प्यास ने किया हलकान पब्लिक परेशान

2019-06-26T06:01:00Z

i concern

-दो सौ से अधिक घरों में बूंद-बूंद पानी की किल्लत, अधिकारियों भी नहीं दे पा रहे समाधान

-पीतांबर नगर तेलियरगंज के सैकड़ों घरों में पानी की कमी से लोग परेशान

PRAYAGRAJ: पूरा शहर बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहा है। कहीं नलों का पानी सूख गया है तो कहीं गंदे पानी की सप्लाई सिरदर्द बनी हुई है। ऐसा ही हाल पीतांबर नगर तेलियरगंज के शंकर घाट कोयला वाली गली का पिछले 48 घंटे से है। यहां पर नलों में पानी अचानक लापता हो गया है। दो सौ से अधिक घरों में पानी के लिए त्राहिमाम मचा हुआ है। भीषण गर्मी में परेशान लोगों ने इसकी शिकायत जल संस्थान से की तो वहां भी कोई हल नहीं निकल सका।

खोदकर देखने पर भी नहीं निकला हल

मोहल्ले के लोगों को पानी की सप्लाई ठप होने पर काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा। मंगलवार को परेशान लोगों ने इसकी शिकायत जल संस्थान के पास दर्ज कराई। मौके पहुंचे जूनियर इंजीनियर ने पानी की पाइपलाइन के आसपास खोदवाकर देखा लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। यह पता लगाना मुश्किल है कि आखिर घरों में पानी पहुंच क्यों नहीं रहा है। मोटर चलाने पर भी पानी नलों से नदारद है। पूरे दिन हजारों लोग पानी की तलाश में दर दर भटकते रहे। जल संस्थान ने बुधवार को समस्या का हल निकालने का आश्वासन दिया है। सतीश मिश्रा, त्रिभुवन, बैजनाथ पांडे, शिवाकांत, शिवाकांत तिवारी, एसपी यादव, प्रेमकांत पांडे आदि ने बताया कि बुधवार को पानी की आपूर्ति बहाल नही हुई तो बड़ी समस्या खड़ी हो जाएगी।

हर जगह है पानी का टोटा

यह केवल तेलियरगंज का हाल नहीं बल्कि शहर के तमाम इलाकों में पानी की सप्लाई बाधित चल रही है। खासकर शहर दक्षिण और पश्चिम के कई इलाकों में पानी नलों में नहीं आ रहा है। बहादुरगंज, मुट्ठीगंज, हटिया, चकिया, बेनीगंज, झलवा, कालिंदीपुरम सहित शहर उत्तरी के तमाम एरिया में पानी की सप्लाई आए दिन बाधित हो रही है। इसके उलट दर्जनों इलाकों में पानी बदबूदार और मटमैले रंग का आ रहा है। इसे पीने से तमाम बीमारियों का अंदेशा है। नागरिकों ने दूषित पानी की सप्लाई को लेकर नाराजगी भी जताई है।

बॉक्स

यहां कांग्रेसियों ने काटा बवाल

इसी क्रम में मंगलवार दोपहर बारह बजे नगर निगम स्थित नगर आयुक्त कार्यालय पर कांग्रेस शहर अध्यक्ष नफीस अनवर के आवाहन पर पार्टी कार्यकर्ता हाथ में कूड़ा और बदबूदार पानी लेकर पहुंचे थे। प्रदूषित पानी की सप्लाई से तंग आकर लोगों ने यह कदम उठाया। उन्होंने निगम परिसर में जमकर नारेबाजी की और नगर आयुक्त को बुलाने की जिद की। इस पर ज्ञापन लेने पहुंचे अपर नगर आयुक्त को भी कांग्रेसियों ने वापस कर दिया। शोरगुल और हंगामा बढ़ता देख नगर आयुक्त कांग्रेसियों से ज्ञापन लेने आए। इस पर कार्यकर्ताओं ने उन्हें बदबूदार पानी दिखाते हुए इसे पीने की जिद की। इस पर पुलिस ने उसे छीन लिया। इस बीच पुलिस और कांग्रेसियों के बीच बहस भी हुई। कार्यकर्ताओं का कहना था कि शहर की सफाई और जल अपूर्ति व्यवस्था ठप होने की कगार पर है। इस पर नगर आयुक्त ने ज्ञापन लेकर समस्याओं के जल्द निस्तारण का आश्वासन भी दिया।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.