टीम इंडिया की खुल गई पोल कौन कहेगा इसे नंबर 1 टीम

2013-12-09T16:13:01Z

फेल हुए वलर्ड के बेस्ट बल्लेबाज नहीं कर पाए 22 साल का रिकार्ड मैच और सीरीज दोनो गवाई

नंबर 1 टीम ने उड़वाया अपना मजाक
कुछ दिनों पहले तक घरेलू मैदान पर शेर की तरह दहाड़ रहे इंडियाीय युवा बल्लेबाजों की विदेशी धरती पर पहुंचते ही घिग्घी बंध गई है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ रविवार को दूसरे वनडे में भी इंडियन टीम को शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा. दक्षिण अफ्रीकी टीम ने अपने सलामी बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक (106) और हाशिम अमला (100) के शानदार शतकों की बदौलत निर्धारित 49 ओवर में इंडिया के सामने 281 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसका पीछा करने उतरी वनडे की नंबर एक टीम महज 35.1 ओवर में 146 रन पर ही सिमट गई. 134 रन की धमाकेदार जीत के साथ दक्षिण अफ्रीका ने तीन मैचों की वनडे सीरीज में 2-0 से अजेय बढ़त ले ली और 22 साल में पहली बार अफ्रीकी धरती पर कोई वनडे सीरीज जीतने की हसरत लिए दौरे पर पहुंची इंडियाीय टीम के इंतजार को और बढ़ा दिया.


विराट, शिखर और रोहित की तिकड़ी हुई फुस्स

इंडियाीय टीम के बल्लेबाज एक बार फिर स्टेन एंड कंपनी के सामने बेबस नजर आए. दस ओवर के भीतर केवल 34 रन पर इंडिया ने अपने शीर्ष चार बल्लेबाज धवन (00), कोहली (00), रोहित (19) और रहाणे (08) के विकेट गंवा दिए. रैना (36), जडेजा (26) ने मिलकर इंडिया के स्कोर को सौ के पार पहुंचाया. मेजबान टीम की तरफ से सोतसोबे ने चार विकेट, स्टेन ने तीन और मोर्केल ने दो विकेट झटके.

पहले विकेट के लिए तरस गए

इससे पहले मैदान गीला होने के कारण टॉस देरी से हुआ जिसके कारण मैच में एक ओवर की कटौती की गई थी. इंडियाीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला लिया. दक्षिण अफ्रीका ने अमला और डिकॉक के पहले विकेट के लिए 194 रनों की साझेदारी कर अपनी टीम को मजबूत शुरुआत दी. डिकॉक ने 118 गेंदों में नौ चौके लगाकर 106 रन और अमला ने 117 गेंदों में आठ चौके जड़कर 100 रन बनाए.

इशांत और उमेश का विक्लप भी हुआ बेअसर

इंडियाीय टीम इस बार भी गेंदबाजी में कुछ खास कमाल नहीं कर सकी. हालांकि पिछले मैच से सबक लेते हुए कप्तान धौनी ने सीरीज में बने रहने के लिहाज से इस मुकाबले के लिए गेंदबाजी विभाग में कुछ बदलाव किए. उन्होंने भुवनेश्वर कुमार और मोहित शर्मा की जगह अनुभवी इशांत शर्मा और उमेश यादव को मौका दिया. लेकिन ये दोनों गेंदबाज भी कुछ अंतर पैदा नहीं कर सके. मुहम्मद शमी सर्वाधिक तीन विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबाज रहे. रवींद्र जडेजा ने किफायती गेंदबाजी करते हुए एक विकेट लिया.

जमकर दहाड़े अफ्रीकी शेर

डिकॉक लगातार दूसरा शतक लगाने के बाद ज्यादा देर टिक नहीं सके और आर अश्विन की गेंद पर रोहित शर्मा को कैच थमा बैठ. डिकॉक के जाने के बाद बल्लेबाजी करने उतरे कप्तान एबी डिविलियर्स (3) को रवींद्र जडेजा ने जल्दी चलता कर टीम को बड़ी राहत दिलाई. अमला भी शतक पूरा करते ही शमी की गेंद पर विकेट के पीछे लपक लिए गए. इसी ओवर में समी ने डेविड मिलर को बिना खाता खोले पवेलियन लौटा दिया. जेपी डुमिनी (26) और जैक कैलिस (10) भी बहुत देर क्रीज पर टिक नहीं सके. इस बीच लगातार विकेट गिरने के कारण दक्षिण अफ्रीका का रन औसत काफी गिर गया. मेजबान बल्लेबाज 36वें ओवर में पहला विकेट गिरने से लेकर 45वें ओवर तक कुल 10 ओवरों में 4.4 के औसत से 44 रन ही बना सके. हालांकि आखिरी चार ओवरों में जरूर 41 रन बन गए, जिसमें आखिरी ओवर में बना 20 रन भी शामिल है.
Hindi news from Sports news desk, inextlive



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.