- दस साल से तैनात जानी और जिमी हो गए रिटायर

बाबतपुर लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा सिया और सिंबा संभालेंगे। शातिर से शातिर लोग इनसे बच नहीं सकेंगे। इनकी ट्रेनिंग भी उसी प्रकार से हुई है। पिछले 10 साल से एयरपोर्ट की सुरक्षा संभाल रहे जानी और जिमी रिटायर हो गए। जानी और जिमी को जल्द ही एक समारोह में एयरपोर्ट प्रशासन की ओर से विदाई दी जाने की तैयारी हो रही है। आप सोच रहे होंगे कि दोनों कौन सी सेना के हैं जो एयरपोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था संभालने में माहिर हैं। दरअसल यह लेब्राडोर प्रजाति के स्निफर डॉग सिया और सिंबा हैं।

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि सिया और सिंबा के रहने के लिये एयरपोर्ट पर आलीशान अत्याधुनिक घर बनाया गया है। जानी और जिमी के रिटायरमेंट की जानकारी पाकर उन्हें गोद लेने के लिए एयरपोर्ट पर तैनात अधिकारियों और कर्मचारियों ने सीआईएसएफ से संपर्क किया है।

2011 से बाबतपुर एयरपोर्ट पर तैनात

एयरपोर्ट निदेशक आकाशदीप माथुर ने बताया कि लेब्राडोर प्रजाति के जिमी और जानी जब 6 माह के थे उसी समय उन्हें हरियाणा के पंचकुला से खरीदा गया था। इसके बाद दोनों को पंचकुला स्थित आईटीबीपी के नेशनल ट्रेनिंग सेंटर फॉर डॉग में 6 माह तक प्रशिक्षण दिया गया था। इसके बाद वर्ष 2011 में दोनों को बाबतपुर एयरपोर्ट पर तैनात किया गया था। दोनों की विस्फोटक सामग्री की जांच की क्षमता जबरदस्त थी।

सम्मानित भी किया गया

मॉक ड्रील में कई बार विस्फोट सामग्रियों को छुपा कर उनकी क्षमता का आंकलन किया जाता था। एयरपोर्ट में भले ही अत्याधुनिक मशीनें लग गई हैं, लेकिन किसी भी लावारिस सामग्री की जांच पहले जिमी और जानी द्वारा ही की जाती रही है। जिमी और जानी की सेवाओं के लिए उन्हें इस साल 26 जनवरी को बाबतपुर एयरपोर्ट पर सम्मानित भी किया गया था।

Posted By: Inextlive