नैतिक शिक्षा का पाठ पढ़ेंगे स्टूडेंट्स

Updated Date: Fri, 01 Feb 2019 06:00 AM (IST)

एकेटीयू ने बीटेक के छात्रों के मानव मूल्य विषय में कई नए टॉपिक्स जोड़े

छात्रों को महिलाओं के सम्मान के बारे भी पढ़ाया जाएगा

Meerut। अब एकेटीयू ने स्टूडेंट्स को वैल्यू एजुकेशन में बेहतर बनाने के लिए कई बदलाव किए है। प्रशासन कोर्स को डेवलप करने की तैयारी में है। यूनिवर्सिटी ने वीसी की अध्यक्षता में ही हाल फिलहाल में इस बदलाव को लेकर बैठक की थी। जिसमें तय किया गया है कि मानव मूल्यों की शिक्षा को कैसे बेहतर बनाया जा सके जिसका वास्तविक जीवन में प्रभाव हो।

अनिवार्य है परीक्षा पास करना

यूनिवर्सिटी में मानव मूल्य विषय की परीक्षा को पास करने के लिए लास्ट इयर ही अनिवार्यता का सिस्टम जारी कर दिया गया था। इसे पास करने के बाद ही छात्र को मार्कशीट दी जाती है। कोर्स को और किस तरह से अपडेट किया जाए। इसके लिए शिक्षकों की बैठक हुई थी। जिसमें सभी शिक्षकों ने भी बताया कि कैसे वैल्यू एजुकेशन के कोर्स को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए बेहतर कोर्स कंटेंट जोड़ना होगा। इसके लिए एक समिति का गठन किया गया है। साथ ही वैल्यू एजुकेशन के नोडल सेंटर्स की समस्याओं के निराकरण के लिए स्थापित होंगे, ये नोडल सेंटर पर स्टूडेंट्स भी सुझाव दे सकेंगे।

विभिन्न टॉपिक्स होंगे शामिल

असंतोष , आंदोलन, असमानता, असामंजस्य, अराजकता, आदर्श विहीनता, अन्याय, अत्याचार, अपमान, असफलता अवसाद, अस्थिरता, अनिश्चितता, संघर्ष, हिंसा यही सब आज युवाओं को घेरे हुए है। विवि के अनुसार आज हमारे जीवन को व्यक्ति में एवं समाज में साम्प्रदायिकता, जातीयता, भाषावाद, क्षेत्रीयतावाद, हिंसा की संकीर्ण कुत्सित भावनाओं व समस्याओं के मूल में उत्तरदायी कारण है मनुष्य का नैतिक और चारित्रिक पतन अर्थात नैतिक मूल्यों का क्षय। इसलिए इस तरह के सभी टॉपिक्स स्टूडेंट्स के कोर्स में जुड़ने जा रहे हैं.विवि के अनुसार अगर इस तरह के टॉपिक्स स्टूडेंटस को पढ़ाए जाए तो यकीनन समाज में बदलाव आ सकता है।

महिला का जरुरी सम्मान

कैसे बेटियों का सम्मान करें, किस तरह से महिलाओं को देश में, घर में, स्कूल व कॉलेज व हर क्षेत्र में सम्मान मिलना आवश्यक है, इससे जुड़ें विषयों को भी नए सत्र के टॉपिक्स में जोड़ा जा रहा है। बकायदा महिला सम्मान पर व उनसे जुड़ी उपलब्धियों व उनके द्वारा दिया जाने वाला जीवन में सहयोग भी नैतिक मूल्य विषय में शामिल किया जाएगा।

व्यक्ति से विश्व विस्तार तक

नैतिक मूल्यों का विस्तार व्यक्ति से विश्व तक, जीवन के सभी क्षेत्रों में होता है। व्यक्ति-परिवार, समुदाय, समाज, राष्ट्र से मानवता तक नैतिक मूल्यों की यात्रा होती है। सामाजिक जीवन में तेजी से हो रहे परिवर्तन के कारण उत्पन्न समस्याओं की चुनौतियों से निपटने के लिए और नवीन व प्राचीन के मध्य स्वस्थ अंत क्रिया को कैसे नैतिक मूल्यों के साथ संभव बनाए, इस टॉपिक पर भी व्याख्यान बुक्स में होगा।

एकेटीयू का हमेशा से उद्देश्य रहा है समाज में बेहतर एजुकेशन के साथ ही अच्छा नागरिक भी बनाए, इसलिए यूनिवर्सिटी ने महत्वपूर्ण बदलाव करने का फैसला लिया। नए सत्र में इतने सकारात्मक बदलाव होने है, बहुत सराहनीय है।

प्रो। जयमाला, डायरेक्टर, सर छोटूराम इंजीनियरिंग कॉलेज, सीसीएसयू मेरठ

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.