डिस्चार्ज और एडमिशन में रखना होगा ध्यान

Updated Date: Thu, 31 Dec 2020 10:40 AM (IST)

नए स्ट्रेन की गाइडलाइन जारी, मरीज के परिजन अलग आईसोलेट

संपर्क में आने वाले 28 दिन तक आईसोलेट होंगे

Meerut। कोविड-19 वायरस के नए स्ट्रेन को लेकर शासन की नई गाइडलाइंस जिले के अधिकारियों के पास पहुंच गई हैं। निर्देशों के तहत, नए स्ट्रेन के मरीज को इंस्टिटयूशनल कोविड-फैसिल्टी में ही एडमिट किया जाएगा। किसी भी पॉजिटिव मरीज को होम आईसोलेशन में एडमिट नहीं किया जाएगा। मरीजों की देखभाल करने वालों को बैरियर नर्सिग मानकों का पालन करना होगा। इसके लिए स्टाफ की दोबारा ट्रेनिंग होगी। डिस्चार्ज पॉलिसी के तहत मरीज की 14 दिन बाद दोबारा जांच होगी। अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद की ओर से जारी निर्देशों के तहत नया स्ट्रेन वर्तमान स्ट्रेन के मुकाबले ज्यादा संक्रमणशील और युवा वर्ग को अधिक प्रभावित करने वाला है। ऐसे में प्रदेश के सभी जिलों में विशेष एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

कॉन्टेक्ट होंगे होम आईसोलेट

यूके से वापस आने वाले लोगों में अगर नया स्ट्रेन पॉजिटिव मिलता है तो उनके कॉन्टेक्ट में आने वाले सभी लोगों को अनिवार्य रूप से होम या पेड आईसोलेशन में एडमिट करना होगा। बिना लक्षण वाले कॉन्टेक्ट्स की जांच पांचवे या दसवें दिन की जाएगी। इससे पहले उन्हें आईवेर्मेक्टिन की खुराक देनी होगी। अगर पहले किसी में लक्षण मिलता है तो उसकी जांच तुरंत आरटीपीसीआर विधि से होगी।

लिस्ट मिलते ही होगी जांच

शासन के निर्देशों के तहत यूके से आने लोगों की स्टेट से लिस्ट मिलने के 24 घंटे के अंदर आरटीपीसीआर जांच करवानी अनिवार्य होगी। इसके अलावा सभी लोगों के मोबाइल पर आरोग्य सेतू एप, कोविड पोर्टल पर लैब रिपोर्ट लिंक, मेरा कोविड केंद्र, होम आईसोलेशन एप का लिंक भेजना जरूरी होगा।

शासन के निर्देशों के तहत हमने सभी तैयारियां कर ली है। सभी कॉन्टेक्ट और मरीजों से सर्विलांस लगातार संपर्क कर रहा है। लोगों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है।

डॉ। अखिलेश मोहन, सीएमओ

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.