ऑफिसर्स की हनक से राइट टाइम हुआ अस्पताल

Updated Date: Tue, 14 Oct 2014 07:01 AM (IST)

-डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में सेंट्रल हेल्थ मिनिस्टर का विजिट कैंसिल होने के बाद चीफ सेक्रेटरी व जॉइंट कमिश्नर का विजिट भी हुआ कैंसिल

- ऑफिसर्स के आने की इंफॉर्मेशन के चलते हॉस्पिट में हुई प्रॉपर वर्किंग, चहुंओर दिखी साफ-सफाई

VARANASI:

पीएम के बनारस दौरे के अगले दिन सेंट्रल हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन का भी दौरा कैंसिल हो गया। उन्हें सोमवार को डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल पं। दीनदयाल उपाध्याय में विजिट करना था लेकिन पीएम का प्रोग्राम कैंसिल होने से उनका विजिट करने का प्रोग्राम भी कैंसिल हो गया। इसके बाद दोपहर में चीफ सेक्रेट्री ललित वर्मा, जॉइंट कमिश्नर सेंट्रल गवर्नमेंट सहित अन्य ऑफिसर्स के विजिट की इन्फॉर्मेशन थी लेकिन वह भी नहीं आए। लेकिन इन आला अफसरों के आने की इन्फॉर्मेशन मात्र से ही डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल की सूरत में काफी सुधार आया है। यह अब पहले से बेहतर है। इसके साथी ही ऑफिसर्स की आवभगत के लिए की गई तमाम तैयारियां भी धरी की धरी रह गई।

दिन भर एक्टिव रहे CMO

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में सीनियर ऑफिसर्स के विजिट को लेकर सीएमओ डॉ। एमपी चौरसिया काफी एक्टिव रहे। सीएमओ की ओर से ऑफिसर्स के आव भगत के लिए खास इंतजाम किए गए थे। विजिट की डेट से दो दिन पहले से ही हॉस्पिटल में साफ-सफाई सहित कई खामियों को दुरुस्त कराने से जुड़ी पल-पल की इंफॉर्मेशन सीएमओ खुद ले रहे थे।

काम में दिखा बदलाव

आला अफसरों के इंस्पेक्शन की खबर से हॉस्पिटल में अन्य दिनों के अपेक्षा पेशेंट्स को बहुत हेल्प मिली। डॉक्टर्स सहित स्टॉफ अपने-अपने ड्रेस कोड में पेशेंट्स की चेकअप सहित हेल्प में लगे रहे। हमेशा की तरह स्ट्रेचर के लिए परेशान होने वाले मरीजों संग तीमारदारों को सोमवार को स्ट्रेचर टाइम-टू-टाइम अवेलेबल रहा। हॉस्पिटल के मेन गेट से इंट्री करते ही चारों तरफ साफ-सफाई का नजारा दिखा। जिसे देख पेशेंट्स के मुंह से निकल ही गया कि काश सीनियर ऑफिसर्स डेली हॉस्पिटल में विजिट के लिए आते

लोकल ऑफिसर्स ने किया इंस्पेक्शन

सेंट्रल हेल्थ मिनिस्टर डॉ। हर्षवर्धन के विजिट को लेकर हॉस्पिटल में गत रविवार की देर शाम एडीएम फायनेंस महेंद्र राव व सीआरओ कमलेश कुमार सिंह ने डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में इंस्पेक्शन किया। इंस्पेक्शन के दौरान पेशेंट वॉर्ड्स में उम्मीद से बेहतर साफ-सफाई नहीं मिलने पर नाराजगी जताई थी। जबकि रेडियोलॉजी व पैथालॉजी डिपार्टमेंट में कई मशीनों का रखरखाव सही ढंग से नहीं होने पर पर सीएमएस से नाराजगी जताई थी। लेकिन खास बात यह है इस सबके बावजूद हॉस्पिटल के पीछे के सीवर पर किसी अफसर का ध्यान नहीं गया।

दोपहर में प्रमुख सचिव सहित सीनियर ऑफिसर्स के इंस्पेक्शन की इंफॉर्मेशन थी लेकिन किसी कारणवश वे नहीं आ सके।

डॉ। आरएन सिंह

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.