दून हॉस्पिटल में खत्म होगा कोरोनाकाल

Updated Date: Thu, 21 Jan 2021 09:40 AM (IST)

- फरवरी से दून हॉस्पिटल में शुरू होगी आईपीडी

- कोरोना के लिए अलग से रिजर्व रहेंगे वार्ड

देहरादून,

दून हॉस्पिटल में कोरोनाकाल से बाहर आने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। कोविड मरीजों के अलावा अब सामान्य मरीजों के लिए सभी सेवाएं पहले की तरह फिर से बहाल की जा रही हैं। कॉलेज प्रबंधन ने फरवरी से आईपीडी भी शुरू करने की तैयारी कर ली है।

11 माह बाद बदलेगा नजारा

मार्च से कोविड हॉस्पिटल के रूप में बदलने के बाद अब 11 माह बाद दून अस्पताल को पुराने ढर्रे पर लाने को हॉस्पिटल मैनेजमेंट की ओर से प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। कोरोना के मरीजों की संख्या कम होने और एक्टिव केस भी कम होने के बाद अब सामान्य मरीजों को भर्ती करने के लिए भी व्यवस्थाएं बनाई जा रही हैं। वेडनसडे को प्रिंसिपल डॉ। आशुतोष सयाना ने डॉक्टर्स और अन्य स्टाफ के साथ वार्डो का निरीक्षण किया। प्रिंसिपल डॉ। सयाना ने बताया कि सिर्फ ऑर्थो, ईएनटी और वार्ड नंबर 7,8,10 व 11 और आयुष्मान वार्ड ही कोरोना के लिए आरक्षित रखे जाएंगे। अन्य वार्डो में सामान्य मरीज भर्ती किए जाएंगे। बताया कि फरवरी के पहले हफ्ते से आईपीडी शुरू हो जाएग। हॉस्पिटल में निरीक्षण के दौरान डिप्टी एमएस डॉ। एनएस खत्री व डॉक्टर्स की टीम शामिल रही।

एसडीआरएफ के जवान होंगे कार्यमुक्त

कोविड में ड्यूटी कर रहे स्टाफ के लिए नजदीकी होटल में रुकने की व्यवस्था को खत्म कर दिया गया है। सयाना ने कहा कि चरणबद्ध ढंग से होटल खाली करवाए जाएंगे, ताकि सरकार पर अनावश्यक वित्तीय भार न पड़े। इसके अलावा हॉस्पिटल में तैनात एसडीआरएफ के जवानों को भी कार्यमुक्त किए जाने का फैसला लिया गया है।

मशीनों के रखरखाव के लिए टीम गठित

आयुष्मान योजना के संबंधित समस्त ऑफिस के लिए हॉस्पिटल में केंद्रीकृत व्यवस्था बनाई जाएगी। प्राचार्य ने निर्देश दिए हैं कि ऑफिस एक ही जगह स्थापित किया जाए। इसके अलावा तमाम चिकित्सीय उपकरण/मशीनों के रखरखाव के लिए भी एक टीम का गठन किया जाएगा। यह टीम मॉनिटरिंग सिस्टम के तहत प्रत्येक तिमाही में यह देखेगी कि किसी उपकरण/मशीन की एएमसी, सीएमसी या सíवस होनी है। एमआरडी (मेडिकल रिकॉर्ड डिपार्टमेंट) सेक्शन को भी व्यवस्थित किए जाने के निर्देश प्राचार्य ने दिए हैं।

=------------------

कोविड के अलावा सामान्य मरीजों का भी इलाज किया जा रहा है। फरवरी से आईपीडी भी शुरू करने की व्यवस्था की जा रही है।

डॉ। आशुतोष सयाना, प्रिंसिपल, दून मेडिकल कॉलेज

----------------------------

मार्च से दून हॉस्पिटल कोविड हॉस्पिटल के रूप में कर रहा कार्य

फरवरी से आईपीडी होगी शुरू

नवंबर से 25 मरीजों की लिमिट के साथ ओपीडी हुई थी चालू

18 जनवरी से पूरी ओपीडी हुई है शुरू

एक दिन में 700 से ज्यादा मरीज कर रहा है इलाज

कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व वार्ड- आर्थो, ईएनटी ,वार्ड नंबर सात, आठ, दस, 11 और आयुष्मान वार्ड

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.