मेरठ रेंज में छिपे कई जमाती

Updated Date: Fri, 03 Apr 2020 05:45 AM (IST)

9000 जमातियों के यूपी में छिपे होने की आशंका

150 विदेशी जमाती यूपी में आकर छुप गए

50 जमातियों के मेरठ रेंज में छिपे होने की आशंका

49 जमाती मेरठ रेंज से मरकज में हुए थे शामिल

24 जमाती अब तक पुलिस द्वारा पकड़े जा चुके हैं

100 में 50 से ज्यादा जमातियों को किया गया चिह्नित, खुफिया तंत्र और पुलिस की टीमें जांच में जुटी

49 जमाती मेरठ रेंज से दिल्ली निजामुद्दीन स्थित मरकज के तब्लीगी जमात के जलसे में हुए थे शामिल

Meerut । दिल्ली निजामुद्दीन स्थित मरकज में तब्लीगी जमात के जलसे में शामिल हुए हजारों देसी और विदेशी जमाती मरकज से निकलकर पूर देश में फैल गए। हालांकि 23 के करीब जमातियों को दिल्ली स्वास्थ्य विभाग ने क्वारंटाइन किया है। वहीं प्रदेश सरकार को सूचना मिली कि मरकज से निकले करीब 9000 भारतीय समेत 150 विदेशी जमाती यूपी में आकर छुप गए हैं। जिसके बाद सीएम योगी के आदेशानुसार पूरे प्रदेश में खुफिया तंत्र और पुलिस की छह टीमें जमातियों की तलाश में जुट गई हैं। हालांकि गुरुवार को यूपी शासन ने करीब-करीब 8500 लोगों को क्वारंटाइन कर दिया है। वहीं मेरठ रेंज में विदेशी समेत 150 जमातियों के छिपे होने की सूचना पर हड़कंप मचा हुआ है। हालांकि एडीजी ने मेरठ रेंज में पड़ने वाली हर मस्जिद की तालाशी के निर्देश दे दिए हैं। वहीं एलआईयू को भी अलर्ट कर दिया गया है।

49 जमाती मेरठ रेंज से

मेरठ रेंज की प्रमुख मस्जिदों और मदरसों पर निगाह रखी जा रही है। बता दें कि मेरठ रेंज से 49 जमाती तब्लीगी जमात के जलसे में निजामुद्दीन स्थित मरकज में शामिल हुए थे। वहीं 150 जमातियों में से करीब 50 से ज्यादा जमातियों को रेंज में चिन्हित कर लिया गया है। दरअसल, प्रशासन के लिए सबसे बड़ा खतरा विदेशी जमाती हैं। कुछ जमाती उन देशों से आए हैं, जहां कोरोना ने जमकर कहर बरपाया है। बुधवार से पुलिस और प्रशासन इन जमातियों को पकड़ने के लिए एडी-चोटी का जोर लगाए हुए हैं।

पकड़े गए 24 जमाती

सूचना के आधार पर मंगलवार को पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने परतापुर के काशी गांव की एक मस्जिद से 14 जमातियों को पकड़ा था। वहीं बुधवार को खैरनगर स्थित बड़ी मस्जिद से 10 जमातियों को पकड़ा था। वहीं दिल्ली निजामुद्दीन स्थित मरकज के तब्लीगी जमात के जलसे में शामिल हुए एक जमाती को भी पकड़ा था। इन सभी जमातियों में विदेशी जमाती भी शामिल थे। सभी मेडिकल जांच के बाद क्वारंटाइन किया गया है। साथ ही सरधना की मस्जिद में पकड़े गए नौ जमातियों में से एक बुधवार को पॉजिटिव भी मिला है।

इन देशों के हैं जमाती

सऊदी अरब

इंडोनेशिया

दुबई

उच्बेकिस्तान

मलेशिया

नेपाल

मलेशिया

अफगानिस्तान

यंमार

अल्जीरिया

इंडोनेशिया

थाईलैंड

श्रीलंका

बंगलादेश

इंग्लैंड

सिंगापुर

एलआईयू का फेल्योर

लॉक डाउन के बीच भारी सं या में तब्लीगी जमात में शामिल हुए जमाती उत्तर प्रदेश की सीमा से होते हुए मेरठ रेंज में घुस गए लेकिन एलआईयू को भनक तक नहीं लगी। ये एलआईयू का फेल्योर है। वहीं करीब 28 मार्च से मेरठ रेंज में छिपे जमातियों की कोई खैर-खबर भी एलआईयू को नहीं लगी। इतना ही नहीं अगर एलआईयू सर्तक होती तो विदेशी समेत 100 जमाती मेरठ रेंज की मस्जिदों में पनाह नहीं ले पाते।

निजामुद्दीन में तब्लीगी के जलसे में शामिल होने के बाद मेरठ रेंज आकर छिपने वाले सभी जमातियों वालो को चिन्हित किया जा रहा है। साथ ही धर्मगुरूओं से भी अपील की जा रही है कि वे भी इस काम में हमारा सहयोग करें। हम जगह-जगह एनाउंस करा रहे हैं कि दिल्ली के तब्लीगी जलसे में शुमार जमाती स्वेच्छा से आगे आए। प्रशासन उन पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं करेगा। मगर जमाती सामने नहीं आए और पुलिस टीम द्वारा पकड़े गए तो उनके खिलाफ स त एक्शन लिया जाएगा।

प्रशांत कुमार, एडीजी, मेरठ

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.