नकली शराब की फैक्ट्री पकड़ी, 25 लाख की शराब भी बरामद

Updated Date: Wed, 21 Apr 2021 04:58 PM (IST)

पंचायत चुनाव में खपाने के लिए भावनपुर के सियाल गांव में चल रही थी फैक्ट्री

एसएसपी ने बताया कि पकड़े गए 13 आरोपियों में तीन ग्राम प्रधान और दो बीडीसी सदस्य प्रत्याशी भी शामिल

Meerut। पंचायत चुनाव में मतदाताओं को पिलाने के लिए बनाई जा रही नकली शराब की फैक्ट्री का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। वहां से पुलिस ने तीन ग्राम प्रधान और दो बीडीसी सदस्य प्रत्याशी समेत 13 लोगों को गिरफ्तार किया, जबकि उनके चार साथी फरार हैं।

प्रेसवार्ता में खुलासा

मंगलवार को पुलिस लाइन में आयोजित प्रेसवार्ता में एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि भावनपुर के सियाल गांव में अजीत के घर पर छापा मारकर पुलिस ने मिस इंडिया ओर दिलदार मार्का शराब बनाने की नकली फैक्ट्री पकड़ी। मौके से कार, चार बाइक समेत रैपर, खाली बोतल और भारी मात्रा में करीब 25 लाख कीमत की शराब बरामद की है।

ये पकड़े गए

पुलिस ने बताया कि मौके से अजीत उसके साथी प्रेमपाल निवासी गंगानगर, सियाल निवासी अनुज, रुकनपुर निवासी सुधीर कुमार और खरखौदा के जमुनानगर निवासी सैफुद्दीन को गिरफ्तार किया। अजीत की निशानदेही पर पुलिस ने शराब की सप्लाई करने वाले मुकुल शर्मा निवासी साधारणपुर इंचौली, ¨रकू शर्मा निवासी किनानगर, किशोर कुमार निवासी नगला शेखू इंचौली, सुरजीत सिंह निवासी सिखेड़ा गांव, वतन सिंह चौहान निवासी सिखेड़ा गांव इंचौली, राज सिंह उर्फ पप्पू निवासी मुबारिकपुर, सुखविंद्र और राजू उर्फ राजकुमार निवासी सियाल को पकड़ा है।

ये हो गए फरार

पुलिस ने बताया कि छापेमारी के दौरान परविंद्र निवासी सरायकाजी मूल निवासी प्रीत विहार जिला हापुड़, हिमांशु निवासी जटवाड़ा देहलीगेट, ¨रकू निवासी नबीपुरा और रविंद्र निवासी सियाल भाग गए। इनकी गिरफ्तारी को पुलिस टीम लगाई गई है।

पांच प्रत्याशी शामिल

एसएसपी ने बताया कि अजीत सिंह सियाल से बीडीसी सदस्य, वतन सिंह सिखेड़ा से बीडीसी सदस्य, किशोर कुमार का भाई नलगा शेखू से ग्राम प्रधान, सुखविंद्र सियाल से ग्राम प्रधान, राजू उर्फ राजकुमार सियाल से ग्राम प्रधान और राज सिंह उर्फ पप्पू मुबारिकपुर से ग्राम प्रधान का चुनाव लड़ रहे हैं।

लाखों की शराब सप्लाई

अजीत, प्रेमपाल, अनुज, सुधीर कुमार और सैफुद्दीन के साथ मिलकर शराब की फैक्ट्री संचालित कर रहा था। शराब बनाने के लिए ईएनए (केमिकल) की सप्लाई हिमांशु कर रहा है। जिसे वह हरियाणा से लाकर जनपद के कई स्थानों पर सप्लाई कर रहा है। सभी आरोपी ग्राम पंचायत चुनाव में शराब की सप्लाई कर रहे थे। अभी तक करीब 50 लाख की शराब पंचायत चुनाव में सप्लाई कर चुके हैं।

पकड़े गए आरोपित अजीत और प्रेमपाल को पुलिस पहले भी शराब की तस्करी में जेल भेज चुकी है। उसके बाद भी भावनपुर पुलिस ने दोनों की निगरानी नहीं की। दोनों पिछले 15 दिन से शराब बनाकर सप्लाई कर रहे थे। जिस तरह से शराब बनाई जा रही थी, उससे साफ है कि बड़ा हादसा हो सकता था।

-----------------

हेडिंग- शराब तस्करी और आचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज

-देहात में प्रत्याशियों को 50 लाख की नकली शराब सप्लाई कर चुके

-मुजफ्फरनगर और बागपत में भी बड़े पैमाने पर शराब पहुंचाई गई

जेएनएन मेरठ : हापुड़ की सिंभावली डिस्टलरी और अलीगढ़ के अतरौली की वेव डिस्टलरी की नकली शराब तैयार कर मेरठ समेत आसपास के जनपदों में सप्लाई की गई। अब तक 50 लाख की शराब सप्लाई हो चुकी है, जो पंचायत चुनाव में खपाई गई। चुनाव तीसरे चरण में पहुंच चुका है, तब जाकर पुलिस को मामले की जानकारी मिली। यह कार्रवाई भी क्राइम ब्रांच के इनपुट पर हुई है। इससे भावनपुर पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल खड़ा हो रहा है। इसकी जांच के आदेश भी दिए गए। साथ ही एसएसपी ने गुडवर्क करने वाली टीम को 20 हजार का इनाम दिया है।

प्रत्याशी भी कर रहे थे तस्करी

प्रत्याशियों ने पहले अपने लिए शराब खरीदी। उसके बाद अन्य प्रत्याशियों को भी सप्लाई देनी शुरू कर दी। मोटा मुनाफा कमाने के चक्कर में प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतरने के साथ-साथ शराब की तस्करी करने लगे थे। पकड़े गए प्रत्याशियों ने बताया कि अपना खर्च पूरा करने के लिए शराब की सप्लाई अन्य प्रत्याशियों तक पहुंचाने लगे थे। उनका शराब बनाने से कोई जुड़ाव नहीं है। ऐसे में प्रत्याशियों पर शराब तस्करी और चुनाव आचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया।

कार से दी जा रही थी सप्लाई

स्याल गांव से शराब की सप्लाई 'सवर्ण संरक्षण सभा मंडल अध्यक्ष' लिखी स्विफ्ट से दी जा रही थी। आसपास के कुछ गांवों को बाइक से कवर किया जा रहा था। हर रोज मोबाइल पर आर्डर मिलने के बाद शराब पहुंचा दी जाती थी। मुजफ्फरनगर और बागपत में भी बड़े पैमाने पर शराब की सप्लाई दे चुके हैं। एसएसपी ने बताया कि पकड़े गए आरोपितों पर रासुका की कार्रवाई भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में शराब बांटने वाले प्रत्याशियों पर भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। नकली शराब खरीदकर बांटने वाले कुछ और नाम भी सामने आए हैं, जिनकी धरपकड़ की जा रही है।

पहले भी जा चुके जेल

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.