भारत-पाक के बीच तनाव कम कराना जी 7 में रखे गए पांच प्रमुख मुद्दों में से एक, व्हाइट हाउस का बयान

Updated Date: Tue, 27 Aug 2019 03:33 PM (IST)

जी 7 समिट का आयोजन फ्रांस के बायरिट्ज शहर में 24 से 26 अगस्त के बीच किया गया था। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इस सम्मेलन में हिस्सा लेने के बाद वापस लौट आये हैं। इसी बीच व्हाइट हाउस ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने में मदद करना जी 7 समिट में अमेरिका द्वारा उठाए गए पांच प्रमुख मुद्दों में से एक है।


वाशिंगटन (पीटीआई)। व्हाइट हाउस ने सोमवार को अपने बयान में कहा कि जी 7 समिट में उठाए गए पांच प्रमुख मुद्दों में से एक मुद्दा भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव को कम करने में मदद करना भी था। बता दें कि जी 7 समिट का आयोजन फ्रांस के बायरिट्ज शहर में 24 से 26 अगस्त के बीच किया गया था। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इस सम्मेलन में हिस्सा लेने के बाद सोमवार को वापस अपने घर लौट आये हैं। व्हाइट हाउस ने सोमवार को कहा, 'जी 7 में जो पांच बड़े मुद्दे उठाये गए, उनमें 'एकता का संदेश देना', 'एक अरब डॉलर के व्यापार सौदे की सुरक्षा', 'अमेरिका-मेक्सिको-कनाडा समझौते (यूएसएमसीए) को बढ़ावा देना', 'यूरोप के साथ मजबूत व्यापार संबंध विकसित करना' और 'भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव कम करना' शामिल हैं।' ट्रंप ने पीएम मोदी का किया सपोर्ट
व्हाइट हाउस ने आगे कहा, 'भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी बैठक में राष्ट्रपति राष्ट्रपति ने भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत के मुद्दे पर जोर दिया और हमारे राष्ट्रों के बीच महान आर्थिक संबंध बनाने पर भी चर्चा की।' बता दें कि पीएम मोदी ने ट्रंप से बातचीत के दौरान कश्मीर मुद्दे पर किसी तीसरे देश की मध्यस्थता की गुंजाइश को खारिज करते कहा कि यह भारत और पाकिस्तान का एक द्विपक्षीय मुद्दा है और हम किसी तीसरे देश को परेशान नहीं करना चाहते हैं। ट्रंप ने पीएम मोदी के इस बयान के बाद उनका सपोर्ट भी किया। Amazon Fire: आग से निपटने के लिए जी 7 देशों ने किया 22 मिलियन डॉलर खर्च करने का ऐलान, ब्राजील ने ठुकराया पैसानियंत्रण में कश्मीर की स्थितिट्रंप ने मीडिया से बातचीत में कहा, 'हमने कल रात कश्मीर के बारे में बात की थी, प्रधानमंत्री मोदी को लगता है कि स्थिति उनके नियंत्रण में है और मुझे यकीन है कि वे कुछ ऐसा करना चाहते हैं, जो आगे चलकर बहुत अच्छा होगा। मेरे दोनों सज्जनों (मोदी और खान) के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं और मैं यहां हूं। मुझे लगता है कि वे इस मुद्दे को आपस में बातचीत करके हल कर सकते हैं।' इसके अलावा व्हाइट हाउस ने अपनी एक ट्वीट में बताया कि पीएम मोदी के साथ बातचीत में ट्रंप ने अफगानिस्तान में एक महत्वपूर्ण भागीदार के रूप में भारत की भूमिका को भी स्वीकार किया।

Posted By: Mukul Kumar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.