तैयारी पूरी, आज आएगी मेरिट

Updated Date: Sun, 11 Oct 2020 01:48 PM (IST)

शनिवार को देर शाम संशोधित मेरिट तैयार करने की चलती रहीं तैयारियां

सीसीएसयू में यूजी लेवल के एडमिशन को लेकर चल रही प्रक्रिया

Meerut । सीसीएसयू व संबद्धित कॉलेजों में यूजी लेवल के एडमिशन को लेकर संशोधित मेरिट आज निकाली जाएगी। शनिवार को मेरिट निकालने के लिए विचार हो रहा था, लेकिन सीबीएसई में विषय व उनके आधार पर अंकों गणना के फॉर्मूले में सीसीएसयू भी फंस गया है। रिजल्ट के बाद हर साल स्कूलों में टॉपर तय करने में सब्जेक्ट को लेकर होने वाले झमेले का असर यूनिवर्सिटी की मेरिट पर पड़ा है, यूनिवर्सिटी को इंटर के सब्जेक्ट और उनके अंकों के चलते मेरिट को स्थगित करना पड़ गया है। यूनिवर्सिटी व स्कूल ही नहीं स्टूडेंट भी अंकों के इस गणित को नहीं समझ सके। पूर्णाक से ज्यादा प्राप्तांक को फार्म में भर दिया था, ऐसे में यूनिवर्सिटी को ये मेरिट अब संशोधित करके जारी करनी पड़ रही है। बता दे पिछले साल भी इसी वजह से मेरिट स्थगित करनी पड़ी थी। इस बार भी यही कारण है जो मेरिट दोबारा से बनाई गई है जो आज शाम तक जारी हो जाएगी।

इसलिए फंसा पेंच

यूनिवर्सिटी की मेरिट में यह पेंच दो साल पहले से हैं। यूनिवर्सिटी में पिछले साल से पांच सब्जेक्ट के आधार पर ही अधिकतम पांच सौ अंकों में से सीबीएसई के स्टूडेंट की मेरिट बनाने की प्रक्रिया शुरु कर दी गई थी। सीबीएसई में इंटर के स्टूडेंट्स अतिरिक्त सब्जेक्ट भी लेते हैं। यह सब्जेक्ट 100 नंबर का होता है। अधिकांश स्टूडेंट अतिरिक्त सब्जेक्ट में आर्ट एंड पेंटिंग, म्यूजिक, संस्कृत या फिर अन्य कोई ऐसा सब्जेक्ट लेते हैं, जिसमें अधिकतर स्कोर किया जा सकता हैं इसलिए इस सब्जेक्ट में स्टूडेंट 96 से 100 नंबर आसानी से ले आते है। इन सब्जेक्ट के नंबर स्टूडेंट स्कूल व यूनिवर्सिटी के लिए परेशानी बनी है। यूनिवर्सिटी कोर सब्जेक्ट के नंबर की गणना करता है। वह अतिरिक्त सब्जेक्ट को नहीं जोड़ता बल्कि स्टूडेंट ने जो नंबर भरे हैं उसमें अतिरिक्त सब्जेक्ट के नंबर जोड़ दिए है। इसके चलते मेरिट पर असर पड़ा है। अब उसको सही किया जा रहा है।

करते हैं खेल

रिजल्ट में स्कूल इस अतिरिक्त सब्जेक्ट का प्रयोग टॉपर तय करने में करते हैं। कोर सब्जेक्ट को छोड़ स्कूल इनमें से एक कम नंबर वाले विषय को छोड़ अतिरिक्त विषय जोड़ देते हैं। इससे अंक प्रतिशत बदल जाता है। कई स्कूल छह में से इंग्लिश के साथ बेस्ट फॉर का फॉर्मूला लगातर टॉपर तय करते हैं। तीन वषरें तक देहरादून रीजन ने टॉपर की सूची जारी की थी। रीजन ने कोर सब्जेक्ट के अंकों से मेरिट जारी कर स्कूलों के दावों पर पानी फेर दिया, लेकिन यह प्रक्रिया बंद होने के बाद से फिर से सब्जेक्ट एवं मा‌र्क्स का खेल शुरू हो गया है। मेरठ में सभी स्कूल अपने अपने हिसाब से टॉपर देते है।

ऐसे फंस गया है पेंच

यूनिवर्सिटी सीबीएसई के स्टूडेंट से पांच मेन सब्जेक्ट के आधार पर नंबर फीड करने को कहा लेकिन स्टूडेंट ऐसा नहीं कर सके, किसी ने बेस्ट-5 तो किसी ने इंग्लिश के साथ सर्वश्रेष्ठ चार सब्जेक्ट के नंबर दर्ज कर दिए, अधिकांश स्टूडेंट ने अधिकतम पांच सौ अंकों से प्राप्तांक अधिक कर दिए। सीसीएसयू की पूरी मेरिट इसी से बिगड़ गई, पिछले वर्ष भी इसी चक्कर में यूनिवर्सिटी को अपनी मेरिट स्थगित करनी पड़ी थी। हालांकि जिन स्टूडेंट ने यूनिवर्सिटी के निर्देशों को समझकर कोर सब्जेक्ट के साथ नंबर संशोधित किए, उनके कॉलेज एवं कोर्स हट गए।

आज आएगी मेरिट

वैसे तो पहले शनिवार को शाम तक मेरिट निकालने को कहा जा रहा था, लेकिन शनिवार को मेरिट से संबंधित कार्य में कुछ कमियां रह गई थी, इनको पूरा करने में शाम हो गई ऐसे में मेरिट शनिवार को भी नहीं आ पाई, प्रो। वाई विमला के अनुसार आज एक बार पूरी मेरिट को दोबारा से चेक किया जाएगा, देखा जाएगा किसी तरह की कमी तो नहीं रह गई, इसके बाद आज शाम तक मेरिट निकाली जाएगी, सोमवार से सभी के ऑफर लेटर डाउनलोड होने शुरु हो जाएगे, उसके बाद कॉलेजों में ऑनलाइन एडमिशन शुरु हो जाएंगे, इस बार कॉलेज जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.