विकास कार्याें में लापरवाही बर्दाश्त नहीं - सीएम योगी

Updated Date: Sat, 19 Sep 2020 02:48 PM (IST)

सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मेरठ मंडल के विकास कार्यो की समीक्षा की

मेरठ में ईएसआई अस्पताल का प्रस्ताव बनाकर भेजने के निर्देश

आरआरटीएस व एक्सप्रेस-वे कार्यो में तेजी लाने के निर्देश

Meerut। सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मेरठ मंडल के विकास कार्यो की समीक्षा की। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास कार्यो में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। विकास कार्यो को गुणवत्ता को ढंग से व समय के साथ पूरा कराने के निर्देश दिए। विकास कार्यो के लिए धनराशि की कोई कमी नहीं रहने दी जाए। सीएम ने 50 करोड़ रूपये से अधिक की लागत की परियोजनाओं, स्मार्ट सिटी, एक्सप्रेस-वे, गन्ना मूल्य भुगतान व कोविड नियंत्रण की स्थिति सहित अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं की समीक्षा की। जनप्रतिनिधियों ने कहा कि कोरोना महामारी को रोकने के लिए अच्छे प्रयास उठाए जा रहे है। सीएम ने यह भी कहा कि लोगों की समस्याओं का प्राथमिकता पर निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने मेरठ में ईएसआई अस्पताल के लिए विधायक मेरठ दक्षिण की मांग पर जिलाधिकारी मेरठ को प्रस्ताव बनाकर भेजने को निर्देशित किया। भ्रष्टाचारियों पर सख्त कार्रवाई करने के लिए कहा। भ्रष्टाचार पर सरकार की जीरो टॉलरेन्स की नीति है। सभी अधिकारी निष्ठा, लगन से काम करें। उन्होने आरआरटीएस, एक्सपप्रेस -वे आदि कार्यो को तेजी से पूरा करने के लिए कहा। सीएम ने नोएडा विकास प्राधिकरण, ग्रेटर नोएडा विकास प्राधिकरण व यमुना एक्सप्रेस -वे के कार्यो की भी समीक्षा की।

बेहतर हो संवाद

उन्होंने कहा कि बेहतर संवाद जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों के बीच में होना चाहिए। समस्याओं के समाधान का यह एक बेहतरीन तरीका है। बेहतर संवाद स्थापित कर समस्याओं का समाधान कराने से आम लोगों को सुविधा होगी। स्मार्ट सिटी व अमृत योजना के कार्याें में और गंभीरता से कार्य करें व उसमें तेजी लाएं। उन्होने कहा कि मंडल स्तर पर 15 दिन में तथा जनपद स्तर पर साप्ताहिक रूप से इन कार्यो की समीक्षा होनी चाहिए तथा प्रस्ताव को बनाकर समय से शासन को भेजे।

रिंग रोड से होगी सुविधा

आयुक्त ने कहा कि मेरठ रिंग रोड परियोजना के बन जाने से लोगों को सुविधा होगी। ट्रैफिक मैनेजमेंट में आसानी होगी । उन्होने कहा कि एनएचएआई इसे टेकओवर कर लें। उन्होने बताया कि गन्ना मूल्य भुगतान में पेराई सत्र 2019-20 में गन्ना किसानों को गन्ना मूल्य का 319609.67 लाख रूपये का भुगतान कर दिया गया है।

31 मार्च तक होगा पूरा

डीएम के। बालाजी ने बताया कि जनपद मेरठ में हस्तिनापुर में तहसील मवाना को तहसील चांदपुर बिजनौर से जोड़ने के लिए भी कुंड के नजदीक चेतावाला घाट पर गंगा नदी पर सेतु की अप्रोच रोड का निर्माण 86.72 करोड रूपये से कराया जा रहा है जो कि आगामी 31 मार्च 2021 तक पूर्ण होगा। न्यायालय मेरठ के कोर्ट रूम भवन का निर्माण 18.79 करोड़ रुपये से कराया गया है। मेरठ पुलिस लाईन परिसर में 47.74 करोड रूपये से ट्रांजिस्ट हास्टल का निर्माण कराया जाना है, जिसके कार्यस्थल पर स्थित पुराने भूखंडो के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई चल रही है।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.