WHO ने कहा देश खत्म करें 'वैक्सीन राष्ट्रवाद', सुरक्षित दुनिया के लिए सबको मिले वैक्सीन

डब्ल्यूएचओ ने कहा कि देश अपने हित को ताक पर रखकर सबके लिए वैक्सीन उपलब्ध कराने पर ध्यान दें। क्योंकि जब तक दुनिया का हर व्यक्ति सुरक्षित नहीं होगा तब तक कोई भी सुरक्षित नहीं होगा।

Updated Date: Tue, 18 Aug 2020 06:18 PM (IST)

जिनेवा (राॅयटर्स)। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के चीफ टेड्रोस अधनोम घेब्रेयसस ने मंगलवार को कहा कि कोरोना वायरस वैक्सीन की उपलब्धता को लेकर राष्ट्र अपना स्वार्थ देख रहे हैं। जबकि कुछ अन्य अपने यहां वैक्सीन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के प्रयास में लगे हुए हैं। वैश्विक और रणनीतिक रूप से यह दुनिया के प्रत्येक देश के राष्ट्रीय हित से जुड़ा हुआ है।ल्टीलेटरल कोवैक्स वैक्सीन अभियान
डब्ल्यूएचओ चीफ का कहना था कि जब कि दुनिया में हर एक व्यक्ति सेफ नहीं हो जाता तब तक कोई भी सुरक्षित नहीं होगा। वे 'वैक्सीन नेशनलिज्म' खत्म करने को लेकर एक वर्चुअल ब्रीफिंग में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी डब्ल्यूएचओ सदस्यों को पत्र भेज कर उन्होंने मल्टीलेटरल कोवैक्स वैक्सीन अभियान के साथ जुड़ने के लिए कहा है। राॅयटर्स टैली के मुताबिक दुनिया भर में अभी तक 2.19 करोड़ लोग नोवल कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं और 772,647 मरीजों की संक्रमण से मौत हो चुकी है।

Posted By: Satyendra Kumar Singh
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.