Walking A Complete Fitness Programme

2012-08-11T19:53:00Z

Two legs can miraculously take care of your fitness keeping your body healthy So walk daily to keep doctor away & to stay in shape

Benefits of walking
Walking से होने वाले बेनिफिट्स कुछ इस तरह हैं-
•काफ-मसल्स सेकंड हार्ट मानी जाती है और waliking करने से यह मसल्स हार्ट में ब्लड-फ्लो बढ़ा देते हैं. इससे  ब्लड सकुर्लेशन बेहतर हो जाता है.
•Walking से बॉडी की लो-डेंसिटी लिपोप्रोटीन (LDL)लेवल कम हो जाता है. LDL बॉडी का बैड कॉलेस्ट्रॅल होता है.
•Walking बॉडी की हाई-डेंसिटी लिपोप्रोटीन (HDL) के लेवल को बढ़ाने में हेल्पफुल होती है. HDL अच्छा कॉलेस्ट्रॉल होता है.
•Walking बॉडी पोस्चर को अच्छा करने के साथ ज्वॉइंट्स में होने वाले दर्द को भी दूर करती है.
•यह डायबिटीज जैसी फैटल डिसीजेस के रिस्क को भी कम करने में हेल्पफुल है.
•Walking मूड इंहैंसर होने के साथ बॉडी वेट को भी मेनटेन करने में हेल्पफुल है.

Preparation helps avoid injury
Walking में भी रिस्क के चांसेज होते हैं. पैरों में ब्लिस्टर्स और मसल पेन से बचने के लिए प्रॉपर प्रिपरेशन की जरूरत होती है.
•कम्फर्टेबल वॉकिंग-शूज पहनकर ही वॉक करें.
•लूज फिटिंग और कम्फर्टेबल कपड़े पहनें.
•बहुत ज्यादा बंद कपड़े न पहनें, यह बॉडी के पोर्स को बंद कर देते हैं.
•ब्राइट कलर के कपड़े पहनें और डार्क कलर्स को अवॉइड करें.


Before you begin
Keep it simple
किसी भी एक्सरसाइज प्रोग्राम को सक्सेसफुल बनाने के लिए उसे सिम्पल नोट पर शुरू करें. यानी शुरुआत में ही अपने कैलिबर से ज्यादा walk करने से आपको फ्रस्ट्रेशन होने लगेगा और आप उससे बहुत जल्दी छुटकारा पाना चाहेंगे.
Make it challenging
अगर आप ट्रेनिंग शुरू कर रहे हैं तो शुरुआत में एकदम सिम्पल और ईजी टार्गेट तय करने से ज्यादा फायदा नहीं होगा. आपको अपने लिए चैलेंजिंग टार्गेट्स सेट करें.
Keep progressing
कुछ दिनों तक एक ही चीज को उसी तरह करते-करते बॉडी को उसकी आदत हो जाती है, इसे इफेक्टिव बनाने के लिए प्रोग्राम को नेक्स्ट लेवल तक ले जाएं.
Do it! किसी भी चीज के बेनिफिट्स पढऩे से कोई फायदा नहीं होगा, सही रिजल्ट्स के लिए प्रोग्राम को अपने रेग्युलर रूटीन में शामिल करें.
The workout
Walking की आदत नहीं है और उसे अपने शेड्यूल में शामिल करना चाहते हैं तो पहले दो हफ्ते 15 मिनट ही वॉक करें. उसके अगले दो हफ्ते टाइम बढ़ाकर 30 मिनट walk करने की आदत डालें और इसी तरह हर हफ्ते अपने टाइम को थोड़ी-थोड़ी देर बढ़ाएं. रोज नहीं कर सकते हैं तो हफ्ते में तीन दिन तो walk जरूर करें.

Points to remember

Time required:  हर रोज 45 से 60 मिनट तक या हफ्ते में तीन दिन 1 घंटा.
Warm up: पहले के पांच मिनट धीरे-धीरे वॉक करें और मसल्स को वॉर्मअप होने दें. इसके बाद ही जल्दी-जल्दी वॉक करें.
Stretch: वॉर्मअप के बाद मसल्स स्ट्रेच करें. काफ-स्ट्रेच, क्वॉड्रिसेप्स वगैरह करके मसल्स को हर एंगल से मूव कर सकते हैं.
Cool down after each walking session: हार्ट में किसी भी तरह का स्ट्रेस न होने दें और हर वॉकिंग सेशन के बाद पांच मिनट स्लो वॉक करें. इसके दौरान मसल्स को स्ट्रेच भी करते रहें.
Dos of walking
•लो-हील वाले और फिटिंग के शूज पहनें.
•थका हुआ महसूस करने पर थोड़ी देर रेस्ट कर लें.
•अच्छे रिजल्ट के लिए लम्बे स्टेप्स लें.
Don'ts of walking
•एक्सट्रीम हॉट और कोल्ड सिचुएशन में वॉक न करें.
•मील्स के तुरंत बाद तेज वॉक न करें.


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.