Vijay Merchant Birthday वो भारतीय बल्लेबाज जिसे सफेद रंग पोतकर इंग्लैंड वाले अपनी टीम में चाहते थे मिलाना

2019-10-12T09:05:12Z

भारत के पहले धाकड़ बल्लेबाज माने जाने वाले विजय मर्चेंट का जन्म 12 अक्टूबर को हुआ था। रणजी ट्राॅफी में 98 से ज्यादा की औसत रखने वाले विजय ने घरेलू और इंटरनेशनल क्रिकेट में खूब रन बनाए मगर कभी टेस्ट मैच नहीं जीत पाए।

कानपुर। 12 अक्टूबर 1911 को मुंबई में जन्में विजय मर्चेंट भारत के एक बेहतरीन क्रिकेटर रहे हैं। दाएं हाथ के बल्लेबाज विजय को भारत का पहला धाकड़ बल्लेबाज माना जाता था। इनकी बल्लेबाजी शैली ऐसी थी कि उस जमाने के बड़े-बड़े गेंदबाज उनके सामने गेंदबाजी करने से डरते थे। सुनील गावस्कर और सचिन तेंदुलकर जैसे दिग्गज बल्लेबाज विजय मर्चेंट के पदचिन्हों पर ही चले। विजय के इंटरनेशनल क्रिकेट की खासियत है कि उन्होंने सभी मैच इंग्लैंड के खिलाफ ही खेले।
कुल 10 टेस्ट मैच खेले
क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, विजय मर्चेंट ने पहला टेस्ट मैच 1933 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। वहीं करियर का आखिरी मैच उन्होंने 18 साल बाद 1951 में खेला। वैसे देखने में उनका अंतरराष्ट्रीय करियर काफी लंबा दिख रहा मगर मैच उन्होंने सिर्फ 10 खेले। जिसमें विजय ने 47.72 की औसत से कुल 859 रन अपने नाम किए। इसमें तीन शतक और तीन अर्धशतक भी शामिल हैं। बल्लेबाजी में विजय भले ही सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज गिने जाते थे मगर वह पूरे करियर में एक मैच नहीं जीत पाए। जी हां उन्होंने 10 टेस्ट खेले और सभी में हार मिली।

#OnThisDay in 1911, India's Vijay Merchant was born. Averaging 71.64, only Don Bradman bettered his average in first class cricket. pic.twitter.com/UJmG1EVTVf

— ICC (@ICC) October 12, 2016


फर्स्टक्लॉस करियर में बेहतरीन औसत
विजय मर्चेंट को टेस्ट क्रिकेट में ज्यादा हुनर दिखाने का मौका तो नहीं मिला मगर फर्स्टक्लॉस क्रिकेट में उन्होंने ऐसी बल्लेबाजी की कोई उनको छू नहीं पाया। क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, विजय ने कुल 150 फर्स्टक्लॉस मैच खेले जिसमें उनके नाम 71.64 की औसत से 13,470 रन दर्ज हैं। इसमें 45 शतक और 52 अर्धशतक शामिल हैं। यही नहीं उनका हाईएस्ट स्कोर नाबाद 359 रन है। यही नहीं रणजी ट्राॅफी में विजय मर्चेंट का औसत 98.75 का था।
इंग्लैंड वाले अपनी टीम में चाहते थे मिलाना
विजय मर्चेंट ने 40 और 50 के दशक में इतनी बेहतरीन बल्लेबाजी की दुनिया के बड़े-बड़े क्रिकेटर उनकी बल्लेबाजी के कायल हो गए। इंग्लैंड के महान खिलाड़ियों में शुमार सीबी फ्राई ने 1936 में यहां तक कह दिया था कि, मर्चेंट इतने अच्छे प्लेयर हैं कि इन्हें सफेद रंग पोतकर हमारे साथ ऑस्ट्रेलिया चलना चाहिए, वो भी ओपनर के रूप में।'
इनके नाम पर खेली जाती है ट्राॅफी
भारत के दिग्गज क्रिकेटर विजय मर्चेंट के नाम पर भारत में एक घरेलू टूर्नामेंट खेला जाता है। जिसका नाम विजय मर्चेंट ट्राॅफी है। इसमें अंडर 16 के मैच खेले जाते हैं।

 

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.