जल्द बनेंगी कैंट की टूटी सड़कें

Updated Date: Thu, 01 Oct 2020 04:48 PM (IST)

कैंट की बोर्ड बैठक में कैंट विधायक ने टोल प्वाइंट्स कम किए जाने की कही बात

बंद पड़े वाटर एटीएम एनजीओ को देने पर बनी बोर्ड बैठक में सहमति

सदस्य मंजू गोयल बाकी सिविल सदस्यों द्वारा उनके खिलाफ लाए गए धारा-34 के मोशन पर बोलते हुए हो गई भावुक

Meerut। बुधवार को कैंट बोर्ड की बैठक में पहुंचे कैंट विधायक सत्य प्रकाश अग्रवाल ने कैंट बोर्ड के वाहन प्रवेश शुल्क के आगामी वर्ष के ठेके में तीन वसूली स्थल कम करने की बात रखी। साथ ही कहा कि ये तीनों जगह राष्ट्रीय राजमार्ग हैं और ये सड़कें कैंट बोर्ड की भी नहीं हैं। इनकी देखभाल पीडब्ल्यूडी द्वारा की जाती है और उक्त विभाग द्वारा भी कुल चार जगहों पर वसूली किए जाने पर आपत्ति जताते हुए कैंट बोर्ड को पत्र लिखा है। विदित हो कि कैंट विधायक शुरू से ही उक्त नए स्थलों पर टोल वसूली का विरोध कर रहे थे परंतु मामला कोर्ट में जाने पर शांत हो गए थे। मगर अब जब आगामी वर्ष के लिए पुन: टेंडर आया तो उनके द्वारा मात्र आठ प्वाइंट पर ही टेंडर छोड़े जाने की बात कही गई ताकि आगे कोई विवाद न हो। प्रशासनिक सदस्य एडीएम द्वारा भी उक्त राजमार्गो पर व्हीकल एंट्री पर शुल्क न वसूलने की बात रखी। बोर्ड अध्यक्ष ने अगली बोर्ड बैठक में विचार करके आगामी वर्ष का टेंडर बनाने का आश्वासन कैंट विधायक को दिया।

प्रस्ताव पर भावुक हुई मंजू

बोर्ड बैठक में सदस्य मंजू गोयल बाकी सिविल सदस्यों द्वारा उनके खिलाफ लाए गए धारा-34 के मोशन पर बोलते हुए भावुक हो गई। उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ जो अवैध निर्माण करने और मोबाइल टावर घर मे लगाने के आरोप दूसरे सदस्यों द्वारा लगाए गए हैं। उसके जवाब देने हेतु उन्हें एक माह का समय दिया जाए। मंजू गोयल ने अन्य सदस्यों पर भी अवैध निर्माण करने के आरोप लगाए और कहा कि एक माह का समय मिले तो सबके खिलाफ प्रमाण लेकर आएंगी। कैंट बोर्ड प्रवक्ता ने बताया के उक्त मोशन को मध्य कमान को प्रेषित किया जाएगा।

एक-दूसरे की खिलाफत

बोर्ड में भाजपा का बहुमत है और उपाध्यक्ष विपिन सोढ़ी भाजपा द्वारा ही उपाध्यक्ष बनाए गए लेकिन फिर भी भाजपा के सदस्यों में ही तलवारें खींची हुई हैं। आपसी टकराव इतना बढ़ गया कि आज बोर्ड बैठक में मंजू गोयल की सदस्यता समाप्त किए जाने का भी मोशन आ गया। मगर उक्त विषय पर भाजपा संगठन ने खामोशी साध ली है। जबकि कैंट बोर्ड की जानकारी रखने वाले भाजपाइयों का मानना है के उक्त विषय में पार्टी को दखल देकर सामंजस्य बनाना चाहिए, क्योंकि आपसी टकराव में सदस्य जनहित पर ज्यादा ध्यान नही दे पाते।

गैस पाइपलाइन डालने की समीक्षा

बोर्ड बैठक में गेल गैस पाइपलाइन डालने की समीक्षा करने का निर्णय लिया गया और कंपनी को पूरा कैंट क्षेत्र कवर करने की बात कही गई। इसके साथ ही वाहन प्रवेश शुल्क में ठेकेदार को कोरोना राहत समाप्त की गई है। बोर्ड बैठक में निर्णय लिया गया के अक्टूबर माह से ठेकेदार टेंडर में वर्णित रकम चार लाख 21 हजार रूपये ही प्रतिदिन जमा करेगा और पिछले दिनों के रेट बोर्ड द्वारा समीक्षा करके तय होंगे। इसके साथ ही डोर टू डोर कूड़ा ठेका सर्विस पर बात हुई। बोर्ड बैठक में डोर टू डोर कूड़ा उठाने के लिए ठेकेदार को 15 दिन में एग्रीमेंट करने को कहा गया। कैंट के वाटर एटीएम एनजीओ के हवाले किए गए हैं। कैंट के समस्त वाटर एटीएम को ग्रोइंग पीपुल्स नाम की सामाजिक संस्था को देखभाल करने हेतु दिए जाने पर सहमति बनी, जिससे बंद पड़े वाटर एटीएम दोबारा शुरू हो सकें।

पुराने एआरवी से वसूले टैक्स

बैठक के दौरान उपाध्यक्ष विपिन सोढ़ी ओर अन्य सदस्यों का प्रस्ताव था कि कोरोना के चलते हर तीसरे वर्ष किए जाने वाला टैक्स एसेस्मेंट न किया जाए। साथ ही अगले तीन वर्ष भी पुरानी एआरवी से ही टैक्स वसूला जाए। जिससे कैंट की जनता को राहत मिल सके। इस पर सीईओ प्रसाद चव्हाण ने कहा कि ये कानूनी मसला है, इस विषय पर पहले कानूनी राय ले जी जाए। वहीं सदस्यों की मांग पर इंजीनियरिंग सेक्शन द्वारा 50 सूत्रीय रिपेयर एस्टीमेट बनाकर बोर्ड को प्रस्तावित किया गया। जिसे बजट होने पर टेंडर करने पर सहमति बनी। सहायक अभियंता पीयूष गौतम ने बताया के शीघ्र माल रोड व बाकी सड़कें बनकर तैयार होंगी।

ये थे अन्य विषय

सिविल एरिया कमेटी के प्रस्तावों पर लगी मुहर

सर्कुलर एजेंडा भी हुए पास

रिक्शा ठेला लाइसेंस टेंडर हुआ एप्रूव

रिवेन्यू विभाग के कोरोना के कारण बंद साइकिल स्टैंड व तहबाजारी के ठेके दोबार शुरू करने पर बनी सहमति

अप्रैल-मई-जून के खर्च लेखे हुए पास

स्ट्रीट लाइट ठेकेदार के कार्य की समीक्षा की जाएगी

सदस्य बीना वाधवा ने टूटी सड़कें शीघ्र बनाने की बात कही

सदस्य बुशरा कमाल के प्रस्ताव पर लालकुर्ती थाने के पास का कूड़ा घर समाप्त करने पर सहमति

सदस्य धर्र्मद्र सोनकर द्वारा टंडेल मोहल्ले के कूड़ा घर को हटाने और वहां के सामूहिक शौचालय की रिपेयर करने का प्रस्ताव दिया गया

अवैध निर्माण की अपीलों को बोर्ड द्वारा नोट किया गया

ये हुए बोर्ड बैठक में शामिल

बोर्ड बैठक में बोर्ड अध्यक्ष स्टेशन कमांडर ब्रिगेडियर अर्जुन सिंह राठौर, उपाध्यक्ष विपिन सोढ़ी, सदस्य रिनी जैन, बुशरा कमाल, नीरज राठौर, अनिल जैन, मंजू गोयल, धर्मेंद्र सोनकर, जीई साउथ एनए मैतेई व अन्य आर्मी सदस्यों के अलावा कार्यालय अधीक्षक जयपाल तोमर व रेवेन्यू विभाग से हितेश कुमार भी मौजूद रहे।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.