अच्छे दिनों की आहट, कोरोना से जल्द राहत

Updated Date: Sat, 26 Sep 2020 02:48 PM (IST)

- अब तक एक रोगी एक स्वस्थ व्यक्ति को कर रहा था संक्रमित

- आठ दिनों में आठ हजार रोगी घटे, पॉजिटिविटी रेट भी कम

रुष्टयहृह्रङ्ख : यूपी में कोरोना संक्रमण के फैलने की रफ्तार कम हो गई है। अभी तक संक्रमण फैलने की दर (रिप्रोडक्शन वैल्यू) एक थी, जो अब घटकर 0.9 हो गई है। यानी एक फीसद की दर में एक रोगी एक स्वस्थ व्यक्ति को संक्रमित कर रहा था, लेकिन यह दर घटने के बाद अब एक रोगी दूसरे को पूरी तरह संक्रमित नहीं कर पा रहा।

अभी बरतें पूरी सतर्कता

स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने लोगों से अपील की है कि वह अब भी पूरी सर्तकता बरतें, क्योंकि दूसरे राज्यों में कोरोना संक्रमण की दर कम होने के बाद जब लोगों ने लापरवाही बरती तो संक्रमण भी बढ़ गया। उधर डॉ.राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान के मेडिसिन विभाग के अध्यक्ष डॉ.विक्रम सिंह कहते हैं कि रिप्रोडक्शन वैल्यू एक से कम होने का सीधा मतलब है कि अब वायरस एक व्यक्ति को संक्रमित नहीं कर पा रहा। अगर यह 0.9 से घटकर 0.5 पर पहुंच जाए तो संक्रमण का प्रभाव काफी काबू में आकर खत्म होने की ओर बढ़ने लगेगा।

नए मरीजों की संख्या में कमी

प्रदेश में पिछले आठ दिनों से लगातार नए रोगी कम मिल रहे हैं और उसके मुकाबले स्वस्थ होने वाले कहीं ज्यादा हैं। यही कारण है कि बीते आठ दिनों में 8,491 मरीज घटे हैं। अब एक्टिव केस घटकर 59,397 हो गए हैं। वहीं अब तक कुल 3.78 लाख रोगियों में से 3.13 लाख स्वस्थ हो चुके हैं। रिकवरी रेट 82.86 फीसद हो गया है। बेहतर रिकवरी रेट के साथ पॉजिटिविटी रेट भी कम है। शुक्रवार को 1.64 लाख लोगों की कोरोना जांच की गई, जिसमें 4,519 यानी सिर्फ 2.7 फीसद ही संक्रमित मिले। दो दिन पहले यह 3.16 फीसद और पिछले महीने अगस्त में 4.8 प्रतिशत के आसपास था।

--

नए मरीज 4,519, स्वस्थ हुए 6,075

यूपी में शुक्रवार को कोरोना के 4,519 नए रोगी मिले। यह सितंबर में अब तक मिले सबसे कम मरीज हैं। इससे पहले गुरुवार को 4,674 मरीज मिले थे। वहीं शुक्रवार को भी लगातार आठवें दिन बीमार होने वालों से ज्यादा 6,075 मरीज ठीक हुए। अब एक्टिव केस घटकर 59,397 हो गए हैं। इतने मरीज 20 दिन पहले पांच सितंबर को थे।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.