देखा है एक सपना, सुंदर, सुरक्षित हो शहर अपना

Updated Date: Thu, 22 Oct 2020 05:08 PM (IST)

स्मार्ट सिटी, सेफ सिटी जैसी योजनाओं की समीक्षा बैठक, कमिश्नर ने दिए अहम निर्देश

ये बदलेगा शहर में

4 जगहों पर बनेंगे स्ट्रीट वेंडर मार्केट

भीड़ वाली अंधेरी जगहों की होगी पहचान

मल्टीलेवल पार्किग की फिर शुरू होगी कवायद

100 करोड़ के स्मार्ट सिटी कार्यो का बनेगा प्रोजेक्ट

नौचंदी मैदान और स्कूलों की बदलेगी सूरत

Meerut। यदि प्रशासन की योजनाएं धरातल पर उतरीं तो कुछ समय बाद शहर की सूरत बेहद खूबसूरत नजर आएगी। इतना ही नहीं, यह शहर महिलाओं के लिए सुरक्षित होगा। इस बारे में कई निर्देश बुधवार को कमिश्नर अनीता सी मेश्राम ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दिए। साथ ही, स्मार्ट सिटी, सेफ सिटी, सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट और स्ट्रीट वेंडर मार्केट आदि की समीक्षा भी की। इस दौरान डीएम के। बालाजी, एमडीए वीसी मृदुल चौधरी, नगरायुक्त अरविंद चौरसिया, एमडीए सचिव प्रवीणा अग्रवाल, एसपी ट्रैफिक जितेंद्र श्रीवास्तव, मुख्य अभियंता एमडीए दुर्गेश श्रीवास्तव, प्रदूषण अधिकारी योगेंद्र कुमार आदि मौजूद रहे।

सेफ सिटी के इंतजाम

कमिश्नर ने निर्देश दिए हैं कि महिला पुलिस क्षेत्राधिकारी के नेतृत्व में एक टीम शहर में भीड़ भरे ऐसे स्थानों को चिह्नित करे, जहां रोशनी की व्यवस्था मानक के अनुसार नहीं है। रिपोर्ट तीन दिन में मांगी गई है। इसके अलावा सेफ सिटी परियोजना के तहत शहर के प्रमुख चौराहों पर पिंक बूथ, पिंक टॉयलेट भी बनाए जाएंगे। सिटी बसों में सीसीटीवी, जीपीएस और पैनिक बटन की व्यवस्था के लिए सिटी ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन के अधिकारियों से समन्वय को कहा गया।

स्मार्ट सिटी की कवायद

मेरठ को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने के लिए 100 करोड़ रुपये का प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा जाएगा। यह निर्देश कमिश्नर ने दिए हैं। इसमें राज्य स्मार्ट सिटी योजना के तहत, दो साल में किए जा सकने वाले कामों का ब्योरा दिया जाएगा। इसके अतंर्गत, बेसिक शिक्षा विभाग के कुछ स्कूलों का कायाकल्प किया जाएगा, शहर में मल्टीलेवल पार्किग बनाई जाएगी, नौचंदी मदान का सुंदरीकरण होगी और इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आईटीएमएस) के अंतर्गत कुछ काम इसमें शामिल किए जाएंगे।

स्ट्रीट वेंडर बाजार बनेगा

कमिश्नर ने बताया कि नगर निगम ने स्ट्रीट वेंडर मार्केट के लिए चार जगहों का चयन किया है। कमिश्नर ने वहां बाजार का काम जल्द पूरा करने के निर्देश दिए और वेंडर्स को प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से ऋण दिलाने को भी कहा।

कूड़ा मुक्त शहर का सपना

कमिश्नर ने नगर निगम अधिकारियों को निर्देश दिए कि लोहिया नगर डंपिंग ग्राउंड को जल्द बंद कराया जाए और कोई अन्य स्थान चयनित कर वहां कूड़ा डलवाया जाए। उन्होंने कहा कि जनपद को कूडे से मुक्त करना है। उन्होंने जल्द ही प्रशासन की मदद से कैटल कॉलोनी की जगह चिह्नित करने और गोबर के निस्तारण की समुचित व्यवस्था करने को भी कहा।

नो-व्हीकल जोन

शहर के कुछ इलाकों को पैदल चलने वालों और दिव्यांगों के अनुकूल बनाने की योजना भी प्रशासन ने तैयार की है। इस बारे में एमडीए अधिकारियों को शहर में कुछ जगहों पर नो-व्हीकल जोन तैयार करने और कम से कम एक दिव्यांग पार्क बनाने के निर्देश भी दिए।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.