'सोती'गंज

Updated Date: Sat, 24 Oct 2020 01:08 PM (IST)

सोतीगंज में वाहनों के कटान पर सोती रही पुलिस, अब इंटेलीजेंस रखेगी नजर

सोतीगंज के कबाडि़यों समेत पुलिस की कार्रवाई पर भी रखेगी नजर

कुख्यात राहुल काला, राहुल चक्की और मन्नू कबाड़ी समेत कई गुर्गो पर कसेगा शिकंजा

Meerut। सोतीगंज में चोरी के वाहनों का कटान रोकने के लिए अब पुलिस के साथ-साथ इंटेलीजेंस की नजर भी रहेगी। एडीजी ने एसएसपी को निर्देश दिए हैं कि सोतीगंज में वाहनों का कटान पूरी तरह से कंट्रोल किया जाना चाहिए। निर्देशों के तहत सोतीगंज में इंटेलीजेंस को भी तैनात किया जाए ताकि गोपनीय तरीके से पुलिस की कार्रवाई के साथ-साथ कबाडि़यों पर भी नजर रखी जा सके। इसके बाद एसएसपी ने इंटेलीजेंस की एक टीम सोतीगंज में निगरानी के लिए लगा दी है।

एसएसपी को सौपेगी रिपोर्ट

सोतीगंज में राहुल काला, राहुल चक्की और मन्नू कबाड़ी इस समय वाहनों के कटान के करने वाले कुख्यातों में शामिल हैं। सूत्रों के अनुसार यह भले ही इस समय पुलिस से छिपते घूम रहे हों, लेकिन इनके गुर्गे अब भी वाहनों का कटान सोतीगंज और आसपास के इलाकों में करा रहे हैं। जिस पर लगाम कस पाने में पुलिस नाकाम साबित हो रही है। अभी हाल में पुलिस ने सोतीगंज में कार्रवाई भी की है। नौचंदी और टीपी नगर पुलिस भी कार्रवाई कर चुकी है। अब एडीजी राजीव सब्बरवाल ने पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी अजय साहनी को सोतीगंज में इंटेलीजेंस अलर्ट करने के निर्देश दिए है। अब इंटेलीजेंस की टीम गोपनीय रिपोर्ट तैयार करके एसएसपी को देगी। जिसमें ये सामने आएगा कि कौन-कौन अवैध कटान के खेल में शामिल है। वहीं पुलिस इस मामले में क्या कार्रवाई कर रही है, इसको भी रिपोर्ट में शामिल किया जाएगा। वहीं एडीजी के आदेश आने के बाद भी खलबली मच गई है। पुलिस की सक्रियता भी सोतीगंज में बढ़ गई है। एएसपी कैंट ईरज राजा ने कहा है कि सोतीगंज में चोरी के वाहनों का कटान करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। सोतीगंज में कटान करने वाले और कटान के धंधे में शामिल लोगों को चिन्हि्त करने के साथ ही उन पर लगातार नजर रखने के लिए इंस्पेक्टर सदर बाजार को निर्देश दिए गए हैं।

पुलिस की दिलचस्पी नहीं

राहुल काला और राहुल चक्की पर कोतवाली और नौचंदी थाने में मुकदमा दर्ज है। बावजूद इसके पुलिस इन्हें पकड़ने में रुचि नहीं दिखा रही है। अभी तक जो भी एक्शन लिया गया है, वह सदर पुलिस द्वारा ही लिया गया है। जबकि नौचंदी थाना और कोतवाली पुलिस इनका नेटवर्क ट्रेस करने में फेल साबित हुई है।

बस परिचालक से कबाड़ी बना मन्नू

मन्नू कबाड़ी सबसे पहले बस परिचालक था। कम उम्र में ही मन्नू ने परिचालक की नौकरी शुरू कर दी थी। इसके बाद मन्नू वाहन चोरी में लिप्त हो गया। मेरठ, नोएडा, गाजियाबाद, दिल्ली और हरियाणा से वाहन चोरी करने शुरू कर दिए। इसके बाद मन्नू वाहनों के कटान के धंधे में उतर आया, जिसके बाद अब मन्नू पुलिस की वांटेड लिस्ट में शुमार हो गया है।

काला का खानदानी काम है कटान

कुख्यात राहुल काला का कटान का काम खानदानी है। काला के पिता का सोतीगंज में गोदाम है। पहले काला ने पिता का काम संभाला और धीरे-धीरे चोरी के वाहनों का कटान कराने लगा। इसके बाद काला ने इस काम के लिए बकायदा गुर्गे रख लिए। राहुल काला पर कटान के साथ-साथ वाहन चोरी और लूट के मुकदमे वेस्ट यूपी के कई जिलों समेत दिल्ली और मेरठ में भी दर्ज हैं।

पुराना चोर है राहुल चक्की

राहुल चक्की पहले वाहनों की चोरी करता था। मगर उसने सोतीगंज में राहुल काला और अन्य साथियों के साथ मिलकर इन वाहनों का कटान करना भी शुरू कर दिया। सूत्रों के अनुसार अब चक्की ने काला के साथ मिलकर न केवल दिल्ली-एनसीआर से मेरठ तक वाहन चोरों की चेन तैयार कर ली है। बल्कि इस अवैध धंधे से करोड़ों की प्रॉपर्टी भी बना ली है। राहुल चक्की पर भी कटान के साथ-साथ वाहन चोरी और लूट के मुकदमे वेस्ट यूपी के कई जिलों समेत दिल्ली और मेरठ में दर्ज हैं।

सोतीगंज के कबाडि़यों पर पूरी तरह से निगरानी रखी जा रही है। सोतीगंज पर निगरानी रखने के लिए अब इंटेलीजेंस को भी सक्रिय कर दिया गया है, जिससे कटान पूरी तरह से बंद हो जाए। पुलिस भी लगातार चेकिंग और कार्रवाई सोतीगंज में कर रही है।

अजय साहनी, एसएसपी, मेरठ

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.