन माक्स लगाने के नाम पर केवल कोरम को पूरा किया जा रहा है। माक्स से न तो मुंह ढक रहा और न ही नाक।

स्थान- महानगर कपूरथला

टाइम - दोपहर 1.00 बजे

कान में माक्स फंसा कर रहे नियम फालो

अलीगंज के कपूरथला मार्केट में कई लोग माक्स के साथ नजर तो आए, लेकिन न तो उनके मुंह ढके थे और न ही नाक। पढ़े लिखे वर्ग से आने वाले यूथ भी कोविड 19 के नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए साफ नजर आए। सोशल डिस्टेंसिंग की बात तो बहुत दूर की कौड़ी दिखी। शॉप के बाहर एक साथ खड़े यूथ पार्टी मानने में बिजी नजर आए।

स्थान- हजरतगंज जापलिंग रोड

टाइम- 1.30 बजे

सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ाई जा रही धज्जियां

हजरतगंज वीवीआई इलाके में शुमार है। यहां कई बड़े अफसरों के साथ-साथ शासन व प्रशासन के अफसर रहते हैं। यहां भी कोविड 19 की सरेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। दुकानों के बाहर न तो सोशल डिस्टेंसिंग के गोल नजर आए और न ही दुकानों के बाहर खड़े लोगों के चेहरे पर माक्स। सेनेटाइजर व अन्य बचाव के संसाधन तो कोसो दूर नजर आए।

स्थान- कैसरबाग- लालबाग

टाइम- दोपहर 2 बजे

हमें नहीं है कोरोना का खौफ

लालबाग में ऑटो पा‌र्ट्स की सबसे बड़ी मंडी है। यहां हर दिन हजारों लोग सामान खरीदने आते हैं। यही वह एरिया है जहां कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज पाए गए थे और एरिया को हॉट स्पॉट बनाया गया था। कोरोना की सेकंड वेब का खौफ इलाके में व्यापारियों में खत्म सा नजर आ रहा है। यहां न तो दुकानों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग देखी गई और न ही यहां आने वाले लोगों के चेहरे पर माक्स था। यहां तक कि दुकानों में काम करने वाले स्टाफ भी बिना माक्स के लापरवाही से काम करते नजर आए।

स्थान- अमीनाबाद बाजार

टाइम- 2.15 बजे

इन्हें नहीं है वायरस का डर

अमीनाबाद बाजार में हजारों लोग खरीदारी करते नजर आए। इसमें सैकड़ों के चेहरे से माक्स गायब थे। वहां दुकानदार न तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते नजर आए और न ही ग्राहकों को सेनेटाइजर देकर वायरस से सुरक्षित करने के उपाय किये जा रहे थे। एक दूसरे से सटे लोग महामारी को बढ़ावा देने के लिए दावत देते नजर आए। पूछे जाने पर जवाब देते हैं क्या करें मजबूरी है।

कोट

कोरोना की सेकंड वेब के प्रति कई जगह लापरवाही देखी जा रही है। व्यापारियों के साथ-साथ ग्राहक भी कोविड 19 के नियमों की अनदेखी कर रहे हैं। सभी व्यापार मंडल के पदाधिकारियों के साथ मीटिंग कर कोविड 19 के नियमों का सख्ती से पालन कराने की अपील की जाएगी।

-देवेंद्र गुप्ता, कोषाध्यक्ष लखनऊ व्यापार मंडल

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.