West Bengal Polls पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पहले चरण के दौरान शनिवार दोपहर 3 बजे तक 55.27 प्रतिशत मतदान हुआ। इस दाैरान सीएम ममता ने लोगाें से ज्यादा से ज्यादा वोटिंग करने की अपील की।

कोलकाता (एएनआई / पीटीआई)। पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में होने विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए शनिवार सुबह मतदान शुरू हुआ। 30 निर्वाचन क्षेत्रों में 191 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करने के लिए सुबह 7 बजे शुरू हुआ मतदान राज्य में शाम 6:30 बजे संपन्न होगा। इस क्रम में दोपहर 3 बजे तक पश्चिम बंगाल में 55.27 प्रतिशत मतदान हुआ। मतदान केंंद्रों के आसपास कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। मतदान शुरू होने के साथ ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य के लोगों से बड़ी संख्या में मतदान करने का आह्वान किया। ममता ने ट्वीट किया, "मैं बंगाल के लोगों से आह्वान करती हूं कि वे बाहर आकर और बड़ी संख्या में मतदान करके अपने लोकतांत्रिक अधिकार का इस्तेमाल करें।

#WestBengalElections2021: Voting underway at booth number 67A in Patashpur assembly constituency, East Midnapore pic.twitter.com/pENvB8fq43

— ANI (@ANI) March 27, 2021


टीएमसी और बीजेपी के बीच सत्ता के लिए कड़ी टक्कर
बीजेपी और सत्तारूढ़ टीएमसी के बीच सत्ता के लिए कड़ी टक्कर देखी जा रही है। भाजपा के साथ यहां पर तृणमूल कांग्रेस भी जीत का परचम लहराने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। ममता बनर्जी ने अपने बयान घायल बाघिन और अधिक आक्रामक हो जाती की गवाही देने के लिए अभियानों में व्हीलचेयर पर बैठकर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को दुर्योधन और दुशासन तक कह डाला था।

বাংলার সকল মানুষকে আমি অনুরোধ করব নিজের গণতান্ত্রিক অধিকার প্রয়োগ করুন, সবাই আসুন, ভোট দিন।
I call upon the people of Bengal to exercise their democratic right by coming out and voting in large numbers.

— Mamata Banerjee (@MamataOfficial) March 27, 2021
पीएम मोदी भी पश्चिम बंगाल में लगातार रैलियां कर रहे
वहीं चुनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी पश्चिम बंगाल में लगातार रैलियां कर रहे हैं। अमित शाह, राजनाथ सिंह, योगी आदित्यनाथ सिंह भी चुनाव प्रचार में जुटे हैं। हाल ही में पीएम ने कहा था कि दीदी के राज में यहां हिंसा और बम धमाकों की खबरे आती है। धमाकों से पूरे-पूरे घर उड़ जाते हैं और दीदी की सरकार सिर्फ देखती रहती है। इस स्थिति को हमें मिलकर बदलना होगा। एक रैली में यह भी कहा कि आपने 70 साल तक अनेकों को अवसर दिया हमें 5 साल का मौका दीजिए।

Posted By: Shweta Mishra